ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार के कानून मंत्री ने कहा- मुसलमानों को आतंकवाद के मुकदमे में फंसाना चिंता की बात

डीवी सदानंद गौड़ा ने कहा, 'आतंक के झूठे आरोपों के आधार पर मुस्लिम युवाओं को गिरफ्तार करना चिंता का विषय है। हम इसमें बदलाव लाने के बारे में सोच रहे है।'
केंद्रीय कानून मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा

लंबे समय से जिस मुद्दे को लेकर मुस्लिमों में गुस्सा बना हुआ है उस पर केंद्रीय कानून एवं न्याय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने मंगलवार को कहा कि मुसलमानों को आतंकवाद के झूठे मामलों में फंसाना चिंता की बात है। उन्होंने कहा, ‘मुस्लिम युवाओं के खिलाफ आतंक के झूठे केस लगाए जाने से वह चिंतित है और उन्हें बाद में सबूत ना होने की वजह से रिहा कर दिया जाता है।’ साथ ही उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों से निपटने के लिए कानून में सुधार किया जाएगा।

Read Also: Social Media पर क्रिश्चियन लड़कियां हो रहीं शर्मसार, ISIS के आतंकी बना रहे Sex Slaves का शिकार

गौड़ा नरेंद्र मोदी सरकार के दो साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए आयोजित किए गए ‘विकास पर्व’ में शामिल होने के लिए अलीगढ़ आए हुए थे। उन्होंने कहा, ‘आतंक के झूठे आरोपों के आधार पर मुस्लिम युवाओं को गिरफ्तार करना चिंता का विषय है। हम इसमें बदलाव लाने के बारे में सोच रहे है। लॉ कमिशन इन मामलों की कानूनी प्रक्रिया में बदलाव लाने के लिए रिपोर्ट तैयार कर रहा है। सुप्रीम कोर्ट के जज के नेतृत्व में यह रिपोर्ट तैयार की जा रही है। इसके साथ ही कई कानून विशेषज्ञ भी रिपोर्ट को बनाने में मदद कर रहे हैं।’

कानून मंत्री ने यह बात उस वक्त की जब उनसे मुस्लिम युवाओं पर आतंके के झूठे आरोप लगाए जाने और उनकी रिहाई के बाद उनके सामने आने वाली समस्याओं के बारे में सवाल किया गया।

Read Also: पहले क्रिकेट, अब आतंकवादी की याद में हो रहा है फुटबॉल टूर्नामेंट

इससे पहले पिछले सप्ताह गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी यह मुद्दा उठाया था। उन्होंने सरकार ने आतंक संबंधित मामलों को लेकर अपने दृष्टिकोण को बदला है। साथ ही उन्होंने पुलिस को सलाह दी थी कि इन मालमों को डील करते हुए विवेक से काम किया जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.