scorecardresearch

Trump India Visit: डोनाल्‍ड ट्रंप के 36 घंटे के दौरे पर भारत सरकार ने खर्च क‍िए थे 38 लाख रुपए- आरटीआई से खुलासा

Trump Visit India 2020: विदेश मंत्रालय का जवाब देखने के बाद मुख्य सूचना आयुक्त वाई के सिन्हा ने कहा कि मंत्रालय ने जवाब देने में देरी का संतोषजनक कारण बताया है।

Trump India Visit: डोनाल्‍ड ट्रंप के 36 घंटे के दौरे पर भारत सरकार ने खर्च क‍िए थे 38 लाख रुपए- आरटीआई से खुलासा
डोनाल्ड ट्रंप भारत यात्रा 2020, Trump India Visit (Source- Express photo: Renuka Puri)

Donald Trump India Tour 2020: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी 2020 को भारत दौरे पर आए थे। ट्रंप के इस भारत दौरे पर सरकार ने कितना खर्च किया इस बारे में एक आरटीआई के माध्यम से जानकारी मांगी गयी है। जिसके जवाब में विदेश मंत्रालय ने केंद्रीय सूचना आयोग को बताया कि केंद्र ने 2020 में पूर्व अमेरिकी ट्रंप की 36 घंटे की सरकारी यात्रा पर 38 लाख रुपए खर्च किए थे।

विदेश मंत्रालय ने जानकारी दी कि ये पैसा ट्रंप के रहने, खाने, सुरक्षा पर खर्च हुआ था। अपनी पहली भारत यात्रा पर ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया, बेटी इवांका, दामाद जेरेड कुशनर और कई शीर्ष अमेरिकी अधिकारियों के साथ 24-25 फरवरी 2020 को अहमदाबाद, आगरा और दिल्ली गए थे।

अहमदाबाद, आगरा और दिल्ली गए थे ट्रंप: डोनाल्‍ड ट्रंप ने 24 फरवरी को अहमदाबाद में तीन घंटे बिताए थे। इस दौरान उन्होंने 22 किलोमीटर लंबे रोड शो में भाग लिया था, साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी थी और नवनिर्मित मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक विशाल सभा ‘नमस्ते ट्रंप’ को संबोधित किया था। जिसके बाद ट्रंप 24 फरवरी 2020 को ही ताजमहल देखने आगरा गए थे। उन्होंने 25 फरवरी को राजधानी दिल्ली का दौरा किया था जहां उन्होंने पीएम मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता की।

2020 की RTI का 2022 में जवाब: दरअसल मिशाल भठेना नाम के एक शख्स ने RTI दायर कर विदेश मंत्रालय से ट्रंप के भारत दौरे को दौरान हुए खर्चों की जानकारी मांगी थी। RTI में पूछा गया था कि भारत सरकार ने इस दौरे पर कुल कितना पैसा खर्च किया? भोजन, सुरक्षा, आवास, उड़ानें, परिवहन, आदि पर कितने पैसे खर्च किए गए थे? मिशाल भठेना ने 2020 में RTI दायर की थी।

मिशाल भटेना ने 24 अक्टूबर 2020 को पहली आरटीआई दायर की थी, जिसका उन्हें कोई जवाब नहीं मिला था। जिसके बाद उन्होंने आरटीआई मामलों में सर्वोच्च अपीलीय प्राधिकारी ‘केंद्रीय सूचना आयोग’ से संपर्क किया। वहीं, दूसरी ओर विदेश मंत्रालय ने जवाब में देरी के लिए कोरोना महामारी का हवाला देते हुए 4 अगस्त 2022 को आयोग को जवाब दिया।

अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप खर्च: विदेश मंत्रालय ने दिए गए जवाब में कहा, “मेजबान देश किसी भी देश के शीर्ष नेता, सरकार के शीर्ष नुमाइंदों के आने पर जो खर्च करते हैं, वह पहले से चले आ रहे अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप ही किया जाता है। इस संदर्भ में, भारत सरकार ने 24-25 फरवरी तक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड जे ट्रंप की भारत यात्रा पर आवास, भोजन, सुरक्षा पर लगभग 38,00,000 रुपए खर्च किए।”

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट