ताज़ा खबर
 

जस्टिस रंजन गोगोई राज्यसभा के लिए मनोनीत, पूर्व FM यशवंत सिन्हा बोले- ऑफर को ‘न’ नहीं कहा, तो ज्यूडिश्यरी की छवि को होगा बेहिसाब नुकसान

कभी BJP का हिस्सा रहे सिन्हा, नरेंद्र मोदी सरकार के बीते कुछ समय से कड़े आलोचक हैं। दिवंगत पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में वित्त मंत्री और विदेश मंत्री रह चुके हैं। पॉलिटिक्स में लंबा समय गुजारने के बाद उन्होंने सक्रिय राजनीति को कुछ समय पहले अलविदा कह दिया था।

Ranjan Gogoi, Former CJI, Rajya Sabha Seat, Rajya Sabha Nomination, Ramnath Kovind, Offer, Damage, Reputation, Judiciary, India News, National News, Hindi Newsपूर्व BJP नेता व तब की अटल सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे यशवंत सिन्हा। (एक्सप्रेस फाइल फोटोः पार्था पॉल)

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा है कि पूर्व चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) रंजन गोगई अगर राज्यसभा सीट का ऑफर स्वीकार कर लेंगे तो वह ज्यूडिश्यरी (न्याय-तंत्र) की छवि को बहुत बड़ा झटका देंगे। यह नुकसान इतना अधिक होगा कि उसका आकलन भी नहीं किया जा सकेगा।

सोमवार (16 मार्च, 2020) को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा जस्टिस गोगोई को राज्यसभा के लिए मनोनीत करने के बाद सिन्हा ने ट्वीट किया, “मुझे उम्मीद है कि पूर्व सीजेआई रंजन गोगई इस राज्यसभा सीट की पेशकश को ‘न’ कहने की समझ रखते हैं। अन्यथा वह ज्यूडिश्यरी की छवि को बेहिसाब नुकसान पहुंचाएंगे।”

राम मंदिर पर फैसला सुनाने वाले पूर्व CJI रंजन गोगोई राज्यसभा के लिए नामित

पूर्व केंद्रीय मंत्री के इस ट्वीट पर उनके फॉलोअर्स व सोशल मीडिया यूजर्स ने भी प्रतिक्रियाएं दी। @ashrafkhana4 ने कमेंट में लिखा- अब मुझे यकीन हुआ कि जस्टिस काटजू ने जो पूर्व सीजेआई गोगोई के बारे में कहा था, वह बिल्कुल सही था। शांति रखिए।

@Indiashining10 के हैंडल से कहा गया- यह दुर्लभ मामला ही होगा, जिसमें पूर्व सीजेआई (जिस पर यौन शोषण के आरोप भी हैं) सबसे अधिक विवादित फैसले देने और सेवानिवृत्ति के बाद राजनीतिक पद ले लिया हो। यह कितने शर्म की बात है!!

इसी बीच, @Ramesh_BJP ने ट्वीट किया, “मुझे उम्मीद है कि आपको भी पूर्व सीजेआई से ईष्या के बजाय बधाई देने की अच्छी समझ होगी। आप जैसे बेकार लोगों को राजनीतिक स्पेक्ट्रम (दुनिया) से बाहर देखकर अच्छा लगता है।”

उधर, Congress ने इसे मुद्दा बनाया और मोदी सरकार पर सवालिया निशान लगाए। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ये ट्वीट किए। पहले ट्वीट में उन्होंने दो खबरें शेयर करते हुए लिखा कि तस्वीर सब कुछ बयां करती है। दरअसल, उनके इस ट्वीट में पहले फोटो में जस्टिस गोगोई को राज्यसभा ऑफर से जुड़ा आर्टिकल था, जबकि दूसरी खबर में हेडिंग थी- भारतीय न्यायपालिका ऐसे संकट का सामना कर रही है, जिसके तहत लोगों में उसके प्रति विश्वास की कमी है।

कौन हैं यशवंत सिन्हा?: कभी BJP का हिस्सा रहे सिन्हा बीते कुछ वक्त से नरेंद्र मोदी सरकार के कड़े आलोचक हैं। दिवंगत पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में वित्त मंत्री और विदेश मंत्री रह चुके हैं। पॉलिटिक्स में लंबा समय गुजारने के बाद उन्होंने सक्रिय राजनीति को कुछ समय पहले अलविदा कह दिया था।

जस्टिस गोगोईः पिता थे कांग्रेसी CM, भाई एयर मार्शल, सिटिंग जज को कंटेम्प्ट ऑफ कोर्ट में सुनाई थी सजा

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अयोध्या मंदिर विवाद पर फैसला सुनाने वाले पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई राज्यसभा के लिए नामित
2 Yes Bank Scam केस: Reliance के अनिल अंबानी के बाद Essel Group के सुभाष चंद्रा समेत 18 लोगों को ED का समन
3 दिल्ली गैंगरेपः फांसी रुकवाने के लिए दोषियों ने चला नया पैंतरा, ICJ में याचिका दायर कर की शीघ्र सुनवाई की मांग
यह पढ़ा क्या?
X