ताज़ा खबर
 

रॉबर्ट वाड्रा का गुरमेहर कौर को समर्थन, फेसबुक पर कहा- फासीवादी ताकतों से लड़ने के लिए देश को तुम पर गर्व है

रॉबर्ट वाड्रा ने गुरमेहर कौर का समर्थन किया है।

कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा। (पीटीआई फाइल फोटो)

रामजस कॉलेज हिंसा मामले के बाद गुरमेहर कौर ने एबीवीपी के खिलाफ फेसबुक पर कैम्पेन चलाया। इस कैम्पेन को शुरू करने के बाद गुरमेहर को फेसबुक पर रेप जैसी धमकियों और गालियों का सामना करना पड़ा। वहीं इस मामले को लेकर अब रॉबर्ट वाड्रा ने गुरमेहर कौर का समर्थन किया है। रॉबर्ट वाड्रा ने अपने फेसबुक अकाउंट पर गुरमेहर के सपोर्ट में लिखा कि वह इस मामले को लेकर उनके साथ है और सभी उन लोगों के साथ है जो लोगों के अधिकारों और बोलने की आजादी की लड़ाई लड़ रहे हैं। वाड्रा ने फेसबुक पर गुरमेहर के सपोर्ट में काफी कुछ लिखा। गुरमेहर को रेप की धमकियों और गालियों दने वालों के लिए वाड्रा ने लिखा, “यह बेहद शर्मनाक है कि देश के माननीय नागरिक एक सम्मानित महिला को ट्रोल कर रहे हैं।” सबसे पहले वाड्रा ने अपनी पोस्ट में लिखा कि देश के लिए शहीद हुए आर्मी मैन की बेटी को रेप जैसी धमकियां देकर ट्रोल किया जा रहा है। उन्होंने आगे लिखा कि गुरमेहर अपने पक्ष के लिए मजबूती से खड़ी हुई हैं और इस पर पूरे देश को गर्व है। इसके बाद उन्होंने लिखा कि यह(ट्रोल) बहुत घिनौना और शर्मनाक है। 

दिल्‍ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में हिंसा के बाद एबीवीपी के खिलाफ सोशल मी‍डिया पर कैम्पेन चलाने वाली गुरमेहर कौर ने बताया था कि उसे रेप की धमकियां मिल रही हैं। गुरमेहर के पिता कारगिल की जंग में शहीद हो गए थे। गुरमेहर ने “एबीवीपी से डरती नहीं” नाम से फेसबुक पर कैम्पेन चलाया था। वहीं गुरमेहर ने बीते सोमवार (27 फरवरी) को कैम्पेन वापिस लेने की बात कही। उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि मैं कैम्पेन वापिस लेती हूं, सभी को मुबारकबाद। अपने ट्वीट में गुरमेहर ने यह भी लिखा कि मुझे अब अकेला छोड़ दो, मुझे जो कहना था वो मैंने कह दिया। गौरतलब है कि गुरमेहर के कैम्पेन को लेकर कई नेताओं ने भी अपनी राय रखी है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने अपने ट्वीट में कहा था, ‘वे कौन लोग हैं जो इस युवा लड़की की मानसिकता को दूषित कर रहे हैं। रक्षा क्षेत्र में सामर्थ्य रखने वाला देश दुश्मन से नहीं बल्कि इन हरकतों से हारता है।’ यह ट्वीट रिजिजू ने गुरमेहर के लिए लिखा था।

 

देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App