ताज़ा खबर
 

Economic Slowdown की चपेट में देश, फिर भी 69% भारतीयों की राय- भारत सही दिशा में, पर बेरोजगारी सबसे बड़ी चिंता

सर्वे के मुताबिक, ‘‘कुछ अन्य मसले जो भारतीयों को परेशान कर रहे हैं, उसमें वित्तीय और राजनीतिक भ्रष्टाचार, अपराध औरहिंसा, गरीबी और सामाजिक असमानता और जलवायु परिवर्तन शामिल हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: December 27, 2019 6:32 PM
69 प्रतिशत शहरी भारतीय मानते हैं कि देश सही रास्ते पर है। वहीं 61 प्रतिशत वैश्विक नागरिकों का मानना है कि देश गलत दिशा में जा रहा है। (सांकेतिक तस्वीर)

देश में बेरोजगारी को लेकर युवा परेशान हैं। एक सर्वे के अनुसार करीब आधे शहरी भारतीय बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर चिंतित हैं। हालांकि 69 प्रतिशत सोचते हैं कि देश सही दिशा में आगे बढ़ रहा है। शोध कंपनी आईपीसोस के ‘दुनिया को क्या चिंतित करती है’ विषय पर किये गये सर्वे के अनुसार वित्तीय और राजनीतिक भ्रष्टाचार, अपराध औरहिंसा, गरीबी और सामाजिक असमानता तथा जलवायु परिवर्तन अन्य मसले हैं जो देश के नागरिकों को चिंतित करते हैं।

सर्वे के अनुसार दुनिया में निराशावाद के उलट भारत में नीतियों को लेकर लोगों में उम्मीद है। 69 प्रतिशत शहरी भारतीय मानते हैं कि देश सही रास्ते पर है। वहीं 61 प्रतिशत वैश्विक नागरिकों का मानना है कि देश गलत दिशा में जा रहा है। इसमें कहा गया है, ‘‘सर्वे में शामिल कम-से-कम 46 प्रतिशत शहरी भारतीय बेरोजगारी को लेकर खासे परेशान हैं। अक्टूबर के मुकाबले नवंबर में इसमें 3 प्रतिशत की और वृद्धि हुई है।’’

सर्वे के मुताबिक, ‘‘कुछ अन्य मसले जो भारतीयों को परेशान कर रहे हैं, उसमें वित्तीय और राजनीतिक भ्रष्टाचार, अपराध औरहिंसा, गरीबी और सामाजिक असमानता और जलवायु परिवर्तन शामिल हैं। ’’ वहीं दूसरी तरफ गरीबी और सामाजिक असामनता वैश्विक नागरिकों के लिये शीर्ष चिंता का विषय है। उसके बाद बेरोजगारी, अपराध औरहिंसा, वित्तीय और राजनीतिक भ्रष्टाचार तथा स्वास्थ्य का स्थान हैं। सर्वे हर महीने 28 देशों में ऑनलाइन माध्यम से किया जाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आदित्य ठाकरे ने दिया अमृता फड़णवीस को जवाब? कहा- सत्ता से बाहर हुए लोगों का दर्द समझना चाहिए
2 राहुल गांधी पर BJP का पलटवार, बोले केंद्रीय मंत्री- 2019 के ‘झूठ ऑफ द ईयर’ के पात्र हैं पूर्व Congress चीफ
3 CAA हिंसा: प्रदर्शन के दौरान कैंसर पीड़ित को उठा ले गई UP पुलिस, आरोप- इतना मारा कि टूट गए हाथ व पैर
ये पढ़ा क्या?
X