ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी पर दिग्विजय सिंह के भाई का हमला! कहा, “दस दिन में लोन माफ करने को कहा था, अब मांफी मांगे”

2018 में विधानसभा चुनावों के प्रचार के दौरान, राहुल ने एक से अधिक मौकों पर कहा था कि अगर कांग्रेस को वोट दिया जाता है, तो वह सत्ता में आने के दस दिनों के भीतर 2 लाख रुपये तक के कृषि ऋण माफ कर देगी।

rahul gandhiकांग्रेसी नेता राहुल गांधी। (सोर्स:इंडियन एक्सप्रेस)

मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने राहुल गांधी को प्रदेश की जनता से माफी मांगने को कहा है। बुधवार को लक्ष्मण ने कहा राहुल गांधी ने पार्टी के सत्ता में आने के दस दिनों के भीतर राज्य में कृषि ऋण माफ करने का “असंभव वादा” किया था। लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिसके लिए अब उन्हें जनता से मनफी मांगी चाहिए।

2018 में विधानसभा चुनावों के प्रचार के दौरान, राहुल ने एक से अधिक मौकों पर कहा था कि अगर कांग्रेस को वोट दिया जाता है, तो वह सत्ता में आने के दस दिनों के भीतर 2 लाख रुपये तक के कृषि ऋण माफ कर देगी। द इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए, लक्ष्मण सिंह ने कहा, “उन्हें स्वीकार करना चाहिए कि उन्होंने यह कहते हुए गलती की कि हम 10 दिनों में ऐसा करेंगे। सरकार द्वारा दिये गाए ऋण माफी प्रमाणपत्रों को बैंक नहीं ले रही है क्योंकि अबतक बैंक के पास कर्ज़ माफ करने के लिए पैसा नहीं पहुंचा है। सरकार ने पर्याप्त बजटीय आवंटन नहीं किया है।”

लक्ष्मण ने आगे कहा कि एक समय सीमा तय होनी चाहिए की ऋणों को माफ कबतक कर दिया जाएगा। आप अपने मतदाताओं के साथ ऐसा नहीं कर सकते। यहां तक ​​कि बैंकों को भी यकीन नहीं है कि उन्हें कब पैसा मिलेगा और वे ब्याज वसूल रहे हैं। राज्य सरकार ने कहा है कि 20 लाख से अधिक किसानों का कर्ज़ माफ कर दिया गया है। जल्द ही बाकी बचे किसानों का भी कर्ज़ माफ कर दिया जाएगा।

यह पूछे जाने पर कि क्या उनकी टिप्पणी भगवा पार्टी को कमलनाथ की अगुवाई वाली राज्य सरकार पर हमला करने का मौका देगी, सिंह ने कहा, “मुझे परवाह नहीं है… हम सभी इंसान हैं और गलतियां करते हैं। माफी मांगने में कुछ गलत नहीं है। यह एक अच्छा संदेश भेजेगा।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बीजेपी एमपी साध्वी प्रज्ञा पर केस, पत्रकारों से कहा था- सब बेईमान हो, एक भी ईमानदार नहीं है
2 CJI रंजन गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली सुप्रीम कोर्ट की पूर्व महिला कर्मचारी के खिलाफ केस बंद
3 रिपोर्ट: 27 सालों में दो-तिहाई घटा बच्चों में कुपोषण का मामला, मगर अभी भी पांच से साल से कम 68% बच्चे हैं देश में कुपोषित
ये पढ़ा क्या...
X