टीवी डिबेट में डॉक्टर बोले- सरकार कह रही बेड बढ़ाओ, यहां सांस लेने के लाले पड़े, लोग तैयार नहीं अस्पताल आने को

टीवी डिबेट के दौरान जयपुर गोल्डन अस्पताल के निदेशक डॉ डी के बलूजा ख़राब स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर भड़क गए और कहने लगे कि किसी भी धर्म में ऑक्सीजन की कमी की वजह से कीड़ो मकोड़ों तक को मरने नहीं दिया जाता है

oxygen crisis, tv debate, delhiटीवी डिबेट के दौरान जयपुर गोल्डन अस्पताल के निदेशक डॉ डी के बलूजा ने भावुक हो कर कहा कि ऑक्सीजन की कमी से जो लोग मरे हैं, उन्हें आसानी से बचाया जा सकता था। (फोटो – पीटीआई)

देशभर में कोरोना का संक्रमण काफी तेजी से फ़ैल रहा है। कोरोना वायरस के बेकाबू हो जाने के कारण देश की स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत काफी ख़राब हो गई है। जिसकी वजह से कई कोरोना संक्रमित अस्पताल में भर्ती ना हो पाने की वजह से सड़क पर ही दम तोड़ रहे हैं तो कईयों की मौत ऑक्सीजन की कमी की वजह से हो रही है। इसी मुद्दे पर एक टीवी डिबेट के दौरान पैनल में रहे एक डॉक्टर भड़क गए। डॉक्टर कहने लगे कि सरकार अस्पतालों को दवाब बढ़ाने के लिए कह रही है लेकिन यहां सांस लेने के लाले पड़े हैं और लोग अस्पताल आने को भी तैयार नहीं हैं।

न्यूज 24 पर एंकर संदीप चौधरी के कार्यक्रम में टीवी डिबेट के दौरान जयपुर गोल्डन अस्पताल के निदेशक डॉ डी के बलूजा ख़राब स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर भड़क गए। डी के बलूजा ने कहा कि किसी भी धर्म में ऑक्सीजन की कमी की वजह से कीड़ो मकोड़ों तक को मरने नहीं दिया जाता है। ऑक्सीजन की कमी से जो लोग मरे हैं, उन्हें बचाया जा सकता था। आगे डॉक्टर बलूजा ने कहा कि सरकार एकतरफ बेड बढ़ाने के लिए कह रही है और यहां सांस लेने के लाले पड़े हैं। मरीज अस्पताल में भर्ती होने को तैयार नहीं हैं। 

इसके अलावा डॉ बलूजा ने कहा कि कोई भी डॉक्टर किसी को भी अस्पताल से बाहर निकाल कर मरने के लिए छोड़ नहीं सकते हैं। लेकिन ऑक्सीजन की कमी की वजह से ऐसा हुआ है, जो नहीं होना चाहिए था। टीवी डिबेट के दौरान इतना कहते ही डॉ बलूजा भावुक हो गए और कहने लगे कि 24 घंटे के अंदर हमारे हॉस्पिटल ने दो बार क्राइसिस झेली है। मैं विदेश की नौकरी छोड़कर इसलिए भारत आया था कि ताकि अपने लोगों की सेवा कर सकूं। ऐसी स्थिति देखकर मुझे तो अपने आप पर ही लानत आता है।  

बता दें कि दिल्ली के जयपुर गोल्डन अस्पताल में शुक्रवार शाम ऑक्सीजन की कमी से 25 मरीजों की मौत हो गई थी। इससे पहले दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में 25 मरीजों की मौत ऑक्सीजन की कमी की वजह से हो चुकी है। 

देश में एक दिन में कोविड-19 के 3,52,991 नए मामले सामने आने के साथ संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,73,13,163 पर पहुंच गए जबकि एक्टिव केसों की संख्या 28 लाख से अधिक हो गई है। इन आंकड़ों के अनुसार एक दिन में 2,812 संक्रमितों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 1,95,123 हो गई है। देश में सबसे ज्यादा 832 मौतें महाराष्ट्र में हुई।

Next Stories
1 PMO पर बरसे बीजेपी सांसद, कहा- एक अधिकारी के इशारे पर IT सेल बना रही निशाना, पीएम को भेजे थे वल्गर ट्वीट्स, नहीं रुका सिलसिला
2 पंजाब में कांग्रेस विधायक ने कोरोना प्रोटोकॉल की उड़ाई धज्जियां, बिना मास्क शादी में किया भीड़ के साथ भंगड़ा
3 ऑक्सीजन की कमी पर बीजेपी और AAP ने एक दूसरे पर फोड़ा ठीकरा, एंकर का तंज- टोपी पहनाने वाला काम छोड़ दीजिए
आज का राशिफल
X