ताज़ा खबर
 

मोदी-शी चिनफिंग में हुई वार्ता, भारत ने घुसपैठ को लेकर चिंता से कराया अवगत

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने आज वार्ता की जिसमें भारतीय पक्ष ने चीनी घुसपैठ को लेकर अपनी चिंताएं व्यक्त की। दोनों देशों ने साथ ही अपने द्विपक्षीय संबंधों के लिहाज से महत्व रखने वाले सभी ‘ठोस मुद्दों’ पर चर्चा की।  संबंधित खबरेंपूर्व केंद्रीय मंत्री और कट्टर आलोचक से मिलने अस्पताल […]

Author Updated: September 18, 2014 1:16 PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने आज वार्ता की जिसमें भारतीय पक्ष ने चीनी घुसपैठ को लेकर अपनी चिंताएं व्यक्त की। दोनों देशों ने साथ ही अपने द्विपक्षीय संबंधों के लिहाज से महत्व रखने वाले सभी ‘ठोस मुद्दों’ पर चर्चा की।

 

मोदी और शी ने पहले सीमित प्रारूप में बातचीत की और फिर उनके बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई जिनमें दोनों नेताओं ने व्यापार एवं निवेश के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सहयोग पर भी चर्र्चा की।

मोदी ने कल शी के आगमन के बाद अहमदाबाद में उनके लिए एक निजी रात्रिभोज की मेजबानी की थी।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री ने कल रात और आज भी चीनी घुसपैठ का मुद्दा उठाया।

जम्मू-कश्मीर के चुमार इलाके में चीन की घुसपैठ को देखते हुए इस मुद्दे का महत्व बढ़ गया है।

चीनी सेना ने आज तड़के वास्तविक नियंत्रण रेखा से लगे चुमार गांव में और सैनिक भेजे हैं।

सूत्रों ने कहा कि चीनी सेना ने कल सुबह भी और सैनिक भेजे थे। इस तरह यहां पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के सैनिकों की संख्या करीब 500 हो गयी है जो भारतीय सेना के जवानों की संख्या के बराबर है।

चुमार लेह से उत्तरपूर्र्व में 300 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और हिमाचल प्रदेश की सीमा से लगा है। यह जगह दोनों पक्षों के बीच तनातनी का केंद्र है क्योंकि चीनी पक्ष इलाके में भारत के प्रभुत्व को खत्म करने की कोशिशों में लगा हुआ है।

दमचोक में तनातनी जारी है जहां चीनी खानाबदोश रेबोस ने अपने तंबू लगा लिए थे। चीनी पक्ष इस इलाके में भारतीय क्षेत्र में करीब 500 मीटर भीतर घुस आया है।

(भाषा)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X