ताज़ा खबर
 

‘गलत प्रोजेक्ट मत करें’, एंकर पर बिफरे छत्तीसगढ़ CM, पूछा- PM नरेंद्र मोदी ने कुछ भी मदद की क्या?

हालांकि, बात में एंकर ने सफाई देते हुए स्वीकारा कि वह गलत ढंग से बात को पेश नहीं कर रही हैं।

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल।

कोरोना वायरस के मुद्दे पर एक टीवी शो में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शुक्रवार को एंकर पर बिफर गए। उन्होंने दो टूक कहा- आप गलत प्रोजेक्ट न करें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसी राज्य की कुछ मदद की है क्या?

यह मामला ABP News से जुड़ा है। एंकर शोभना यादव कोरोना को लेकर सीएम से सवाल पूछ रही थीं, जिस पर बघेल बोले- हमारी तैयारी पूरी है। जितने विदेश से आए हैं, उन्हें पहले हमने होम क्वारंटाइन रखा। इनकी संख्या करीब 65 हजार है। हमें इसी वजह से हालात काबू रखने में मदद मिली है।

Coronavirus in India LIVE Updates

बकौल बघेल, “हमारे यहां लक्षण बढ़ने के नहीं दिख रहे हैं। तबलीगी जमात से जुड़े जो लोग यहां आए हैं, उन्हें ट्रेस किया जा रहा है। प्रशासन जुटा है। सभी लोग सहयोग कर रहे हैं।” मोदी को सीएम द्वारा लिखी आर्थिक मदद को लेकर चिट्ठी पर कहा- भारत सरकार ने आदेश के अलावा क्या उपलब्ध कराया है। जो भी खर्च हो रहे हैं, वे राज्य सरकार कर रहे हैं। भारत सरकार से एक भी ढेला नहीं मिला है। मजदूरों की रोजी-रोटी छिन गई है, इसलिए अभी रकम मिल जाएगी तब गरीबों की मदद हो जाएगी।

Coronavirus Latest News LIVE Updates

एंकर ने इस पर कहा, ‘ये तो सियासत है…।’ सीएम ने इसी पर जवाब दिया- ये सियासत आपकी है…मैं क्षमा चाहूंगा। आगे आने वाले वक्त के लिए हमें तैयारी करनी होगी। ये पत्र आगे आने वाले संकट के लिए है, न कि दबाव बनाने के लिए है। आप इसे गलत ढंग से इलैब्रेट मत करिए। हालांकि, बात में एंकर ने सफाई देते हुए स्वीकारा कि वह गलत ढंग से बात को पेश नहीं कर रही हैं।

Coronavirus in India State-Wise LIVE Updates

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 Coronavirus: पीएम मोदी की ‘बत्ती बंद’ अपील पर लोगों का फूटा गुस्सा, ट्विटर पर जमकर कर रहे ट्रोल
2 कोरोना संकट के बीच तब्लीगी जमात से हुई घोर लापरवाही? सिर्फ दो दिन में 14 राज्यों के 647 लोगों में पाया गया संक्रमण
3 लॉकडाउन से प्रभावित प्रवासी मजदूरों और छोटे कारोबारियों को क्यों न दी जाए न्यूनतम मजदूरी? PIL पर SC ने केंद्र को जारी किया नोटिस