मां-बाबू जी को फ्लाइट का सफर करा गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा ने पूरा किया सपना, लोग बोले- खेल के साथ युवा को संस्कार देने में आप प्रेरणा हैं

नीरज ने पहली बार अपने माता-पिता को फ्लाइट की यात्रा करवाई। इस मौके पर उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर माता-पिता की तस्वीरें शेयर की हैं।

Neeraj Chopra, 2020 Olympics, flight, twitter, sports news, national news, jansatta
फ्लाइट में अपने माता पिता के साथ नीरज चोपड़ा। (Pic: Twitter/Neeraj Chopra)

टोक्यो ओलिंपिक खेलों में भारत को इकलौता गोल्ड मेडल जिताने वाले नीरज चोपड़ा ने एक बार फिर सब का दिल जीत लिया है और सोशल मीडिया में उनकी तारीफ हो रही है। अपनी उपलब्धि के चलते इन दिनों सुर्खियों में रहने वाले इस भालाफेंक खिलाड़ी ने शनिवार को अपने माता पिता को पहली बार फ्लाइट का सफर कराया।

नीरज ने पहली बार अपने माता-पिता को फ्लाइट की यात्रा करवाई। इस मौके पर उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर माता-पिता की तस्वीरें शेयर की हैं। नीरज ने ट्वीट कर लिखा, “आज जिंदगी का एक सपना पूरा हुआ जब अपने मां-पापा को पहली बार फ्लाइट पर बैठा पाया। सभी की दुआ और आशीर्वाद के लिए हमेशा आभारी रहूंगा।” उसके इस ट्वीट पर यूजर्स अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं और उन्हें संस्कारी बेटा कह रहे हैं।

उन्नति शर्मा नाम की एक यूजर ने लिखा, “कितने सारे कस्बाई, ग्रामीण क्षेत्रों और छोटे शहरों के युवाओं के सपनों के प्रतीक बन चुके हो नीरज चोपड़ा। मेरा भी ऐसा ही एक छोटा सा सपना है। ऐसे न जाने कितने छोटे बड़े सपने दिलों में लिए हम सब मेहनत करते हैं। जब भी किसी का ऐसा सपना पूरा होता है, बहुत ख़ुशी होती है।”

इमरान प्रतापगढ़ी ने लिखा, “बधाई नीरज भाई, इस एहसास को मैंने जिया है, आप जैसे बेटे पर पर तो दुनिया के हर मॉं बाप को गर्व रहेगा। डॉली नाम की एक यूजर ने लिखा, “वाह! ईश्वर आप जैसा बेटा दुनिया में हर किसी को दें। खेल के साथ युवा को संस्कार देने में आप प्रेरणा हैं।”

नीरज के पिता सतीश कुमार पेशे से किसान हैं और उनकी मां सरोज देवी एक गृहणी है। नीरज हरियाणा के पानीपत के रहने वाले हैं। निशानेबाज अभिनव बिंद्रा के बाद देश के लिए दूसरा गोल्ड मेडल जीतने वाले नीरज एकमात्र भारतीय हैं। बिंद्रा ने 2008 के ओलंपिक खेलों में गोल्ड मेडल जीता था।

बता दें कि नीरज ने पिछले महीने ऐलान किया था तबीयत खराब होने और ट्रैवलिंग की वजह से उनकी ट्रेनिंग की शुरुआत नही हो पा रही है, जिसके चलते उनकी टीम ने इस साल का सीजन रोकने का निर्णय लिया है। उन्होंने साथ ही यह भी कहा था कि वे अगले साल यानी 2022 में एशियाई खेल और कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग लेंगे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट