ताज़ा खबर
 

राम मंदिर निर्माण में मुश्किल, जहां बन रहा वहां जमीन भुरभुरी और काफी गहराई तक नहीं है मलबा

राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चंपत राय ने बताया कि इसको लेकर काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। क्योंकि जहां मंदिर बनाना है वहां जमीन भुरभुरी है और काफी गहराई तक वहां मलबा नहीं है।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: January 4, 2021 11:07 AM
Ram temple, ram mandir kab banega, Champat Rai, ayodhya news, ayodhya Newsराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चंपत राय ने बताया कि राम मंदिर निर्माण में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। (Express photo by Tashi Tobgyal)

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की तैयारी शुरू हो चुकी हैं। शिलान्यास को करीब 5 महीने बीत चुके हैं, मगर कई तकनीकी दिक्कतों की वजह से अब तक मंदिर की नींव नहीं रखी जा सकी है। राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चंपत राय ने बताया कि इसको लेकर काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। क्योंकि जहां मंदिर बनाना है वहां जमीन भुरभुरी है और काफी गहराई तक वहां मलबा नहीं है।

चंपत राय ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई से को बताया “जिस दिन मंदिर बनना शुरू हो जाएगा, हम 36 से 39 महीनों में इसे पूरा कर देंगे। हम सोचते थे जून में ही मंदिर बनना शुरू हो जाएगा लेकिन 7महीने से स्ट्डी पूरी नहीं हो रही। ज़मीन के नीचे भुरभुरी बालू है या गहराई तक कोई मलबा भरा पड़ा है। राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव ने कहा “इसलिए ऐसा फाउंडेशन हो, जो वजन को शताब्दियों तक सहन कर सके। इसी को ध्यान मे रखते हुए काम किया जा रहा है।

दरअसल पिलर्स पर राम मंदिर निर्माण का परीक्षण सफल ना होने के बाद अब नया प्लान तैयार किया जा रहा है। फैसला लिया गया है कि श्रीराम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर निर्माण के लिए अब पिलर्स नहीं बनेंगे। अब खुदाई कर पत्थरों से नींव बनाए जाने पर सहमति बनी है। पिलर्स की ही तरह पहले पत्थरों की नींव बनाकर उसका भी परीक्षण होगा।

वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास होना, साबित करता है कि मंदिर आंदोलन सकारात्मक था और नकारात्मक सोच रखने वाले लोगों ने ही इस मुहिम को बदनाम किया।

योगी ने यहां 500 करोड़ रुपये से ज्यादा की लागत से बनने वाली 37 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करने के बाद उपस्थित जनसमूह से कहा, ”पिछली सरकारें हरेक विवाद को लटकाना चाहती थीं। जो लोग कहते थे कि राम तो काल्पनिक हैं, अब वो कहने लगे हैं कि राम तो सबके हैं…. यह है परिवर्तन।” उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, ”जो राम भक्तों पर गोली चलाते थे और कहते थे कि राम का तो अस्तित्व है ही नहीं, आज उनको भी राम भक्तों की ताकत का एहसास हो गया है। अब वे कह रहे हैं कि राम तो सबके हैं। कारसेवा के समय हम यही तो कहते थे कि राम तो सबके हैं, इसलिये राम जन्मभूमि के आंदोलन का विरोध ना करे। अंतत: राम भक्तों ने जो सेवा की, वे विजयी हुए।”

मुख्यमंत्री ने कहा, ””पांच अगस्त 2020 को अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास प्रधानमंत्री मोदी जी के हाथों होना, इस बात को साबित करता है कि राम जन्मभूमि के लिये चलाया गया आंदोलन एक सकारात्मक आंदोलन था और वह कहीं भी नकारात्मक नहीं था। उस आंदोलन का विरोध करने वाले लोग नकारात्मक सोचते थे और इसलिये उसे बदनाम करते थे। जब वे हरेक क्षेत्र में नाकाम हो चुके हैं तो कह रहे हैं कि राम तो सबके हैं। भगवान करे यह सद्बुद्धि हमेशा बनी रहे।”

योगी ने कोविड-19 का टीका तैयार कराने का श्रेय प्रधानमंत्री को देते हुए कहा, ”प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में देश के वैज्ञानिकों ने कोरोना वैक्सीन तैयार कर ली है। भारत पहला देश है जिसने कोविड की दो वैक्सीन एक साथ लांच की है। मोदी जी ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने कोविड—19 के वैक्सीन के लिये लैब का स्वयं भ्रमण किया, जिसका परिणाम है कि भारत आत्मनिर्भर बनने की ओर अग्रसर है। आज भारत ने दुनिया के सामने साबित कर दिया है। दुनिया में एक वैक्सीन आयी है, मगर भारत में एक साथ दो—दो वैक्सीन सामने आ चुकी हैं।’’

योगी ने सपा पर हमला करते हुए कहा, ”इससे पहले, निवेशक उत्तर प्रदेश में जमीन खरीदने में हिचकते थे कि कहीं सपा के गुंडे उस पर कब्जा न कर लें। यही काम बसपा के समय में भी हुए, मगर अब ऐसा सम्भव नहीं है क्योंकि जो लोग पहले डर फैलाते थे, वे खुद खौफ में जी रहे हैं।”

Next Stories
1 जदयू विधायक ने कहा- एमएलए-एमपी बनने के लिए दबंग होना ज़रूरी, जिसे मैंने बोला लोगों ने उसे ही वोट दिया
2 भोपाल में भाव नहीं मिलने से नाराज हैं सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, घर पर की गुप्त बैठक, मोबाइल बाहर रखवाए
3 किसान आंदोलन: हरियाणा में पुलिस ने चलाए आंसू गैस के गोले, दिल्ली में आज बात करेगी सरकार
CSK vs DC Live
X