ताज़ा खबर
 

तीन महीने बाद संसद लौटीं सुषमा स्वराज, लोकसभा स्पीकर बोलीं- काफी दिनों बाद सुनने को मिली दमदार आवाज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का 10 दिसंबर 2016 को किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था।

पति कौशल स्वराज के साथ सुषमा स्वराज। ( Photo Source: Indian Express/File)

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज किडनी की सर्जरी के बाद बुधवार को संसद लौटीं हैं। सुषमा स्वराज ने अमेरिका में भारतीयों पर हो रहे हमले का मुद्दा लोकसभा में उठाया। विदेश मंत्री के वापस लौटने पर लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि काफी दिनों बाद दमदार आवाज सुनने को मिली। स्पीकर ने कहा, ‘हमें काफी दिनों बाद आपकी दमदार आवाज सुनने को मिली है। हमें बहुत अच्छा लगा।’ सदन को संबोधित करते हुए सुषमा स्वराज ने कहा, ‘मैंने श्रीनिवास कुचीभोटला और दीप राय के परिवार से बात की। इसके अलावा मैंने इन मुद्दों को अमेरिका में उच्च प्रशासनिक अधिकारियों के सामने भी उठाया है।’

साथ ही उन्होंने कहा, ‘अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सहित अमेरिका के प्रशासन ने इन घटनाओं की निंदा की है। यूएस के सेक्रेट्री जॉन केरी ने भी अमेरिका में भारतीयों पर हमले की निंदा की है। अमेरिकी प्रशासन इन मामलों की जांच कर रहा है और भारतीयों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहा है।’

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सवाल किया था कि इन हमलों पर सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुप्पी क्यों साधी हुई थी। इस पर विदेश मंत्री ने कहा कि यह संभव ही नहीं है कि सरकार ऐसे मुद्दों पर चुप रहे। पीएम मोदी चुनाव में बिजी थे, लेकिन इसके बावजूद से इस मुद्दे नजर बनाए हुए थे। भारतीयों की सुरक्षा सरकार की पहली प्राथमिकता है। साथ ही सुषमा ने कहा है कि उन्होंने अपनी व्यक्तिगत क्षमता के मुताबिक भी वह सब किया जो वह कर सकती थीं। इसके लिए पीड़ित परिवारों ने उनकी और सरकार की कोशिशों की तारीफ भी की है।

बता दें, सुषमा स्वराज की 10 दिसंबर के दिल्ली के एम्स में किडनी ट्रांसप्लांट हुई थी। इसके बाद से वे घर पर आराम कर रही थीं, लेकिन उस दौरान भी वे काम कर रही थीं। जब वे अस्पताल में भर्ती थीं, तब भी काफी सक्रिय थीं।

वीडियो- अमेरिका: कानसस के बार में भारतीय की गोली मारकर हत्या, 2 जख्मी

वीडियो- तेलंगाना के रहने वाले 26 साल के युवक की अमेरिका में हत्या

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App