ताज़ा खबर
 

राज ठाकरे की 5 करोड़ रुपए की पेनल्‍टी पर बरसे पूर्व एयर वाइस मार्शल, कहा- सेना को छीने हुए पैसे नहीं चाहिए

सेना के कई कार्यरत और रिटायर्ड अधिकारियों ने प्रोड्यूसर्स से पैसा लेने पर आपत्ति जताई है। उन्‍होंने कहा कि सेना किसी राजनीतिक दल या धर्म से नजदीकी नहीं रखती है।

MNS, Karan Johar, ADHM, Ae Dil Hai Mushkil, Fawad Khan, ADHm to release, Producers must pay Rs 5 crore as penance, India Pakistan, Uri attack, Pak-sponsored militantsमहाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे पीटीआई (फाइल फोटो)

करण जौहर की फिल्‍म ‘ए दिल है मुश्किल’ की रीलीज का रास्‍ता साफ हो गया है। राज ठाकरे की पार्टी महाराष्‍ट्र नवनिर्माण सेना ने तीन शर्तों के आधार पर फिल्‍म की रीलीज में बाधा ना डालने का फैसला वापस ले लिया। ठाकरे ने कहा कि पाकिस्‍तानी कलाकारों को अपनी फिल्‍म में लेने वाले फिल्‍ममेकर्स को पेनल्‍टी के रूप में पांच करोड़ रुपये देने होंगे। यह पैसा आर्मी वेलफेयर फंड में जाएगा। साथ ही फिल्‍म शुरू होने से पहले उरी के शहीदों के नाम दिखाने की शर्त भी रखी गई। लेकिन सेना इस विवाद में खुद को घसीटे जाने से नाराज है। सेना के कई कार्यरत और रिटायर्ड अधिकारियों ने प्रोड्यूसर्स से पैसा लेने पर आपत्ति जताई है। उन्‍होंने कहा कि सेना किसी राजनीतिक दल या धर्म से नजदीकी नहीं रखती है। वह पूरी तरह से धर्मनिरपेक्ष और तटस्‍थ है। सेना का नाम लेकर राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश नहीं की जानी चाहिए।

पूर्व एयर वाइस मार्शल मनमोहन बहादुर ने ट्वीट कर अपनी नाराजगी जाहिर की। उन्‍होंने इस बारे में पांच ट्वीट किए। बहादुर ने लिखा, ”मैंने 40 साल तक यूनिफॉर्म में देश की सेवा की है और मैं कभी जबरदस्‍ती छीने गए पैसों पर नहीं जिया। मेरे देश में क्‍या हो रहा है? सुरक्षाबलों को जोर जबरदस्‍ती का हिस्‍सा क्‍यों बनाया जाए? इस पैसे को स्‍वीकार कर वे काली कमाई लेने वाले बन जाएंगे।” तीसरे ट्वीट में लिखा, ”भारतीय सुरक्षाबलों को राजनीतिक महत्‍वाकांक्षा के लिए बैशाखी नहीं बनाया जा सकता और नहीं बनना चाहिए। दुर्भाग्‍य की बात है कि हाल के दिनों में यह ट्रेंड दिखा है। इससे दूर रहिए। क्‍या राज ठाकरे सरकार है या …? यह साफ होना चाहिए। जैसा कि शेखर गुप्‍ता ने ट्वीट किया कि यह संवैधानिक कमी है।”

नसीरुद्दीन शाह ने कहा- मनसे के लिए आसान टारगेट है फिल्म इंडस्ट्री

रेणुका शहाणे ने ये उदाहरण गिना कर बताया कि कैसे रंग बदलती है राज ठाकरे की पार्टी एमएनएस

मनमोहन बहादुर ने आगे लिखा, ”सेना अपने वेलफेयर फंड में देश के लोगों के योगदान के प्रेम और भावनाओं पर कभी शक नहीं करती। राज ठाकरे जबरदस्‍ती कर रहे हैं।” इससे पहले राज ठाकरे ने करण जौहर की फिल्‍म की रीलीज रोकने की धमकी दी थी। उन्‍होंने पाकिस्‍तानी कलाकारों को भारत छोड़ जाने की धमकी दी थी। इसके बाद मुकेश भट्ट के नेतृत्‍व में प्रोड्यूसर्स महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिले थे। इस दौरान उन्‍हें सुरक्षा का वादा किया गया था।

राज ठाकरे को अबु आज़मी की चुनौती-हिम्मत है तो कराची-लाहौर में भेजो अपने आत्मघाती हमलावर

Next Stories
1 वरुण गांधी ने रक्षा सूचनाएं लीक करने और हनी ट्रैप के आरोपों को बताया ‘झूठा-बेबुनियाद’
2 सेंट्रल काउंसिल ऑफ होम्योपैथी के अध्यक्ष रामजी सिंह को CBI ने गिरफ्तार किया, 20 लाख की घूस लेने का है आरोप
3 अब वायरल हो रहा ओम पुरी के ‘पूरी दुनिया को इस्लाम कबूल लेना चाहिए’ वाले बयान का असली वीडियो
ये पढ़ा क्या?
X