ताज़ा खबर
 

बर्खास्‍त माकपा नेता पर धोखे से सेक्‍स करने का आरोप, एमएनसी पूर्व इग्‍जेक्‍युटिव ने किया केस

महिला ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और केंद्रीय महिला एवं बाल कल्याण मंत्री मेनका गांधी को टैग करते हुए ऋतब्रता बनर्जी पर आरोप लगाया था।

Author Updated: October 11, 2017 12:51 PM
ritabrata banerjee, cpm leaderसीपीएम के पूर्व नेता ऋतब्रता बनर्जी ने भी कुछ समय पहले महिला के खिलाफ ब्लैकमेल करने का शिकायत दर्ज करायी थी।

एक 30 वर्षीय रिसर्च स्कॉलर ने मंगलवार (10 अक्टूबर) को कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सवादी) (सीपीएम) से निकाल जा चुके नेता ऋतब्रत बनर्जी पर यौन शोषण का मामला दर्ज कराया। रिसर्च स्कालर ने दावा किया है कि सीपीएम के पूर्व नेता ने उससे शादी का झांसा देकर शारीरिक सम्बन्ध बनाए। रिसर्च स्कॉलर ने मंगलवार को मीडिया से कहा कि शादी का वादा न निभाना बलात्कार करने जैसा है। महिला ने पहले ट्विटर पर इस मामले को उजागर किया था। मंगलवार को पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले के बालुरघाट थाने में महिला ने पुलिस एफआईआर दर्ज करायी। इससे पहले राज्य सभा सांसद बनर्जी ने गारफा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करायी थी कि उन्होंने महिला को स्टूडेंट लोन दिलाने में मदद की थी और बाद में वो उन्हें ब्लैकमेल करने लगी। बनर्जी के अनुसार महिला का आरोप राजनीति से प्रेरित है और वो उन्हें बदनाम करना चाहती है।

रविवार को बनर्जी ने छह सितंबर को  महिला के खिलाफ की गयी शिकायत की प्रति और व्हाट्सऐप पर दोनों के बीच हुई कथित बातचीत का एक स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है। स्क्रीनशॉट में पीड़िता कथित तौर पर एफआईआर न करने के एवज में 50 लाख रुपये मांगती बतायी गयी हैं। बनर्जी ने ट्विटर पर लिखा कि उन पर लगे आरोप “झूठे” हैं और वो राजनीति से प्रेरित “धमकियों” के आगे नहीं झुकेंगे। मंगलवार को बनर्जी ने इंडियन एक्सप्रेस को फोन का जवाब नहीं दिया।

महिला ने पुलिस में दर्ज करायी शिकायत में दावा किया है कि बनर्जी ने अपने सांसद कोटा से हवाईहजाज का टिकट आरक्षित करवा कर उसे दिल्ली बुलाया, उसे ऐपल वाच उपहार में दी। महिला के इन दावों के बाद ही पिछले महीने सीपीएम ने बनर्जी को पार्टी से निकाल दिया था।  पार्टी ने उन्हें “पार्टी विरोधी गतिविधियों”, मीडिया को सूचना लीक करने और “आय से अधिक विलासिता पूर्ण जीवन शैली” के लिए निष्कासित कर दिया।

आरोप लगाने वाली महिला ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “मैं ऋतब्रता से ट्विटर पर साल 2016 में मिली थी…मैं उस समय एक प्रतिष्ठित एमएनसी  में सॉफ्टवेयर डेवलपर के तौर पर काम करती थी। अक्टूबर में उन्होंने सांसद कोटा से मेरा बेंगलुरु से दिल्ली का टिकट कराया। मैं उनके सांसद आवास में रुकी। वो मेरे करीब आ गये और हमारे बीच शारीरिक संंबंध बन गये। उन्होंने मुझसे शादी करने का वादा किया। वो मेरे बेंगलुरु स्थित घर भी आये और तीन दिन तक रुके।” महिला ने दावा किया कि बनर्जी ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करके उसे स्टूडेंट लोन दिलवाया। महिला ने दावा किया, “जब मैं हॉलैंड में थी तो वो मुझसे मिलने आना चाहते थे। मैंने उनके लिए हवाईजहाज का टिकट खरीदा।” महिला ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और केंद्रीय महिला एवं बाल कल्याण मंत्री मेनका गांधी को टैग करते हुए बनर्जी पर आरोप लगाया था। महिला ने बनर्जी के साथ अपनी तस्वीर भी ट्विटर पर शेयर की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 वन्य जीवों और वन संपदा की तस्करी बढ़ी, नेपाल व भूटान तस्करों की पनाहगाह
2 RSS में मह‍िलाओं को शॉर्ट्स पहने देखा? राहुल गांधी ने पूछा सवाल तो BJP ने की माफी की मांग, कांग्रेस बोली- सही कहा है
3 राहुल के बयान पर आनंदीबेन का पलटवार, “महिलाओं के कपड़े देखना ही है कांग्रेस का संस्कार”
यह पढ़ा क्या?
X