ताज़ा खबर
 

PAK हाई कमिश्‍नर को भारत की दो टूक- उच्‍चायुक्‍तों के काम में दखल न दे पाकिस्‍तान

भारतीय हाई कमिश्नर गौतम बंबावाले के साथ पाकिस्तान में हुए दुर्व्यवहार पर विरोध दर्ज कराने के लिए विदेश मंत्रालय की ओर से बासित को तलब किया गया।
Author नई दिल्ली | September 7, 2016 17:04 pm
भारत में पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित। (पीटीआई फाइल फोटो)

भारत ने बुधवार को पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को समन जारी कर तलब किया। भारतीय हाई कमिश्नर गौतम बंबावाले के साथ पाकिस्तान में हुए दुर्व्यवहार पर विरोध दर्ज कराने के लिए विदेश मंत्रालय की ओर से बासित को तलब किया गया। बता दें कि मंगलवार को पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त गौतम बंबावले का कार्यक्रम था, जिसे बिना कारण बताए रद्द कर दिया गया।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरुप ने बुधवार को जानकारी देते हुए कहा कि विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को समन किया और भारतीय उच्चायुक्त के साथ बेअदबी के मामले में चिंता व्यक्त करने के लिए बुलाया था। विदेश मंत्रालय के मुताबिक अब्दुल बासित से यह कहा गया कि भारत को उम्मीद है कि पाक में उच्चायुक्तों को बिना किसी रुकावट के अपना कामकाज करने दिया जाएगा।

बता दें कि बुधवार को भारतीय हाई कमिश्नर गौतम बंबावले का कार्यक्रम तय समय से आधे घंटे पहले रद्द कर दिया गया था। उच्चायुक्त बंबावले को व्यावसायिक समुदाय को संबोधित करना था। प्रोग्राम कराची चैंबर्स ऑफ कॉर्म्स की ओर से रद्द किया गया था। हालांकि कार्यक्रम रद्द करने का कारण नहीं बताया गया था। भारतीय उच्चायुक्त का कार्यक्रम रद्द होने के पीछे उनके कश्मीर को लेकर दिए बयान को इसकी वजह बताया जा रहा था। भारतीय राजदूत ने कश्मीर हिंसा को लेकर बात करते हुए कहा था कि यह भारत का आंतरिक मामला है। भारत और पाकिस्‍तान, दोनों देशों में परेशानियां हैं और आपको (पाकिस्‍तान) को दूसरे देशों की समस्‍याओं में झांकने की बजाय अपनी समस्‍याओं को दूर करने पर ध्‍यान देना चाहिए। उन्होंने कहा था कि कश्‍मीर भूल जाइए और व्‍यापार पर ध्यान दीजिए। व्‍यापार बढ़ाने के लिए, पाकिस्‍तान द्वारा भारत को ‘मोस्‍ट फेवर्ड नेशन’ का दर्जा दिया जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.