ताज़ा खबर
 

पंजाब: कांग्रेस एमएलए ने डिज़ाइनर मनीष मल्होत्रा, सब्यसाची, रितु कुमार को दिए लाखों रुपए? ईडी ने भेजा समन

कांग्रेस विधायक सुखपाल सिंह खैरा से जुड़े धनशोधन के मामले में ईडी ने तीन शीर्ष फैशन डिजाइनरों-रितु कुमार, सब्यसाची मुखर्जी और मनीष मल्होत्रा को तलब किया है। ईडी ने खैरा पर मादक पदार्थ मामले के दोषियों और फर्जी पासपोर्ट रैकेट में शामिल लोगों का ‘‘सहयोगी’’ होने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस विधायक से जुड़े धनशोधन के मामले में ईडी ने तीन शीर्ष फैशन डिजाइनरों को तलब किया। (express file)

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पंजाब के एक कांग्रेस विधायक से जुड़े धनशोधन के मामले में देश के तीन शीर्ष फैशन डिजाइनर -रितु कुमार, सब्यसाची मुखर्जी और मनीष मल्होत्रा को तलब किया है। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि डिजाइनरों को नोटिस भेजकर कहा गया है कि वे पूछताछ के लिए इस सप्ताह के अंत में दिल्ली में केंद्रीय जांच एजेंसी के समक्ष पेश हों।

सूत्रों ने बताया कि मामला पंजाब के कांग्रेस विधायक सुखपाल सिंह खैरा और उनके परिवार से संबंधित धनशोधन के मामले से जुड़ा है। आरोपी के खिलाफ मार्च में एजेंसी ने छापेमारी की थी। छापेमारी के समय खैरा आम आदमी पार्टी के बागी विधायक थे। वह हाल ही में कांग्रेस में फिर से शामिल हुए हैं। खैरा 2017 के विधानसभा चुनाव में पंजाब के कपूरथला जिले की भोलथ सीट से आम आदमी पार्टी के टिकट पर विजयी हुए थे। हालांकि, जनवरी 2019 में उन्होंने अरविन्द केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था और अपनी खुद की पार्टी पंजाब एकता पार्टी बना ली थी।

ईडी ने खैरा पर मादक पदार्थ मामले के दोषियों और फर्जी पासपोर्ट रैकेट में शामिल लोगों का ‘‘सहयोगी’’ होने का आरोप लगाया है। 56 वर्षीय खैरा ने आरोपों को खारिज किया है और कहा है कि केंद्रीय एजेंसियां उन्हें इसलिए निशाना बना रही हैं क्योंकि वह केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों का विरोध करते रहे हैं।

डिजाइनरों को नोटिस के बारे में पूछे जाने पर, खैरा ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “मैं इसका जवाब देने वाला व्यक्ति नहीं हूं, आप या तो ईडी या डिजाइनरों से पूछें। मैंने 3-4 लाख रुपये के लहंगे शादी के कपड़े खरीदे थे। मैंने दो-तीन आइटम लिए हैं… मनी लॉन्ड्रिंग का यह कितना बड़ा मामला है?… यह मेरी बेटी की शादी के लिए बहुत कम खरीदारी थी।”

साल 2016 में खैरा की बेटी सिमर की शादी पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत दरबारा सिंह के पोते इंद्रवीर सिंह जोहल से हुई थी। वहीं सब्यसाची और रितु कुमार के कर्मचारियों ने कहा कि वे इस मामले से अवगत हैं। मल्होत्रा ​​​​से इस बारे में संपर्क नहीं हो सका है।

उनके खिलाफ मामला 2015 के फाजिल्का (पंजाब) मादक पदार्थ मामले से संबंधित है जिसमें सुरक्षा एजेंसियों ने एक अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ तस्कर समूह से 1,800 ग्राम हेरोइन, सोने के 24 बिस्कुट, दो हथियार, 26 कारतूस और दो पाकिस्तानी सिम कार्ड बरामद किए थे।

सूत्रों ने कहा कि ईडी को पता चला है कि कथित तौर पर नकदी सहित कुछ भुगतान तीन डिजाइनरों को किया गया और इसीलिए एजेंसी लेन-देन के बारे में उनकी बात जानना चाहती है तथा उनके बयान दर्ज करना चाहती है। उन्होंने कहा कि कथित तौर पर भुगतान 2018-19 में किया गया और यह खैरा से जुड़ा है।

ईडी ने पंजाब पुलिस की प्राथमिकी का अध्ययन करने के बाद खैरा और अन्य के खिलाफ धनशोधन रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया था। एजेंसी ने आरोप लगाया है, ‘‘मादक पदार्थ की तस्करी भारत-पाकिस्तान सीमा के जरिए की गई और गिरोह के सरगनाओं में से एक ब्रिटेन में है। खैरा अंतरराष्ट्रीय तस्करों के गिरोह की सक्रिय रूप से मदद कर रहे थे और अपराध से मिले लाभ का लुत्फ उठा रहे थे।’’

Next Stories
1 पहली बार खुलासाः एमपी बिरला ग्रुप के ट्रस्ट ने चुनावी बांड के जरिए 2019-20 में डोनेट किए थे 3 करोड़ रुपये
2 राहुल बोले-वैक्सीनेशन के नाम पर हो रहा केवल पीआर मैनेजमेंट
3 28 गोल्ड समेत 39 पदक बेमतलब, देश की पहली महिला दिव्यांग शूटर को बेचने पड़ रहे चिप्स, सरकार से नौकरी की गुहार
यह पढ़ा क्या?
X