ताज़ा खबर
 

DUSU Election Results 2018: कांग्रेस के लिए आन का मुद्दा बना डूसू चुनाव! कॉलेजों में तैनात कर दिए 300 नेता

DUSU Election Result 2018, Delhi University Election Result 2018: कांग्रेस ने डूसू चुनावों के दौरान अपने कई ब्लॉक कमेटी सदस्यों, पूर्व विधायक और पार्षदों को चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी थी। बुधवार को हुए डूसू चुनावों के दौरान भी कांग्रेस नेता लगातार डूसू चुनावों के बारे में फीडबैक लेते रहे थे।

dusu election DUSU Election Result 2018: कांग्रेस ने डूसू चुनाव में लगायी ताकत (image source-Reuters/PTI)

DUSU Election Result 2018: यूनिवर्सिटी कॉलेज की राजनीति आज के समय में काफी अहम हो गई है और युवाओं को अपने साथ जोड़ने के लिए लगभग सभी राजनैतिक पार्टियां एड़ी चोटी का जोर लगाती हैं। यही वजह है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University Students Union (DUSU))के चुनावों पर सभी की नजरें गड़ी हुई हैं। खासकर भाजपा और कांग्रेस डूसू चुनावों में खास दिलचस्पी ले रही हैं। इसका कारण है आगामी लोकसभा चुनावों की नजदीकी। कांग्रेस ने तो डूसू चुनाव में अपने छात्र संगठन NSUI की मदद के लिए अपने छोटे-बड़े करीब 300 नेताओं को चुनाव प्रचार के लिए मैदान में उतारा था। एनएसयूआई को इन चुनावों में RSS समर्थित एबीवीपी (अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद) से कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद जतायी जा रही है।

कांग्रेस ने डूसू चुनावों के दौरान अपने कई ब्लॉक कमेटी सदस्यों, पूर्व विधायक और पार्षदों को चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी थी। बुधवार को हुए डूसू चुनावों के दौरान भी कांग्रेस नेता लगातार डूसू चुनावों के बारे में फीडबैक लेते रहे थे। आज डूसू चुनाव के नतीजे आ रहे हैं, जिसके लिए वोटों की गणना जारी हैं। अभी तक आए नतीजों के अनुसार, डूसू अध्यक्ष के पद पर कांग्रेस उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। हालांकि बाकी तीन पदों पर एबीवीपी के उम्मीदवार बढ़त बनाए हुए हैं।

DUSU Election Result 2018 LIVE

मतगणना के लिए छात्र संगठनों के प्रतिनिधि सुबह से ही मतगणना स्थल पर पहुंचने लगे हैं। मतगणना स्थल के आसपास सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं और भारी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। फिलहाल आए रुझानों के तहत NSUI  और ABVP के बीच जबरदस्त टक्कर देखने को मिल रही है। डूसू अध्यक्ष पद पर जहां NSUI उम्मीदवार आगे चल रहे हैं तो वहीं बाकी 3 पदों पर ABVP के उम्मीदवार बढ़त बनाए हुए हैं।

बता दें कि बुधवार को डूसू चुनाव के लिए वोट डाले गए थे। डूसू चुनाव के लिए 52 केन्द्रों पर मतदान हुआ, जिसके लिए 760 ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल किया गया। प्रातः कालीन कॉलेजों में मतदान सुबह 8.30 बजे से लेकर दोपहर एक बजे तक हुआ था। वहीं सांध्य कालीन कॉलेजों में मतदान शाम 3 बजे से शुरु होकर शाम 7.30 बजे तक हुआ। चुनाव मैदान में इस बार 23 प्रत्याशी हैं। इनमें अध्यक्ष पद पर 5, उपाध्यक्ष पद पर 5, सचिव पद पर सबसे ज्यादा 8 और संयुक्त सचिव पद पर 5 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। डूसू चुनाव के दौरान इस बार 43.8 फीसदी वोट डाले गए।

Next Stories
1 कांग्रेस पर बीजेपी का हमला- कालाधन इस्तेमाल कर चुके हैं राहुल गांधी
2 Patanjali: बाबा रामदेव की कंपनी बेचेगी फ्रेंच फ्राइज, बोतलबंद पानी ‘दिव्य जल’ भी उतारा
3 कांग्रेस का आरोप- मोदी ने अपने दोस्त अनिल अंबानी व गौतम अडाणी के फायदे के लिए किया रक्षा मंत्रालय के साथ खिलबाड़
ये पढ़ा क्या?
X