ताज़ा खबर
 

विदेश दौरे पर सुषमा स्वराज, 14 मिनट तक रडार से गायब रहा केंद्रीय मंत्री का विमान

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पांच दिन के विदेश दौरे पर हैं। शनिवार (2 जून) को जिस वीवीआईपी विमान से वह त्रिवेंद्रम से रवाना हुईं उसका संपर्क मॉरीशस एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीएस) से करीब 15 मिनट टूटा रहा जिससे अधिकारियों में हड़कंप मच गया।

तस्वीर को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के द्वारा ट्वीट किया गया।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पांच दिन के विदेश दौरे पर हैं। शनिवार (2 जून) को जिस वीवीआईपी विमान से वह त्रिवेंद्रम से रवाना हुईं उसका संपर्क मॉरीशस एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीएस) से करीब 12-14 मिनट टूटा रहा जिससे अधिकारियों में हड़कंप मच गया। चूंकि यह एक अतिविशिष्ट मेघदूत विमान था इसलिए 14 मिनट में ही मॉरीशस ने अलर्ट भी जारी कर दिया। हालांकि, मॉरीशस एटीएस अधिकारियों के मुताबिक, थोड़ी देर बाद सुषमा स्वराज के विमान से फिर से संपर्क हो गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एयरपोर्ट अथॉरिटी ने बताया कि ऐसा अलर्ट आमतौर पर समंदर के ऊपर 30 मिनट तक ऐसी ही स्थिति बनने पर जारी किया जाता है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने बताया कि मेघदूत के पायलट ने मॉरीशस के हवाई क्षेत्र में होने के बावजूद एटीसी ये संपर्क नहीं साधा था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुषमा स्वराज भारतीय वायुसेना के IFC31 विमान में सवार थीं। इस घटना के बारे में हलांकि विदेश मंत्रालय ने जानकारी न होने से इनकार किया। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने प्रेस रिलीज कर घटना की जानकारी दी।

बता दें कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अपने विदेश दौरे में ब्रिक्स और इब्सा समूह के देशों के मंत्री स्तरीय सम्मेलन में हिस्सा लेंगी। विदेश मंत्री दक्षिण अफ्रीका में महात्मा गांधी को ट्रेन के डब्बे से बाहर निकाले जाने की घटना की याद में वहां होने वाले कई कार्यक्रमों में भी शिरकत करेंगी। विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, सुषमा स्वराज अपनी इस यात्रा के दौरान दक्षिण अफ्रीका के शीर्ष नेताओं से मुलाकात कर सकती हैं। सुषमा स्वराज 4 जून को ब्राजील, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका (ब्रिक्स) के विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेंगी। साथ ही, वह भारत, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका के विदेश मंत्रियों की बैठक की अध्यक्षता करेंगी। वह 6 जून को दक्षिण अफ्रीका की विरासत फीनिक्स उपनिवेश का दौरा करेंगी, जहां महात्मा गांधी का आवास था।

सुषमा स्वराज महात्मा गांधी को ट्रेन के डब्बे से उतार देने की घटना की 125वीं बरसी पर अफ्रीका के पीटरमारित्जबर्ग में 6-7 जून को आयोजित होने वाले कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगी। वर्ष 2018 भारत-दक्षिण अफ्रीका के रिश्तों के लिए अहम है, क्योंकि दोनों देशों के बीच कूटनीतिक संबंध के 25 साल पूरे हो रहे हैं। साथ ही, महात्मा गांधी को पीटरमारित्जबर्ग में ट्रेन से उतारने की घटना की 125वीं बरसी है। इसके अलावा यह दक्षिण अफ्रीका के महान नेता नेल्सन मंडेला की भी 100वी जयंती का साल है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App