अमर सिंह ने अखिलेश से कहा- पीएम मोदी ने मुझे 'ढूंढा', आपके पेट में दर्द क्यों है - Disgruntled samajwadi party leader Amar Singh attacks Akhilesh yadav says he will never me able to forget me - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अमर सिंह ने अखिलेश से कहा- पीएम मोदी ने मुझे ‘ढूंढा’, आपके पेट में दर्द क्यों है

"आदरणीय नरेंद्र मोदी, ना तो जिनकी मैंने राजनीति की, ना जिन पर उपकार किया, ना जिनके दर्शन में रहा और ना ही चिंतन में रहा...उन्होंने साढ़े चार साल में मुझे ढूंढ तो लिया...पेट में दर्द क्यों है...मन में पीड़ा क्यों है, ये तंज क्यों है...।"

लखनऊ में 29 जुलाई को एक कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी का अभिवादन करते पूर्व सपा नेता अमर सिंह (Express photo by Vishal Srivastav)

समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह ने अखिलेश यादव पर हमला बोला है। अमर सिंह ने कहा कि वे अखिलेश यादव को बचपन से जानते हैं, लेकिन अखिलेश उन्हें ढूंढ नहीं पाए, लेकिन मोदी जी ने साढ़े चार साल के बाद ही उन्हें ढूंढ लिया, तो उन्हें पेट में क्यों दर्द हो रहा है। अमर सिंह ने ये जबाव अखिलेश के उस तंज में दिया है जब अखिलेश ने मोदी और अमर सिंह की बढ़ती दोस्ती पर तंज कसा था। बता दें कि एक टीवी इंटरव्यू में अखिलेश से जब पूछा गया था कि क्या अमर सिंह एक बार फिर से समाजवादी पार्टी में लौट सकते हैं।

इसके जवाब में अखिलेश ने कहा था कि अमर सिंह पार्टी में लौट सकते हैं, लेकिन वे मौजूदा समय में पीएम के साथ हैं, तो क्या वे सपा में आने के लिए पीएम को छोड़ेंगे। अखिलेश ने यह भी कहा था कि पीएम मोदी विदेशों में जमा कालेधन को वापस लाने में फेल रहे हैं, इसलिए उन्हें अमर सिंह की उपयोगिता समझ में आ रही है। इसके बाद अमर सिंह ने अखिलेश के इस तंज के जवाब में एक वीडियो पोस्ट किया और एक गाने का जिक्र करते हुए कहा कि तुम मुझे कभी भुला ना पाओगे।

अमर सिंह ने कहा, “अखिलेश जी आपको बाल्यावस्था से जानता हूं, आप बालक से युवा हुए…आपकी पढ़ाई लिखाई से लेकर राजनीति तक इस आईने में आप कोई शक्ल देखेंगे तो एक शक्ल दिखाई देगी अंकल की…तुम मुझे यूं ना भुला पाओगे…जब भी सुनोओ तुम गीत मेरे…साथ साथ गाओगे…ये आपके बचपन का गीत है।” अमर सिंह ने आगे कहा, “बचपन से जवानी और जवानी से अबतक की यात्रा में साथ रहते हुए अबतक आप मुझे ढूंढ नहीं पाए…आदरणीय नरेंद्र मोदी, ना तो जिनकी मैंने राजनीति की, ना जिन पर उपकार किया, ना जिनके दर्शन में रहा और ना ही चिंतन में रहा…उन्होंने साढ़े चार साल में मुझे ढूंढ तो लिया…पेट में दर्द क्यों है…मन में पीड़ा क्यों है, ये तंज क्यों है…।” अमर सिंह ने कहा कि अखिलेश जहां रहें…स्वस्थ रहें…प्रसन्न रहें…और अमर सिंह का भूत उनको ना सताये।” बता दें कि कुछ दिन पहले अमर सिंह ने कहा था कि उनका जीवन नरेंद्र मोदी के लिए समर्पित है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App