ताज़ा खबर
 

इंदिरा गांधी के कहने पर बने थे कांग्रेसी, पार्टी पर आरोप लगा छोड़ा था दामन; अब अम्मार रिजवी BJP में शामिल

रिजवी ने कहा कि वह प्रधानमंत्री मोदी के काम करने की शैली के काफी पहले से मुरीद रहे हैं। रिजवी ने बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव अरुण सिंह की मौजूदगी में बीजेपी का दामन थामा।

Author नई दिल्ली | Updated: October 23, 2019 7:31 PM
कांग्रेस की सरकार में पांच बार मंत्री रहे अम्मार रिजवी ने बीजेपी का दामन थाम लिया है।(फोटो-ANI)

कांग्रेस के पूर्व कद्दावर नेता और उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक मुख्यमंत्री रह चुके डॉ. अम्मार रिजवी ने बुधवार को बीजेपी का दामन थाम लिया। बुधवार को बीजेपी में शामिल होने के बाद रिजवी ने कहा कि वह अल्पसंख्यकों के बीच बीजेपी के प्रति गलतफहमी और संशय को दूर करने के लिए काम करेंगे। रिजवी उत्तर प्रदेश की राजनीति में बड़ा नाम माने जाते हैं, वह पांच बार कांग्रेस शासन में मंत्री रहे हैं।

रिजवी ने कहा कि वह प्रधानमंत्री मोदी के काम करने की शैली के काफी पहले से मुरीद रहे हैं। रिजवी ने जब बीजेपी का दामन थामा तो पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अरुण सिंह वहां मौजूद थे। बताया जा रहा है कि उन्होंने कांग्रेस इसलिए छोड़ दी थी क्योंकि वह इस लोकसभा चुनाव में टिकट ना मिलने की वजह से खफा थे और इस चुनाव में उन्होंने राजनाथ सिंह को अपना समर्थन दिया था।

रिजवी ने कांग्रेस छोड़ने को लेकर कहा था कि पार्टी में उनकी अनदेखी की जा रही है और दल-बदलू नेताओं को तरजीह दी जा रही है। उन्होंने कांग्रेस पर कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का भी आरोप लगाया था। उन्होंने कहा कि वह भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी के कार्यकारी उपाध्यक्ष जे पी नड्डा के मार्ग दर्शन में काम करेंगे ।

डॉ. रिजवी ने एक बार अपने साक्षात्कार के दौरान बताया था कि 1966 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के कहने पर कांग्रेस में शामिल हुए थे।वर्ष 1970 में प्रांतीय कांग्रेस कमेटी की कार्यकारिणी का सदस्य होने के बाद वर्ष 1972 में वह अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य निर्वाचित हुए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 मंदी से मंदिर तक मोदी सरकार को जवाब देगा कांग्रेस का थिंक टैंक ग्रुप! सोनिया ने मोर्चा संभालने को बनाया
2 बीसीबी और खिलाड़ियों की सुलह कराने में मुर्तजा निभा सकते हैं अहम भूमिका
3 दिवाली से पहले किसानों को केंद्रीय कैबिनेट से एडवांस गिफ्ट, रबी फसल के लिए MSP बढ़ाने को हरी झंडी