ताज़ा खबर
 

फैबइंडिया के शीर्ष अधिकारी ने गोवा पुलिस को दर्ज कराया बयान

फैबइंडिया के सीईओ और एमडी सहित शीर्ष अधिकारी शोरूम में गुप्त कैमरा लगाए जाने के मामले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए आज गोवा पुलिस के समक्ष पेश हुये। मामले में समन जारी होने के बाद फैबइंडिया के प्रबंध निदेशक विलियम बिसेल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुब्रत दत्त, क्षेत्रीय प्रबंधक रूचिरा पुजारी, विपणन प्रमुख रामू […]

Author April 10, 2015 6:15 PM
स्मृति ने अपने अमेठी दौरे पर तिलोई क्षेत्र के राजा फत्तेपुर गांव में संवाददाताओं से कहा कि नेहरू-गांधी परिवार की तीन पीढ़ियों ने अमेठी के लिये कुछ खास काम नहीं किया।

फैबइंडिया के सीईओ और एमडी सहित शीर्ष अधिकारी शोरूम में गुप्त कैमरा लगाए जाने के मामले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए आज गोवा पुलिस के समक्ष पेश हुये। मामले में समन जारी होने के बाद फैबइंडिया के प्रबंध निदेशक विलियम बिसेल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुब्रत दत्त, क्षेत्रीय प्रबंधक रूचिरा पुजारी, विपणन प्रमुख रामू चंद्रा, दुकान के प्रभारी कुन्दन गुप्ता, ई-कॉमर्स प्रमुख अरूण नैकर और कैटेगरी प्रमुख आशिमा अग्रवाल आज सुबह जांच अधिकारी के समक्ष पेश हुये।

मापुसा की जिला अदालत ने सभी सातों अधिकारियों को कल अंतरिम जमानत दे दी थी और उन्हें जांच के लिए अपराध शाखा के समक्ष पेश होने का आदेश दिया था। अपराध शाखा न्यायाधीश के समक्ष अपनी रिपोर्ट पेश करने में असफल रही इस वजह से अदालत ने अगली सुनवाई के लिए 23 अप्रैल की तिथि तय की। जिला अदालत ने इस सप्ताह के शुरू में फैबइंडिया के कैंडोलिम स्थित शोरूम की प्रबंधक चैत्राली सावंत को अंतरिम जमानत दे दी थी। चैत्राली से अपराध शाखा ने बुधवार को पूछताछ की थी।

पिछले सप्ताह गोवा के नजदीक स्थित कैंडोलिम में कंपनी के एक शोरूम पहुंची केन्द्रीय मानव संसाधान विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने वहां ट्रायल रूम की ओर केंद्रित एक सीसीटीवी कैमरा लगाये जाने का आरोप लगाया था जिसके बाद फैबइंडिया के चार कर्मचारियों के खिलाफ गोवा पुलिस ने एक मामला दर्ज किया था। चारों कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया और उनके खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। बाद में उन्हें जमानत दे दी गयी थी।

फैबइंडिया ने अपने किसी भी स्टोर में गुप्त कैमरा लगाये जाने से इंकार किया था और कहा था कि जिस कैमरा को लेकर सवाल उठाया गया है वह निगरानी के लिए लगाया गया था।

For Updates Check Hindi News; follow us on Facebook and Twitter

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App