ताज़ा खबर
 

EVM हैकिंग के दावे पर केंद्रीय मंत्री का पलटवार- कपिल सिब्‍बल वहां क्‍यों थे? कांग्रेस ने मैनेज कराया सब

बीजेपी का आरोप है कि ईवीएम हैकिंग पर लंदन में आयोजित प्रेस-कॉन्फ्रेंस कांग्रेस द्वारा प्रायोजित थी और कपिल सिब्बल वहां निगरानी के लिए पहुंचे हुए थे।

ईवीएम हैकिंग पर केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 2014 के जनमत का अपमान किया है। (फोटो सोर्स: ANI ट्वीटर हैंडल)

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) हैकिंग विवाद पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार किया है। बीजेपी ने लंदन में आयोजित ईवीएम हैकिंग से संबंधित प्रेस-कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल की मौजूदगी पर गंभीर सवाल खड़े किए हैं। बीजेपी का आरोप है कि ईवीएम हैकिंग पर लंदन में आयोजित प्रेस-कॉन्फ्रेंस कांग्रेस द्वारा प्रायोजित थी और कपिल सिब्बल वहां निगरानी के लिए पहुंचे हुए थे। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, “बीजेपी यह जानना चाहती है कि कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल वहां क्या कर रहे थे? वह किस हैसियत से वहां (प्रेस-कॉन्फ्रेंस में) मौजूद थे? मेरा स्पष्ट मत है कि कपिल सिब्बल कांग्रेस की तरफ से मॉनिटरिंग करने गए थे।”

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस प्रायोजित इस कार्यक्रम से देश की छवि को नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 2014 के जनमत का अपमान किया है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कथित हैकर सैयद शुजा ने दावा किया कि 2014 के चुनाव में ईवीएम को हैक किया गया। लेकिन, ख्याल रहे कि 2014 में कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सत्ता में थी। प्रसाद ने कहा कि जब हम सत्ता में ही नहीं थे तो हैकिंग कैसे कर सकते थे। इस बात में कोई लॉजिक नहीं है।

हैकर पर सवाल: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने हैकर और उसके दावों पर प्रश्नचिन्ह खड़ा किया। उनका कहना था कि वह आईटी मंत्री हैं और देश दुनिया के आईटी एक्सपर्ट्स की ख़बर रखते हैं। लेकिन, उन्होंने कभी भी सैयद शुजा नाम नहीं सुना। प्रसाद ने कहा, “लंदन में आयोजित कार्यक्रम के इनवाइट (निमंत्रण) में कहा गया था कि ये (सैयद शुजा) ईवीएम को हैक करके दिखाएंगे। लेकिन, सैयद शुजा अमेरिका से प्रगट होते हैं और चेहरा ढंककर प्रगट होते हैं। यह कौन सा नाटक है मुझे यह समझ में नहीं आया।” रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सैयद शुजा के दावे बेबुनियाद और तथ्य से बिलकुल जुदा हैं और इसके जरिए भारत की धरती को बदनाम किया गया है।

आशीष रे पर भी सवाल: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने लंदन स्थित ईवीएम हैकिंग पर कार्यक्रम आयोजित कराने वाले पत्रकार आशीष रे पर भी सवाल खड़े किए। उन्होंने आशीष रे को कांग्रेस का आदमी बताया। प्रसाद ने आशीष रे के उन ट्वीट्स का भी जिक्र किया जिनमें उन्होंने राहुल गांधी की प्रशंसा और पीएम नरेंद्र मोदी की कड़े शब्दों में आलोचना की है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि रे एक समर्पित कांग्रेसी हैं। लेकिन, उन्होंने इनका नाम कहीं भी बतौर पत्रकार नहीं सुना है और ना ही इनका लेख कहीं पढ़ा है।

क्या है मामला: सोमवार को लंदन में इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन (यूरोप) ने एक प्रेस-कॉन्फ्रेंस आयोजित किया। इस कार्यक्रम को आयोजित करने से पहले दावा किया गया था कि आईटी एक्सपर्ट (सैयद शुजा) ईवीएम को हैक करके दिखाएंगे। हालांकि, पूरे प्रेस-कॉन्फ्रेंस में ईवीएम हैक करने का डिमॉन्स्ट्रेशन तो नहीं हुआ, लेकिन स्काइप के जरिए अमेरिका से जुड़े हैकर सैयद शुजा ने कई सनसनीखेज दावे किए। शुजा का दावा था कि 2014 लोकसभा चुनाव में ईवीएम की हैकिंग हुई थी। शुजा ने बीजेपी समेत कई राजनीतिक दलों पर ईवीएम हैकिंग में शामिल होने का आरोप लगाया। हालांकि, इसके संदर्भ में उसने कोई सबूत नहीं दिया। शुजा ने यह भी दावा किया कि रिलायंस कम्यूनिकेशन बीजेपी को ईवीएम हैकिंग कराने में मदद करती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App