scorecardresearch

नई दिल्लीः श्रीनिवासपुरी में मंदिर को तोड़ने के लिए नोटिस, गुरुग्राम में मूर्तियां तोड़ने पर FIR, जहांगीरपुरी में ED की एंट्री

दिल्ली में जहांगीरपुरी हिंसा मामले में दिल्ली की रोहिणी कोर्ट ने 4 आरोपियों अंसार, सोनू, सलीम, दिलशाद और अहीर को 8 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा है।

tauqeer raza, bulldozer
जहांगीरपुरी में बुल्डोजर एक्शन (फोटो- पीटीआई)

राजस्थान में अलवर के राजगढ़ में प्राचीन मंदिर पर बुलडोजर की कार्रवाई के बाद देश के अन्य राज्यों से भी मंदिरों पर कार्रवाई को लेकर नोटिस जारी होने के खबरें आ रही हैं। बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली के श्रीनिवासपुरी इलाके में नीलकंठ महादेव मंदिर पर कार्रवाई करने के लिए नोटिस जारी हुआ है।

आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि यह आदेश केंद्र सरकार की तरफ से जारी किया गया है। आप नेता आतिशी ने ट्विटर पर एक नोटिस शेयर करते हुए लिखा, “भाजपा की केंद्र सरकार ने दिया श्रीनिवासपुरी स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर पर बुल्डोज़र चलाने का आदेश।”

बता दें कि पत्र के मुताबिक यह नोटिस 13 अप्रैल को जारी हुई थी। जिसमें कहा गया है कि यह धार्मिक संरचना किसी प्राधिकरण के बिना सरकारी भूमि पर निर्मित हुई। पत्र में आदेश दिया गया था कि इस जमीन को सात दिनों के अंदर खाली करना होगा। नहीं तो संरचना को गिरा दिया जाएगा। वहीं मंदिर को लेकर जारी हुए नोटिस पर आप विधायक आतिशी और विधायक मदन लाल ने विरोध जाताया है।

हरियाणा गुरुग्राम में मूर्ति तोड़ने की घटना: हरियाणा के गुरुग्राम में भोंडसी के एक मंदिर में शुक्रवार और शनिवार की रात अज्ञात लोगों ने एक मूर्ति को कथित रूप से तोड़ने का मामला सामने आया है। इसको लेकर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मूर्ति तोड़ने को लेकर शिकायतकर्ता भगीरथ राघव, नंबरदार, भोंडसी ने कहा कि उनके गांव में एक प्राचीन दादी सती मंदिर है। कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने देवता की मूर्ति में तोड़फोड़ की और उसे किसी नुकीली चीज से क्षतिग्रस्त कर दिया।

राघव ने बताया कि इस घटना से गांव के लोगों में गुस्सा है। इससे सभी की भावनाएं आहत हुई हैं। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। वहीं करणी सेना के अध्यक्ष और हरियाणा भाजपा के प्रवक्ता सूरज पाल अम्मू ने मौके का दौरा किया और घटना के पीछे साजिश का आरोप लगाया।

भोंडसी पुलिस स्टेशन के एसएचओ देवेंद्र कुमार ने इस वारदात पर कहा, “मंदिर में मूर्ति को किसी नुकीली चीज से तोड़ने का प्रयास किया गया। हमने अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है और जांच कर रहे हैं। जल्द ही दोषियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। स्थिति शांतिपूर्ण है।”

जहांगीरपुरी मामले में अब ED की एंट्री: दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा मामले में अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की भी एंट्री हो गई है। दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना द्वारा जहांगीरपुरी हिंसा के आरोपी मोहम्मद अंसार की मनी लॉन्ड्रिंग की जांच के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को पत्र लिखा गया था। जिसके दो दिन बाद अब केंद्रीय एजेंसी ने शनिवार को अंसार पर धन शोधन निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया।

सूत्रों ने कहा कि अगर ईडी को अंसार के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के सबूत मिलते हैं, तो वह उसकी संपत्तियों और संपत्तियों के जब्त करने की कार्रवाई करेगा। ईडी के एक अन्य अधिकारी ने कहा, “दिल्ली पुलिस द्वारा उसकी जांच पूरी करने के बाद हम उसे हिरासत में लेंगे।”

वहीं शनिवार को जहांगीरपुरी हिंसा मामले में दिल्ली की रोहिणी कोर्ट ने 4 आरोपियों अंसार, सोनू, सलीम, दिलशाद और अहीर को 8 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा है। जबकि 9 में से पांच अन्‍य आरोपियों को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेजा है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.