ताज़ा खबर
 

जनसत्ता.कॉम देश की नंबर वन ह‍िंदी वेबसाइट

कॉमस्कोर द्वारा जारी अक्टूबर 2017 के आंकड़ों के मुताबिक जनसत्ता.कॉम 3.4 मिलियन यूनिक विजिटर्स (डेस्कटॉप) के साथ पिछले 12 महीनों में करीब 400 फीसदी की उछाल दर्ज करते हुए देश का नंबर वन हिन्दी पोर्टल बन गया है।

जनसत्ता.कॉम देश की नंबर वन ह‍िंदी वेबसाइट बन गई है।

जनसत्ता.कॉम देश की नंबर वन ह‍िंदी वेबसाइट बन गई है। कॉमस्कोर द्वारा जारी सितंबर के आंकड़ों में जनसत्ता.कॉम नंबर दो पर था लेकिन अगले ही महीने उम्दा प्रदर्शन करते हुए यह पोर्टल अब देश का नंबर वन हिन्दी पोर्टल बन गया है। इसके संपादक विजय कुमार झा ने बताया, “देश के हिन्दी पट्टी समेत पूरे विश्व में ‘जनसत्ता’ एक पसंदीदा ब्रांड है। पाठकों से इसका जुड़ाव बड़ा गहरा है। हमारी राजनीतिक रपटें और हिन्दी साहित्य पर लगातार दी जाने वाली खबरें हिन्दी जगत के सुधी पाठकों द्वारा हमेशा सराही जाती रही हैं। ऐसा हमारे ब्रांड की साख और राजनीतिक खबरों का सटीक कवरेज होने की वजह से है। यही वजह है कि बहुत ही कम समय अंतराल में पाठकों तक इसकी न केवल पहुंच बढ़ी है बल्कि यह डेस्कटॉप पर पढ़ी जानेवाली देश की नंबर वन हिन्दी वेबसाइट भी बन गई है।”

इंटरनेशनल एडवर्टाइजिंग एसोसिएशन के इंडिया चैप्टर के प्रेसिडेन्ट रमेश नारायण ने कहा, “मैं पिछले 25 सालों से जनसत्ता से जुड़ा रहा हूं। यह बहुत ही ताकतवर न्यूज ब्रांड रहा है। डिजिटल दुनिया में इसकी आशचर्यजनक छलांग और डिजिटल माध्यम में आज की तारीख में इसके अगुआ बन जाने पर बहुत ही आनंदित और रोमांचित महसूस कर रहा हूं।”

इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर अनंत गोयनका ने कहा, “जनसत्ता.कॉम की टीम पर मुझे गर्व है जिसका नेतृत्व विजय झा संपादक के तौर पर कर रहे हैं।” उन्होंने कहा, “हमें पता है कि आज के दौर में इस मार्केट में मुकाबला कितना कड़ा है और एक छोटी सी टीम के बल पर यह उपलब्धि हासिल कर लेना उस मिथक को झुठलाता है कि हिन्दी डिजिटल मार्केट में ट्रैफिक पाने के लिए खबरों की गुणवत्ता से समझौता करना पड़ता है।”

कॉमस्कोर द्वारा जारी अक्टूबर 2017 के आंकड़ों के मुताबिक जनसत्ता.कॉम 3.4 मिलियन यूनिक विजिटर्स (डेस्कटॉप) के साथ पिछले 12 महीनों में करीब 400 फीसदी की उछाल दर्ज करते हुए देश का नंबर वन हिन्दी पोर्टल बन गया है। पिछले महीने भास्कर.कॉम के बाद जनसत्ता.कॉम दूसरी सबसे बड़ी हिन्दी वेबसाइट थी लेकिन अब जनसत्ता.कॉम के बाद दूसरे नंबर पर आजतक.कॉम (2.8 मिलियन यूवी), तीसरे नंबर पर भास्कर.कॉम (1.9 मिलियन यूवी) आ गया है। चौथे नंबर पर नवभारत टाइम्स.कॉम (1.5 मिलियन यूवी),पांचवें नंबर पर अमर उजाला.कॉम (1.2 मिलियन यूवी) और छठे नंबर पर हिन्दुस्तान लाइव.कॉम (0.5 मिलियन यूवी) है। जनसत्ता अखबार दिल्ली, कोलकाता, लखनऊ और चंडीगढ़ से प्रकाशित होता है।

द इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप देश के सबसे बड़े डिजिटल न्यूज प्लैटफॉर्म में से एक है। ग्रुप की अंग्रेजी वेबसाइट इंडियन एक्सप्रेस.कॉम, टाइम्स ऑफ इंडिया.कॉम के बाद देश की दूसरी सबसे बड़ी अंग्रेजी न्यूजपेपर वेबसाइट है। समूह के मराठी अखबार की वेबसाइट लोकसत्ता.कॉम लगातार 12 महीनों से मराठी भाषा में डेस्कटॉप और मोबाइल पर देश का सबसे बड़ा पोर्टल है। इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप के बिजनेस अखबार फाइनेन्शियल एक्सप्रेस की वेबसाइट फाइनेन्शियलएक्सप्रेस.कॉम भी मल्‍टीप्‍लैटफॉर्म रैंक‍िंग में इकनोमिक टाइम्स.कॉम के बाद दूसरा सबसे बड़ा ब‍िजनेस न्‍यूज पोर्टल बन गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App