ताज़ा खबर
 

योगी आदित्यनाथ की कुर्सी पर कई नेताओं की नज़र, वही उड़ा रहे यूपी में सीएम बदलने की अफ़वाह!

रविवार को भारतीय जनता पार्टी  के प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह ने भी राज्यपाल से मुलाकात के बाद किसी भी तरह के नेतृत्व परिवर्तन की बात से इनकार किया था। 

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (फोटोः ANI)

उत्तर प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के बार-बार इनकार के बावजूद पार्टी के सत्ता गलियारों में अटकलों का दौर थम नहीं रहा है। बीजेपी के सूत्रों के अनुसार इसके पीछे उनका हाथ है जिनकी नजर योगी आदित्यनाथ की कुर्सी पर है।  योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के भी कुछ नेता सीएम पद पर नजर गड़ाए हुए हैं।

मुख्यमंत्री बनने की चाहत रखने वाले ऐसे नेता अब चुनाव से पहले संभावना तलाशने की कोशिश कर रहे हैं। लखनऊ में बदलाव की अफवाह  और केंद्र में लंबे समय से लंबित कैबिनेट फेरबदल को लेकर चल रही चर्चाओं ने महामारी और अन्य मुद्दों से लोगों का ध्यान हटा दिया है। बताते चलें कि रविवार को भारतीय जनता पार्टी  के प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह ने भी राज्यपाल से मुलाकात के बाद किसी भी तरह के नेतृत्व परिवर्तन की बात से इनकार किया था।

सिंह ने राज्यपाल से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से बातचीत में नेतृत्व परिवर्तन की संभावना संबंधी सवाल पर कहा था कि ऐसा कुछ नहीं है। उत्तर प्रदेश सरकार और संगठन बहुत मजबूती के साथ चल रहे हैं। देश के अंदर सबसे मजबूत संगठन और सबसे लोकप्रिय सरकार उत्तर प्रदेश में ही काम कर रही है।”

राज्यपाल से मुलाकात के कारण के बारे में भाजपा उपाध्यक्ष ने बताया कि पार्टी का उत्तर प्रदेश प्रभारी बनने के बाद अभी तक राज्यपाल से मुलाकात नहीं हो पाई थी, इसीलिए वह मिलने चले आए। इस सवाल पर कि यह मुलाकात कहीं प्रदेश मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर तो नहीं हुई, सिंह ने कहा “यह एक औपचारिक और व्यक्तिगत भेंट थी।”

मंत्रिमंडल में कई पद खाली होने संबंधी सवाल पर भाजपा उपाध्यक्ष ने कहा, “पद खाली हैं लेकिन यह कोई बहुत बड़ा मुद्दा नहीं है। खाली पदों को लेकर मुख्यमंत्री उचित समय पर अपना निर्णय लेंगे।” उप्र में मंत्रिमंडल का विस्तार जल्‍द होने संबंधी सवाल पर राधा मोहन सिंह ने  कहा कि अभी कुछ नहीं होने वाला है और सभी का ध्यान जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव पर है और जब यह (मंत्रिमंडल का विस्तार) होगा तो सभी को पता चल जाएगा।

सिंह ने मोदी और आदित्यनाथ के बीच कथित अनबन की खबरों को भी खारिज कर दिया था उन्होंने कहा था कि यदि आप समाचार पत्रों को देखें, तो आप देखेंगे कि मोदी-जी ने सबसे पहले योगी-जी को (उनके जन्मदिन पर) बधाई दी थी। वास्तव में हमारा मानना ​​है कि मोदी जी के सपनों को पूरा करने के लिए योगी जी सबसे सक्षम व्यक्ति हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने तय किया है कि पूरे प्रदेश में पार्टी के सांसद, विधायक, आयोग और निगमों के अध्यक्ष प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को गोद लेंगे और यह भी प्रयास होगा कि स्‍वयंसेवी संस्‍थाओं और अन्य प्रतिष्ठित व्यक्ति भी इस कार्य में सहयोग करें।

Next Stories
1 बांग्लादेश कभी खुद था गरीब, अब भारत-PAK को छोड़ दिया पीछे! कांग्रेसी दिग्विजय बोले- मोदी जी, पड़ोसी से कुछ शिक्षा लो…
2 ‘हार से भी सीखिए’, चुनाव के मद्देनजर BJP नेताओं से बोले PM मोदी; मंथन के दौरान दिए ये सुझाव
3 कोरोनाः ‘जनसंहारी दौर’ का जिक्र कर बोले रवीश कुमार- लोग वहीं घूम-फिर कर पहुंच गए, कितने मरे किसी को पता नहीं
ये  पढ़ा क्या?
X