ताज़ा खबर
 

ईडी ने तीन साल में कुर्क की 33,500 करोड़ रुपये की संपत्ति, बना डाला रिकॉर्ड

प्रवर्तन निदेशालय ने 2015 से अब तक 33,563 करोड़ रुपये की संपत्ति की कुर्की की है। जबकि इससे पहले 2005 से 2015 के बीच (10 वर्ष) में यह आंकड़ा 9,003 करोड़ रुपये था।

Author Published on: October 28, 2018 12:39 PM
प्रवर्तन निदेशालय ने जब्त की सम्पत्ति (फोटो सोर्स : Express Group Photo)

प्रवर्तन निदेशालय ने अपने प्रमुख रहे करनैल सिंह सिंह के तीन साल के कार्यकाल में रिकॉर्ड 33,500 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की और धन शोधन से जुड़ी जांच में 390 आरोप पत्र दाखिल किये। सिंह रविवार को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। ईडी अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने कहा कि पिछले तीन वर्ष के दौरान मामले पंजीकृत करने, संपत्ति जब्त करने और आरोपपत्र दाखिल करने में जबरदस्त तेजी दर्ज की गयी है। प्रवर्तन निदेशालय ने 2015 से अब तक 33,563 करोड़ रुपये की संपत्ति की कुर्की की है जबकि इससे पहले 2005 से 2015 के बीच (10 वर्ष) में यह आंकड़ा 9,003 करोड़ रुपये था।

इस दौरान 390 आरोप पत्र या अभियोजन शिकायतें दाखिल की हैं। इसकी तुलना में पिछले 10 वर्ष में सिर्फ 173 आरोप पत्र दाखिल किये गये थे। ईडी ने तीन साल में संपत्ति जब्त करने के लिये 565 अस्थायी आदेश जारी किये, जो कि इससे पहले के 10 वर्ष में 492 थे।
पिछले तीन वर्षों में एजेंसी के कर्मचारियों की संख्या 682 से बढ़कर करीब 1,033 हो गयी।

गौरतलब है कि, भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) के अधिकारी एस के मिश्रा ने सिंह की जगह ले ली है। सरकार ने शनिवार को मिश्रा को ईडी प्रमुख बनाने की घोषणा की थी। सिंह ने 2015 में प्रवर्तन निदेशालय का कार्यभार संभाला था। सिंह को धन शोधन, विदेशी मुद्रा उल्लंघन और भ्रष्टाचार के कुछ अहम् मामलों में तेजी से जांच करने का श्रेय जाता है।

इनमें अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर मामला, पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम के खिलाफ मनी लांड्रिग का मामला, राजनीतिक रूप से संवेदनशील स्टरंिलग बायोटेक, विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की बैंकों के साथ धोखाधड़ी जैसे मामले शामिल है। इसके अलावा इसमें 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन और कोयला घोटाले की जांच भी शामिल है।

सिंह ने अतिरिक्त कार्यभार के तौर पर और नियमित प्रमुख के रूप में दोनों तरह से ईडी का नेतृत्व किया है। वह अगस्त 2015 से इस पद पर बने हुये हैं। सिंह 1984 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सर्वे: केरल में राहुल आगे, हरियाणा में मोदी, जानिए बिहार में क्‍या रहा हाल
2 केंद्रीय मंत्री बोले- बिना हुर्रियत की इजाजत शौचालय तक नहीं जा सकते कश्‍मीरी नेता
3 रिपोर्ट्स: गणतंत्र दिवस समारोह में नहीं आएंगे डोनाल्‍ड ट्रंप