एक और हाई प्रोफाइल इस्‍तीफा, पीएम के आर्थ‍ि‍क सलाहकार पर‍िषद सदस्‍य सुरजीत भल्ला ने छोड़ा पद

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने भी भल्ला के आर्थिक सलाहकार परिषद छोड़ने की पुष्टि कर दी है। पीएमओ की तरफ से बताया गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भल्ला का इस्तीफा मंजूर कर लिया है। वह किसी दूसरे संस्थान में काम करने जा रहे हैं।

surjit bhalla
सुरजीत भल्ला ने पीएम के आर्थिक सलाहकार परिषद की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. ( फोटो सोर्स: एक्सप्रेस आर्काइव)

मोदी सरकार में संस्थाओं के शीर्ष पदों पर बैठे लोगों के इस्तीफे का दौर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। सोमवार को आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल द्वारा पद त्यागने के बाद प्रधानमंत्री के ‘आर्थिक सलाहकार परिषद’ के सदस्य और मशहूर अर्थशास्त्री सुरजीत भल्ला ने मंगलवार को अपने इस्तीफे की जानकारी दी। भल्ला प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार परिषद में बतौर पार्ट-टाइम सदस्य काम कर रहे थे। उधर प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने भी भल्ला के आर्थिक सलाहकार परिषद छोड़ने की पुष्टि कर दी है। पीएमओ की तरफ से बताया गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भल्ला का इस्तीफा मंजूर कर लिया है। वह किसी दूसरे संस्थान में काम करने जा रहे हैं।

गौरतलब है कि भल्ला ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ में ‘नो प्रूफ रिक्वॉयर्ड’ नाम से लेख लिखते हैं, पहले वह लेख में खुद को आर्थिक सलाहकार परिषद के सदस्य के तौर पर पहचान बताते थे। लेकिन, मंगलवार को छपे लेख में उन्होंने यह पहचान नहीं दी। दरअसल, सुरजीत भल्ला को आम तौर पर सरकार के समर्थकों में से एक माना जाता है। लेकिन, एक दिसंबर को उन्होंने नीति आयोग पर तीखा हमला बोलते हुए सरकार की अप्रत्यक्ष रूप से कड़ी आलोचना की। उन्होंने लिखा, ” मैं और मेरे अलावा कई लोग मानते हैं कि नीति आयोग को एससीओ (सेंट्रल स्टैटिस्टिक ऑफिस) के डाटा आंकलन में सीधे तौर पर शामिल करना गैर-जरूर था।”

भल्ला नीति आयोग के संबंध में उस डाटा की बात कर रहे थे, जिसमें मोदी सरकार ने यूपीए सरकार (2006-12) के जीडीपी आंकड़ों की दोबारा समीक्षा कराई थी। दोबारा पेश किए गए आंकड़े को बीजेपी की सरकार ने ज्यादा निष्पक्ष और बेहतर करार दिया था। गौरतलब है कि आर्थिक सलाहकार परिषद का गठन खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सितंबर, 2017 में किया था। इसका उद्देश्य देश की अर्थव्यवस्था में सुधार लाना था।

Election Result 2018 LIVE: Rajasthan | Telangana | Mizoram Madhya Pradesh | Chhattisgarh Election Result 2018

अपडेट