ताज़ा खबर
 

सलाह: दिल्ली पुलिस चालान नहीं, जीवनरक्षा को प्राथमिकता दे – डॉ. हर्षवर्धन

दिल्ली पुलिस की जिम्मेदारी कानून व्यवस्था बनाने के अलावा कोरोना काल में लोगों की जीवनरक्षा में मदद देना है। -डॉ. हर्षवर्धन

Author नई दिल्ली | Updated: November 7, 2020 7:03 AM
केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन।

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि पुलिस चालान से ज्यादा जीवनरक्षा को प्राथमिकता दे। डॉ हर्षवर्धन उत्तरी जिले के पुलिस उपायुक्त अंटो अल्फोंस की मौजूदगी में एक सभा को संबोधित कर रहे थे। डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि दिल्ली पुलिस की जिम्मेदारी कानून व्यवस्था बनाने के अलावा कोरोना काल में लोगों की जीवनरक्षा में मदद देना है।

कोरोना से बचाव के उपायों का पालन कराना और जीवनरक्षा को प्राथमिकता देना पुलिस का पहला दायित्व बनता है, जबकि चालान करना गौण विषय है। इसलिए दिल्ली पुलिस के कर्मचारियों को स्वयं को कोरोना योद्धा मानते हुए कोरोना से बचाव के उपायों का पालन कराना है।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि हम कोरोना के खिलाफ निर्णायक युद्ध की ओर बढ़ रहे हैं। विजय की ओर संकल्प के साथ हम तभी आगे बढ़ सकेंगे जब हम सभी कोरोना से बचाव के साधारण उपायों का पूरी तरह पालन करेंगे। इन उपायों का पालन कराने में यदि पुलिस को थोड़ी नरमी और कभी मामूली सख्ती बरतनी पड़े तो उससे संकोच नहीं करना चाहिए।

पुलिस को अपनी कार्रवाई से जनता के मन में यह विश्वास उत्पन्न कराना है कि वह लोगों की भलाई के लिए काम करती है। इस अवसर पर समिति के 25 सक्रिय सदस्य तथा वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुधांशु त्रिवेदी से बोले पैनलिस्ट- इतिहास पढ़िये, NRC और CAA के नाम पर पार्टिसन कर रहे हैं, भाजपा नेता ने दिया यह जवाब
2 सरकार ने रद्द किए करीब 4.4 करोड़ राशन कार्ड, बताई ये वजह
3 फर्जी जॉब पोर्टल ने 27,000 बेरोजगारों को दिया धोखा, ठगे 1.09 करोड़ रुपए
यह पढ़ा क्या?
X