ताज़ा खबर
 

सात देशों के मुसलमानों की एंट्री रोकने के फरमान से अमेरिका में अफरातफरी, कोर्ट ने डोनाल्ड ट्रम्प के आदेश पर लगाई आंशिक रोक

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सात मुस्लिम देशों के लोगों के अमेरिका में घुसने पर रोक लगाई।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप। (Source: AP Photo)

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सात मुस्लिम देशों के लोगों के अमेरिका में घुसने पर रोक लगाई। उनके इस फैसले से अमेरिका के साथ-साथ दुनिया भर के लोग परेशान हैं। अमेरिका के इस फैसले से 130 मिलियन लोगों पर सीधे-सीधे प्रभाव पड़ने वाला है। यूएस के एयरपोर्ट्स पर भी इसको लेकर भ्रामक स्थिति बनी हुई है। ट्रंप के ऑर्डर के हिसाब से सात मुस्लिम बहुल देशों के लोगों को अगले 90 दिनों तक अमेरिका में नहीं घुसने दिया जाएगा। इसके अलावा 120 दिनों तक कोई शरणार्थी भी वहां नहीं जा पाएगा। न्यू यॉर्क के एक संघीय न्यायाधीश ने शनिवार को कुछ लोगों को अमेरिका से निकाले जाने पर रोक लगा दी। वे लोग यूएस एयरपोर्ट्स पर फंसे हुए थे। कार्यकारी कार्रवाई के तहत उन्हें वहां से जाने के लिए कहा जा रहा था।

इस वजह से अब अमेरिका के सभी एयरपोर्ट्स पर बाहरी लोगों की भीड़ है जिन्हें अंदर घुसने नहीं दिया जा रहा। ऑर्डर आने से पहले तक दो ईराकियों को अमेरिका में घुसने का वीजा दे दिया गया था। लेकिन अब उन्हें अंदर घुसने से रोक लिया गया है और एयरपोर्ट पर ही पकड़कर रखा गया है। जिन देशों के लोगों की एंट्री बैन की गई है उसमें इराक, सीरिया, ईरान, सूडान, लीबिया, सोमालिया और यमन शामिल हैं।

डोनाल्ड ट्रंप के इस फैसले से सभी लोग परेशान हैं। फेसबुक के CEO मार्क जकरबर्ग ने फेसबुक पर अपनी चिंता जाहिर की थी। शुक्रवार (27 जनवरी) को लिखे गए उस पोस्ट में जुकरबर्ग ने ट्रंप से निवेदन किया है कि वह शर्णार्थियों के लिए अमेरिका के दरवाजे बंद ना करें।

इस वक्त की बाकी ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App