ताज़ा खबर
 

RTI के तहत PMO से पूछा- क्‍या प्रधानमंत्री मोदी राजनीति में आने से पहले रामलीला में काम करते थे

सूचना के अधिकार के तहत पीएम नरेंद्र मोदी के संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय से कई तरह की जानकारी मांगी जा रही है।

Author Updated: July 19, 2016 8:57 AM
Prime Minister Narendra Modi, Prime Minister Office, Right To Information act, RTI Act, PM Modi, RTI application about Modi, india newसूचना के अधिकार के तहत पीएम नरेंद्र मोदी के संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय से कई तरह की जानकारी मांगी जा रही है।

सूचना के अधिकार के तहत पीएम नरेंद्र मोदी के संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय से कई तरह की जानकारी मांगी जा रही है। इनमें कई बेहद दिलचस्‍प हैं। पीएमओ की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार एक आवेदन में पूछा गया, ”क्‍या प्रधानमंत्री मोदी ने राजनीति में आने से पहले रामलीला में काम किया था? अगर हां तो कौनसा रोल निभाया?” इस पर जवाब दिया गया, ”जो सूचना मांगी गई है वह रिकॉर्ड का हिस्‍सा नहीं है।” पीएमओ ने अपनी वेबसाइट पर सवाल और जवाब पोस्‍ट किए है।

जानिए मनमोहन सिंह के साथ कौन पत्रकार कितनी बार गए थे विदेश, मोदी ने बंद किया चलन

इनमें प्रधानमंत्री की रसोई में किस तरह के सिलेंडर इस्‍तेमाल होते हैं, उनका मोबाइल नंबर, क्‍या वे छुट्टी लेते हैं, वे मसालें कहां से मंगाते हैं, जैसे सवाल भी शामिल है। यहां तक कि पीएमओ स्‍टाफ को लेकर भी सवाल किए जा रहे हैं। इसी तरह के एक सवाल में पूछा गया, क्‍या पीएम के प्रिंसीपल सेक्रेटरी नृपेंद्र मिश्रा कभी अपने साथियों को पिकनिक पर लेकर गए?

जसोदाबेन ने मोदी से मांगा अपना पत्नी हक, सुरक्षा को लेकर किए RTI से सवाल

यहां देखिए पीएमओ से मांगी गई जानकारी:
सवाल: ऐसे दस्‍तावेज दीजिए जो यह दिखाते हो कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारत के प्रधान सेवक हैं न कि प्रधानमंत्री।
जवाब: प्रधानमंत्री के आधिकारिक पद को बदलने का कोई प्रस्‍ताव नहीं है।
सवाल: पीएम की रसोई में किस तरह के सिलेंडर इस्‍तेमाल होते हैं? सिलेंडर और मसालों के बिल मुहैया कराए जाएं?
जवाब: पीएम का रसोर्इ खर्चा व्‍यक्तिगत है और सरकारी खाते का पैसा खर्च नहीं होता।
सवाल: क्‍या प्रधानमंत्री ने भारतीय संविधान पढ़ा है? क्‍या प्रधानमंत्री को संविधान पढ़ना चाहिए? क्‍या पीएमओ में अभी तक किसी ने बताया कि प्रधानमंत्री के भारत के प्रति क्‍या कर्त्‍तव्‍य हैं?
जवाब: जो जानकारी मांगी गई है वह सूचना की परिभाषा के तहत नहीं आती।
सवाल: क्षेत्रीय और विदेशी भाषाओं में पीएम को ट्वीट करने में कौन मदद करता है? प्रत्‍येक क्षेत्रीय भाषा में मदद करने वाले व्‍यक्ति के नाम?
जवाब: जो जानकारी मांगी गई है वह रिकॉर्ड में नहीं रखी जाती।(एक अन्‍य जवाब में बताया गया कि प्रधानमंत्री खुद अपने सोशल मीडिया अकाउंट मैनेज करते हैं।)

लगातार तीसरे साल PM मोदी इफ्तार पार्टी से रहे दूर, राष्‍ट्रपति के बुलावे पर भी नहीं गए

सवाल:पिछले 10 साल में प्रधानमंत्री की ओर से बीमारी या कैजुअल या स्‍वास्‍थ्‍य कारणों से ली गई छुट्टियों की संख्‍या बताइए।
जवाब: शपथ लेने के बाद से वर्तमान पीएम ने कोई छुट्टी नहीं ली है।
सवाल:दिल्‍ली यूनिवर्सिटी से 1977 में ग्रेजुएट होने के समय मोदी को कितने प्रतिशत अंक मिले थे?
जवाब: रिकॉर्ड का हिस्‍सा नहीं है।
सवाल:क्‍या आरटीआई के तहत कोई पीएम का नंबर ले सकता है?
जवाब: पीएमओ ने प्रधानमंत्री को कोई नंबर नहीं दिया है।
सवाल: प्रधानमंत्री की ओर से की जाने वाली घोषणाओं का कानूनी स्‍टेटस क्‍या होता है।
जवाब: एक बार एलान होने के बाद संबंधित मंत्रालय को इसके लागू और मॉनीटर करने की जिम्‍मेदारी दी जाती है।
सवाल: क्‍या प्रधानमंत्री आधिकारिक भाषा हिंदी में खत लिखते हैं या संपर्क करते हैं?
जवाब: केंद्रीय मं‍त्रियों, राज्‍यपालों, मुख्‍यमंत्रियों से हिंदी में खत आने पर हिंदी में जवाब दिया जाता है। जनता के खत अगर हिंदी में आते हैं तो उनका जवाब भी हिंदी में ही होता है।
सवाल: साल 2014 और 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रोजा इफ्तार पार्टियों में हिस्‍सा लिया।
जवाब: नहीं।
सवाल: पीएम के प्रिंसीपल सेक्रेटरी नृपेंद्र मिश्रा कभी अपने साथियों को पिकनिक पर लेकर गए हैं? अगर हां, कौन गया, कितना पैसा खर्च हुआ, इसमें परिवार के लोगों को भी बुलाया गया और खाने में क्‍या था? क्‍या खाना बाहर से मंगाया गया? पिकनिक की जगह मिश्रा ने तय की या फिर सबकी सहमति से फैसला हुआ?
जवाब: नृपेंद्र मिश्रा ने कोई पिकनिक आयोजित नहीं की।

Next Stories
1 मंत्री रामदास अठावले की जैकेट देख PM बोले- आप तो चमक रहे हैं, जवाब मिला- आपने मुझे चमका दिया
2 सरकार जीएसटी विधेयक के लिए सर्वसम्मति बनाने पर काम करेगी : प्रधानमंत्री
3 कश्मीर पर छिपाने को कुछ नहीं है : मोदी
यह पढ़ा क्या?
X