scorecardresearch

आज नहीं दिखा शव्वाल का चांद, 3 को मनाई जाएगी ईद, जानें मरकजी चांद कमेटी ने अपने पत्र में क्या कहा

फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने भी कहा है कि यूपी, मध्य प्रदेश, बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात और राजस्थान समेत देश के किसी भी राज्य से चांद दिखने की खबर नहीं मिली है।

Farangi EId Moon, Ramadan
ईद-उल-फित्र 3 मई 2022 को होगी(फोटो सोर्स:ट्विटर/@qazifarazahmad)।

देशभर में ईद तीन मई को मनाई जाएगी। इसको लेकर मौलाना रशीद फरंगी महली इमाम ईदगाह लखनऊ की तरफ़ ईद की तारीख का ऐलान किया गया। बता दें कि लखनऊ समेत देश के अन्य हिस्सों में रविवार को शव्वाल का चांद नज़र नही आया, जिसके चलते अब सोमवार को रमजान महीने का तीसवां रोज़ा होगा। वहीं मंगलवार यानी तीन मई को ईद मनाई जाएगी।

मरकजी चांद कमेटी के पत्र में क्या कहा गया: मालूम हो कि मरकजी चांद कमेटी की तरफ से एक पत्र जारी किया गया है। इसमें बताया गया, “मरकज़ी चांद कमेटी फरंगी महल के सदर, काज़ी-ए-शहार मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली इमाम ईदगाह लखनऊ ने ऐलान किया है कि 1 मई 2022 को शव्वाल का चांद नही हुआ है। इसलिए कल यानी 2 मई को 30वां रोज़ा(आखिरी) होगा। और ईद-उल-फित्र 3 मई 2022 को होगी।

जारी किये गए पत्र में कहा गया है कि ईद उल फित्र की नमाज़ ईदगाह लखनऊ में 3 मई 2022 की सुबह 10 बजे होगी। बता दें कि 1 मई को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में भी शव्वाल का चांद नहीं देखा गया। ऐसे में द्वीप भर के मुसलमान 2 मई को रमजान का आखिरी दिन मनाएंगे।

वहीं सऊदी अरब में भी शनिवार को चांद नहीं दिखाई दिया था। ऐसे में वहां सोमवार, 2 मई को ईद मनाई जाएगी। जिसके बाद भारत में एक दिन बाद यानी तीन मई, मंगलवार को ईद मनाई जाएगी।

इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार, रमजान का महीना 29 या 30 दिन का होता है। अगर ईद सोमवार के दिन मनाई जाती तो भारत में यह महीना 29 दिन का होता लेकिन चूंकि अब ईद मंगलवार को मनाई जाएगी तो यह महीना 30 दिन का होगा।

वहीं फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने भी कहा है कि यूपी, मध्य प्रदेश, बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात और राजस्थान समेत देश के किसी भी राज्य से चांद दिखने की खबर नहीं मिली है। बता दें कि मुसलमानों के लिए रमजान का महीना इस्लामी कैलेंडर का नौवां महीना हैं। इसमें मुस्लिम समुदाय के लोग रोजा रखते हैं।

गौरतलब है कि रमजान महीने में रोजा रखने वाले मुसलमान सुबह सूरज निकलने से पहले से लेकर सूरज डूबने तक कुछ खाते पीते नहीं हैं। यह महीना ईद का चांद नजर आने के साथ खत्म होता है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट