ताज़ा खबर
 

मेट्रो स्टेशन में मोबाइल फोन के जरिये भी कर सकेंगे प्रवेश, DMRC ने कहा- चलेगा वन नेशन, वन कार्ड

दिल्ली मेट्रो के आगामी चौथे चरण की लाइनों में ऑटोमेटिक किराया लेने की व्यवस्था होगी। नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) को ध्यान में रखते इसे बनाया जाएगा। इस साल के अंत तक एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर दोनों सुविधाएं शुरू की जा सकती हैं।

नई दिल्ली | Updated: September 13, 2020 9:42 PM
चौथे चरण में तीन कॉरिडोर पर 61.679 किलोमीटर की लाइन तैयार की जाएगी, जिसमें 45 मेट्रो स्टेशन होंगे। (फाइल फोटो)

दिल्ली मेट्रो के फेज 4 के तहत बनने वाले स्टेशनों में मोबाइल फोन के जरिये भी प्रवेश किया जा सकेगा। डीएमआरसी ने कहा कि चौथे चरण की लाइनों में वन नेशन, वन कार्ड भी स्वीकार्य होगा। डीएमआरसी के प्रमुख मंगू सिंह ने कहा है कि दिल्ली मेट्रो के आगामी चौथे चरण की लाइनों में स्वचालित किराया लेने की व्यवस्था होगी।

नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) को ध्यान में रखते इसे बनाया जाएगा और यात्री मोबाइल फोन के जरिए भी स्टेशन के भीतर आ-जा सकेंगे। दिल्ली मेट्रो को आधुनिक मेट्रो प्रणाली बताते हुए उन्होंने कहा कि इस साल के अंत तक एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर दोनों सुविधाएं शुरू की जा सकती हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में विकसित एनसीएमसी की मार्च 2019 में शुरुआत की थी। इसके तहत लोग एक कार्ड के जरिए देश भर में मेटूो और बस सेवाओं में सफर समेत विभिन्न तरह के परिवहन शुल्क को अदा कर सकते हैं।

सिंह ने कहा कि सिओल मेट्रो समेत विभिन्न देशों में आधुनिक प्रणाली में स्वचालित किराया संग्रहण (एएफसी) गेट से अंदर-बाहर होने के लिए मोबाइल फोन के इस्तेमाल की सुविधा उपलब्ध है । उन्होंने कहा, ‘‘हम बेहतरीन प्रोद्यौगिकी और अन्य उपायों के जरिए अपनी प्रणाली को बेहतर करने के लिए लगातार काम कर रहे हैं।

चौथे चरण में एएफसी प्रणाली में नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड का इस्तेमाल हो सकेगा।’’ सिंह ने कहा, ‘‘मोबाइल फोन भी स्मार्ट कार्ड की तरह काम करेगा और यात्री चौथे चरण की लाइनों में एएफसी गेटों से आने-जाने के लिए इसका इस्तेमाल कर पाएंगे।’ बहरहाल, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के प्रबंध निदेशक ने कहा कि ई-भुगतान प्रणाली और प्रौद्योगिकी में तेजी से बदलाव हो रहा है और चाथे चरण का काम पूरा होने तक कोई नयी प्रौद्योगिकी आ सकती है।

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन, हमें कुछ समय के लिए इस पर काम करना होगा और एनसीएमसी एवं मोबाइल फोन के जरिए स्टेशन के भीतर आने-जाने की सुविधा इस साल के अंत तक एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर उपलब्ध करायी जा सकती है।’’ वर्तमान में एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर यात्री मोबाइल फोन पर क्यूआर कोड का इस्तेमाल करते हुए एएफसी गेट से आवाजाही कर सकते हैं, जिसे मेट्रो के काउंटर से एकत्र किया जा सकता है।

लेकिन, भविष्य में ऐसी प्रणाली लाने की योजना है जिसमें यात्री खुद ही फोन पर क्यूआर कोड जेनरेट करेंगे और इसका इस्तेमाल करते हुए एएफसी गेट के जरिए आवाजाही कर सकेंगे।  प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल मार्च में दिल्ली मेट्रो के प्रस्तावित चौथे चरण के छह कॉरिडोर में से तीन को मंजूरी दी थी।

चौथे चरण के लिए मंजूर खंड के तहत तीन विभिन्न कॉरिडोर पर 61.679 किलोमीटर की लाइन तैयार की जाएगी, जिसमें कि 45 मेट्रो स्टेशन होंगे ।

Next Stories
1 VIDEO: अरे, तुम क्या उखाड़ोगे रे? मैं तुम्हारा घमंड उखाड़ दूंगा- Republic TV पर शो में संजय राउत पर आपा खो बैठे अर्नब गोस्वामी
2 दिल्ली दंगे में येचुरी समेत 5 अभियुक्त नहीं, BJP प्रवक्ता का दावा- इन्होंने ही भड़काएं दंगे, मुस्लिमों का किया ‘ब्रेनवॉश’
3 बंदूकों संग लाशें जम चुकी थीं, हम खींच रहे थे तो शरीर के जमे हिस्से भी बाहर आ गए थे- 1962 की जंग लड़ने वाले सैनिक बोले- सर्दियों में हुई जंग तो बढ़ेगी चुनौती
ये पढ़ा क्या?
X