scorecardresearch

DRDO ने चांदीपुर से दागीं दो VSHORADS मिसाइलें, जानिए क्या है अहमियत

DRDO Missile Testing: VSHORADS में कई नई तकनीकों को शामिल किया गया है। जिसमें एक छोटी नियंत्रण प्रणाली और एकीकृत एवियोनिक्स शामिल हैं, जिनका सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है।

DRDO ने चांदीपुर से दागीं दो VSHORADS मिसाइलें, जानिए क्या है अहमियत
DRDO Missile Test: डीआरडीओ ने किया मिसाइल का सफल परीक्षण (Photo- ANI)

DRDO: रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ने मंगलवार (27 सितंबर) को ओडिशा के तट से दूर एकीकृत परीक्षण रेंज चांदीपुर में जमीन पर आधारित पोर्टेबल लॉन्चर से वेरी-शॉर्ट रेंज एयर डिफेंस सिस्टम मिसाइल की दो परीक्षण उड़ानें सफलतापूर्वक किया। डीआरडीओ के अनुसार, VSHORADS एक स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित मैन पोर्टेबल एयर डिफेंस सिस्टम है। यह अनुसंधान केंद्र इमारत , हैदराबाद द्वारा अन्य डीआरडीओ प्रयोगशालाओं और भारतीय उद्योग भागीदारों के सहयोग से बनाया गया था।

समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, VSHORADS में कई नई तकनीकों को शामिल किया गया है। जिसमें एक छोटी नियंत्रण प्रणाली और एकीकृत एवियोनिक्स शामिल हैं, जिनका सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है। एक ड्यूल थ्रस्ट सॉलिड मोटर मिसाइल को आगे बढ़ाती है। जिसे कम दूरी पर कम ऊंचाई वाले हवाई खतरों का मुकाबला करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। लॉन्चर समेत मिसाइल के डिजाइन को पोर्टेबिलिटी के लिए अत्यधिक अनुकूलित किया गया है। दोनों उड़ान परीक्षणों ने मिशन के उद्देश्यों को पूरी तरह से पूरा किया।

जानिए क्या है मिसाइल की अहमियत

बहुस्तरीय वायु रक्षा नेटवर्क में VSHORAD दुश्मन के लड़ाकू विमानों और हेलीकॉप्टरों के खिलाफ सैनिक की अंतिम रक्षा पंक्ति है। ये बहुत कम दूरी की वायु रक्षा मिसाइलें किसी भी बड़े शहर या रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण स्थान की रक्षा के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण मानी जाती हैं। भारतीय सेना के पास एयर डिफेंस गन्स L-70 और ZU-23 जैसे मौजूदा स्टॉक चार दशक से अधिक पुराने हैं।

8 सितंबर को ओडिशा तट पर QRSAM की हुआ था सफल परीक्षण

इससे पहले 8 सितंबर को ओडिशा तट से त्वरित प्रतिक्रिया सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल (QRSAM) प्रणाली के छह उड़ान परीक्षणों को सफलतापूर्वक पूरा किया था। लंबी दूरी की मध्यम ऊंचाई, कम दूरी की ऊंचाई, ऊंचाई वाले पैंतरेबाज़ी लक्ष्य, घटते समय के साथ कम रडार समेत कई परिदृश्यों के तहत हथियार प्रणालियों की क्षमता का मूल्यांकन करने के लिए हवाई खतरों की नकल करते हुए उच्च गति वाले हवाई लक्ष्यों के खिलाफ उड़ान परीक्षण किए गए थे।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 27-09-2022 at 08:39:19 pm
अपडेट