ताज़ा खबर
 

पद्मावती को लेकर गरजे गिरिराज, पूछा- संजय लीला भंसाली बनाएंगे क्या किसी और मजहब पर फिल्म?

गिरिराज से पहले केंद्रीय मंत्री उमा भारती इस मसले पर खुला खत लिख चुकी हैं। उन्होंने उसमें कहा था कि ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ न की जाए।

Giriraj Singh, Cabinet Minister Giriraj, BJP Giriraj Singh, Bihar, Sonia Gandhi, Controversial Statement, Giriraj Controversyकेंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह। (फाइल)

फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बॉलीवुड डायरेक्टर्स पर गरजे हैं। मंत्री ने उन्हें खुली चुनौती देते हुए पूछा है कि क्या उनमें हिंदू धर्म के अलावा बाकी धर्मों पर फिल्में बनाने का दम है। क्या वे उन पर टिप्पणी कर सकते हैं?” गिरिराज से पहले केंद्रीय मंत्री उमा भारती इस मसले पर खुला खत लिख चुकी हैं। उन्होंने उसमें कहा था कि ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ न की जाए। उधर, सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी साफ कर चुकी हैं कि सरकार फिल्म रिलीज होने में कोई दिक्कत नहीं आने देगी। न्यूज एजेंसी एनएआई के मुताबिक, मंत्री ने रविवार को कहा, “क्या संजय लीला भंसाली या कोई और फिल्म डायरेक्टर बाकी धर्मों पर फिल्म बना सकता है या उन पर टिप्पणी कर सकता है? वे हिंदू गुरुओं, देवों और योद्धाओं पर फिल्में बनाते हैं। अब हम इसे और नहीं सहेंगे।”

शनिवार को उमा भारती ने भी खुला खत लिखा था। उसमें उन्होंने अभिव्यक्ति की आजादी का समर्थन किया था। मगर एक सीमा होना का जिक्र भी किया था। उनका कहना था कि ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ नहीं की जानी चाहिए। अलाद्दीन खिलजी की राजी पद्मावती पर बुरी निगाह थी, जिसके लिए चित्तौड़ को उसने बर्बाद कर दिया था। विवाद सुलझाने के लिए उन्होंने सुझाव दिया था कि फिल्मकार, इतिहासकार, आपत्ति जताने वाले पक्ष के प्रतिनिधि और सेंसर बोर्ड इस पर समिति का गठन करे और फिर फैसला दे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 फिर बोले शत्रुघ्न सिन्हा- अगर बीजेपी ‘वन मैन शो’ और ‘टू मैन आर्मी’ बनी रही तो विनाश तय!
2 इंजीनियरिंग की कोचिंग कराने वाले संस्‍थानों को फॉलो करनी होगी ये गाइडलाइंस
3 ‘देश के लिए कुर्बानी का मतलब ये नहीं कि सैनिक जान गंवा दें, आपको दुश्‍मनों का सफाया करना चाहिए’
ये पढ़ा क्या?
X