कश्मीर में 370 बहाल करने की बात पर दिग्विजय सिंह का भाजपा को जवाब, कहा- भ्रम का शिकार हैं, मोदी-शाह को हटाने को तैयार कांग्रेस

दिग्विजय सिंह ने यह टिप्पणी करके एक विवाद को जन्म दे दिया कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना और राज्य का दर्जा खत्म करना ‘बहुत दुखद’ है तथा उनकी पार्टी इस पर पुनर्विचार करेगी।

"Digvijay Singh, BJP, modi, bangladesh, tweet, दिग्विजय सिंह , एआईएमआईएम, असदुद्दीन ओवैसी , कांग्रेस
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह (express file photo)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने ‘क्लब हाउस’ संवाद के दौरान यह टिप्पणी करके एक विवाद को जन्म दे दिया कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना और राज्य का दर्जा खत्म करना ‘बहुत दुखद’ है तथा उनकी पार्टी इस पर पुनर्विचार करेगी। उनकी इस टिप्पणी को लेकर भाजपा ने निशाना साधा और कांग्रेस पर भारत के खिलाफ बोलने तथा पाकिस्तान की ‘हां में हां’ मिलाने का आरोप लगाया। भाजपा का कहना है कि सिंह ने पाकिस्तानी मूल के पत्रकार के साथ संवाद के दौरान यह टिप्पणी की।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि इस मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को बयान देना चाहिए। उधर, दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर पलटवार करते हुए ट्वीट किया, ‘‘अनपढ़ लोगों की जमात को ‘शैल’ (करेंगे) और ‘कंसिडर’ (विचार करना) में फ़र्क़ शायद समझ में नहीं आता।’’ दिग्विजय सिंह ने कहा कि कुछ लोग भ्रम का शिकार हो सकते हैं लेकिन लाखों कांग्रेस कार्यकर्ता समर्थक और वे सभी जो भाजपा-मोदी-शाह शासन का विरोध कर रहे हैं, इस शासन को खत्म करने के लिए हर इंच लड़ाई लड़ेंगे। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने इस मामले पर कहा कि अगस्त, 2019 में कांग्रेस कार्य समिति ने जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर प्रस्ताव पारित किया था और वही पार्टी का आधिकारिक रुख है तथा वरिष्ठ नेताओं को उसी प्रस्ताव को देखना चाहिए।

सोशल मीडिया पर उपलब्ध बातचीत के एक हिस्से के मुताबिक, दिग्विजय सिंह ने क्लबहाउस संवाद में कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना और राज्य का दर्जा खत्म करना बहुत दुखद है। कांग्रेस पार्टी इस विषय पर निश्चित तौर पर पुनर्विचार करेगी।’’ भाजपा प्रवक्ता पात्रा ने सिंह की इस टिप्पणी को लेकर संवाददाताओं से कहा, ‘‘क्लब हाउस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह किस प्रकार से बाहर भारत के खिलाफ जहर उगल रहे हैं और किस प्रकार पाकिस्तान की हां में हां मिला रहे हैं वो हम सभी ने देखा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ये वही दिग्विजय सिंह हैं, जिन्होंने पुलवामा हमले को एक दुर्घटना मात्र बता दिया था, इन्होंने ही 26/11 के हमले को आरएसएस की साजिश बताया था और उस समय पाकिस्तान को क्लीन चिट देने का भी प्रयास किया था।’’ पात्रा ने राहुल गांधी और मणिशंकर अय्यर की पुरानी टिप्पणियों का हवाला देते हुए आरोप लगाया कि पाकिस्तान के साथ हाथ मिलाना कांग्रेस की पुरानी आदत है। उन्होंने कहा, ‘‘यह सब उसी टूलकिट का हिस्सा है जिसे भाजपा ने बेनकाब किया है।’’

भाजपा प्रवक्ता ने कहा ‘‘मैं निवेदन करता हूं कि कांग्रेस पार्टी अपने नाम को बदले। वो आईएनसी को बदलकर एएनसी (एंटी नेशनल क्लब हाउस) कर दे। ये एक ऐसा क्लब हाउस है, जिसमें सारे लोग मोदी जी से घृणा करते-करते आज हिंदुस्तान से घृणा कर बैठे हैं।’’

केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह ने आरोप लगाया, ‘‘कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान है। दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी का संदेश पाकिस्तान को दिया है। कांग्रेस कश्मीर को हथियाने में पाकिस्तान की मदद करेगी।’’

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट