ताज़ा खबर
 

रिटायरमेंट उम्र बढ़ाने के मुद्दे पर सीआरपीएफ ने अतिरिक्त बटालियन बनाने की अनुमति मांगी

सीआरपीएफ ने अपने कर्मियों के रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाए जाने के मुद्दे पर केंद्र सरकार से अतिरिक्त बटालियन बनाए जाने की अनुमति मांगी है। बल का कहना है कि उसे स्थिर ड्यूटी में भी लगाया जाए।

सीआरपीएफ की एक बटालियन में 1000 से अधिक कर्मी होते हैं। (फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने केंद्र सरकार से रिटायरमेंट की उम्र 57 से 60 साल किए जाने पर 16 अतिरिक्त बटालियन बनाने की अनुमति मांगी है। अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि सीआरपीएफ की तरफ से स्थिर ड्यूटी की भी मांग की गई है।

इस मुद्दे पर केंद्रीय गृह मंत्रालय की तरफ से हाल ही में बैठक बुलाई गई। बैठक में यह बताया गया कि यदि हाल के दिल्ली हाईकोर्ट के कमांडेंट रैंक तक के कर्मियों के रिटायरमेंट संबंधी निर्देशों का पालन किया गया तो उसके रैंक में (2020-2022 तक) 16,884 अतिरिक्त कर्मी होंगे।

बल की तरफ से सरकार से कहा गया कि उसे 16 नई अतिरिक्त बटालियन बनाने की अनुमति दी जाए जिससे कि यंग मैनपावर उसकी संचालन संबंधी जरूरत पूरी कर सकें। साथ ही 16000 उम्रदराज कर्मी बढ़ने की भरपाई कर सकें।

एक सीआरपीएफ बटालियन में 1000 से अधिक कर्मी होती हैं। सीआरपीएफ को देश की आंतरिक सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई है। यह मुख्य रूप से 10 नक्सल प्रभावित राज्यों में नक्सल विरोधी अभियान और कश्मीर घाटी में आतंक रोधी गतिविधियों को अंजाम देती है।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के तहत आने वाले अन्य केंद्रीय सैन्य पुलिस बलों की तरफ से सहमति के बावजूद सीआरपीएफ अकेला रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाने संबंधी प्रस्ताव का विरोध कर रहा है।

केंद्रीय सैन्य पुलिस बलों में सीआरपीएफ के अतिरिक्त सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), इंडो तिब्बत बॉर्डर पुलिस (आईटीबीपी) और असम राइफल्स शामिल हैं।

इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को सीआईएसएफ और असम राइफल्स के समान ही इन सुरक्षा बलों में रिटायरमेंट की उम्र को 57 से बढाकर 60 साल करने का आदेश दिया था।

सीआरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘हमने कहा है कि हमारी अभी 243 बटालियन है इनमें से 180 मुश्किल व खतरनाक अभियानों में शामिल हैं। यदि रिटायरमेंट की उम्र को बढाया गया तो यह सीधे तौर पर अगले तीन साल तक भर्ती प्रक्रिया को प्रभावित करेगा।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 …वरना दो हफ्ते में खारिज कर देंगे केस- अपने यहां दर्ज 750 मुकदमों पर चीफ जस्‍टिस का अल्‍टीमेटम
2 जबरन मुस्लिम बनाई गईं हिंदू लड़कियों की हिफाजत के लिए आगे आया हाई कोर्ट, सुषमा स्वराज ने कही यह बात
3 शत्रुघ्‍न ने राहुल की NYAY योजना को बताया ‘गेमचेंजर’, मोदी पर तंज- आप करें तो रासलीला, बाकी करें तो कैरेक्‍टर ढीला
किसान आंदोलन LIVE:
X