ताज़ा खबर
 

भ्रष्टाचार केसः AIADMK से निष्कासित शशिकला 4 साल बाद जेल से रिहा

शशिकला के वकील राजा सेंथूर पंडियन ने बताया- सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं। वह अब सभी कानूनी फॉर्मैलिटीज से मुक्त कर दी गई हैं। हालांकि, वह फिलहाल डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में ही रहेंगी।

Sasikala Pushpaशशिकला पुष्पा। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः प्रेमनाथ पांडे)

AIADMK की निष्कासित नेता वी के शशिकला संपत्ति से जुड़े एक मामले में चार साल की कैद की सजा पूरी करने पर रिहा की गईं। यह जानकारी बुधवार को अधिकारियों ने बेंगलुरु में दी। अस्पताल के बाहर शशिकला के समर्थकों की भीड़ थी और वह अपनी नेता के पक्ष में नारे लगा रहे थे। समर्थकों ने इस दौरान मिठाइयां भी बांटी।

Bangalore Medical College के बयान के मुताबिक, शशिकला को आधिकारिक तौर पर सुबह 11 बजे रिहा किया गया। उन्हें Victoria Hospital में 21 जनवरी को शिफ्ट किया गया था। वह वहां पर कोरोना वायरस पॉजिटिव पाई गई थीं। प्रोटोकॉल के हिसाब से उन्हें अगर वह लक्षणमुक्त हो गईं और बगैर ऑक्सीजन के बगैर तीन दिन रह लेती हैं, तब उन्हें 10वें दिन डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

शशिकला के वकील राजा सेंथूर पंडियन ने बताया- सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं। वह अब सभी कानूनी फॉर्मैलिटीज से मुक्त कर दी गई हैं। हालांकि, वह फिलहाल डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में ही रहेंगी।

Sasikala, BJP, India News उन्होंने दो फरवरी 2020 को BJP ज्वॉइन कर ली थी। नई दिल्ली स्थित भाजपा दफ्तर में मुरलीधरण ने उन्हें पार्टी सदस्यता दिलाई थी। (एक्सप्रेस फोटोः प्रेमनाथ पांडे)

पूर्व AIADMK नेत्री को ऐसे वक्त पर रिहा किया गया है, जब तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ईके पलानीस्वामी ने 79 करोड़ रुपए से मरीना बीच पर तैयार हुए जयललिता के मेमोरियल का उद्घाटन किया।

शशिकला, तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता की करीबी मित्र शशिकला आय से अधिक 66 करोड़ रुपए की संपत्ति मामले में फरवरी 2017 से यहां पारापन्ना अग्रहारा के केन्द्रीय कारागार में बंद थीं।

Next Stories
1 बोले BJP सांसद- लाल किले में ड्रामे के पीछे PMO के करीबी भाजपा नेता का भी हाथ- बात सच या झूठ, पता करें
2 ट्रैक्टर परेडः टिकरी पर भी आगबबूला हुए किसान! बोले- महीनों तक यहां बॉर्डर पर बैठने को नहीं आए हैं
3 ट्रैक्टर परेड केसः 22 FIR, बोले BJP के पात्रा- जिन्हें कह रहे थे ‘अन्नदाता’, वे हो गए चरमपंथी; Shivsena ने कहा- बवाल मोदी सरकार के अहंकार का नतीजा
ये पढ़ा क्या?
X