ताज़ा खबर
 

जन्म देते ही मर गई मां, पिता ने पालने में जताई असमर्थता तो डीएम ने फौरन ले लिया गोद

जन्म के समय बच्ची की मां की मौत हो गई। आणंद के नजदीक वलसाद गांव के आरोग्य केंद्र अस्पताल में अपनी तीसरी बच्ची को जन्म देने के दौरान महिला की मौत हो गई जिसके बाद जिलाधिकारी ने बच्ची को गोद लिया।

Author आणंद | Published on: August 18, 2019 8:04 PM
गुजरात के आनंद में बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ अभियान को चरितार्थ करने वाला एक घटना सामने आई है। (सांकेतिक तस्वीर)

गुजरात के आणंद में बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ अभियान को चरितार्थ करने वाला एक घटना सामने आई है। दरअसल आणंद के एक जिलाधिकारी और उनकी पत्नी ने एक नवजात बच्ची को गोद लिया है। जिलाधिकारी की पत्नी जज हैं दोनों ने साथ मिलकर इस बच्ची को गोद लिया है। जन्म के समय बच्ची की मां की मौत हो गई। आणंद के नजदीक वलसाद गांव के आरोग्य केंद्र अस्पताल में अपनी तीसरी बच्ची को जन्म देने के दौरान महिला की मौत हो गई जिसके बाद जिलाधिकारी ने बच्ची को गोद लिया। पत्नी की मौत के बाद बच्ची के पिता उसके भविष्य को लेकर परेशान थेBeti

आणंद  जिले के जिलाधिकारी अमित प्रकाश यादव को घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने बच्ची को गोद लेने का फैसला लिया। अमित प्रकाश यादव ने अपनी पत्नी चित्रा को घटना के बारे में बताया जिसके बाद दोनों जल्दी से अस्पताल पहुंचे।

बच्ची के घर की हालत पता चलने पर बच्ची के पिता और उसके परिवार की सहमति के बाद दोनों ने बच्ची को गोद लिया। वलसाद ग्रामीण अस्पताल माही नदी के किनारे है जहां बच्ची का जन्म हुआ जिसके बाद उन्होंने बच्ची का नाम माही रखने का फैसला किया। बता दें कि अमित प्रकाश और चित्रा डेढ़ साल के बच्चे के पिता हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 EWS कैटगरी के छोटे कर्ज माफ कर सकती है सरकार, पांच साल बाद ही मिलेगा दोबारा लाभ
2 ‘हफ्ते में 20 घंटे, साल में 190 दिन पढ़ाई, होमवर्क नहीं’, फिनलैंड जैसी शिक्षा नीति चाहते हैं संघ प्रमुख मोहन भागवत
3 ‘भटक गई हमारी पार्टी’, परिवर्तन रैली में बोले पूर्व कांग्रेसी सीएम हुड्डा, 370 हटाने का भी किया समर्थन