ताज़ा खबर
 

अब रसोई गैस बुकिंग के वक्‍त ही करा सकेंगे ऑनलाइन पेमेंट

ऑनलाइन बुकिंग एवं भुगतान कर देने से ग्राहकों का समय बचेगा। इससे नकदी व खुले पैसों की समस्या से भी मुक्ति मिलेगी।

Dharmendra Pradhan, online payment, LPG cylinders, online payment facility, cashless transaction, धर्मेंद्र प्रधान, ऑनलाइप पेमेंट, रसोई गैस, एलपीजी सिलेंडर, ऑनलाइन पेमेंट, कैशलेसLPG कन्ज्यूमर्स के लिए खुशखबरीः अब ऑनलाइन होगी गैस बुकिंग

रसोई गैस सिलेंडर के लिए आपको कैश पेमेंट की जरूरत नहीं है। केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ट्वीट कर उपभोक्‍ताओं के लिए ऑनलाइन पेमेंट सुविधा शुरू होने की जानकारी दी है। इस सुविधा का मकसद पारदर्शिता और कैशलेस लेन-देन को बढ़ावा देना है। इससे पहले, उपभोक्ताओं को दुकान पर या सिलिंडर मिलने पर नकद भुगतान करना पड़ रहा था।

सुविधा के तहत ऑनलाइन बुकिंग एवं भुगतान कर देने से ग्राहकों का समय बचेगा। इससे नकदी व खुले पैसों की समस्या से भी मुक्ति मिलेगी। नई व्यवस्था लागू होने से डीलर एवं ग्राहक के बीच पारदर्शिता बढ़ेगी। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने वर्ष 2016 को ग्राहक वर्ष के रूप में मनाने का निर्णय किया है। इसके तहत ग्राहकों की सुविधाएं बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है।

सुविधा का शुभारंभ करने के बाद प्रधान ने कहा कि मंत्रालय ने 2018 तक 10 करोड़ नए एलपीजी ग्राहक जोड़ने का लक्ष्य रखा है। यह लक्ष्य पूरा होने पर देश के 75 फीसद घरों में एलपीजी कनेक्शन पहुंच जाएगा। प्रधान के अनुसार, देश में करीब पांच लाख महिलाओं को घरेलू प्रदूषण के कारण जान गंवानी पड़ती है। इसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने गरीब घरों तक भी एलपीजी सिलेंडर पहुंचाने का निश्चय किया है। इस योजना के तहत जो लोग करीब 3200 रुपए देकर गैस कनेक्शन नहीं ले सकते, उन्हें ये कनेक्शन आधे दाम पर उपलब्ध कराए जाएंगे। यहीं नहीं, गैस कनेक्शन एवं चूल्हा किश्तों पर भी उपलब्ध कराने की योजना तैयार की जा रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मुलायम सिंह यादव ने अयोध्‍या में कारसेवकों पर गोली चलवाने के फैसले पर 25 साल बाद जताया अफसोस
2 छोटे भाई को सक्रिय राजनीति में लाना चाहती हैं महबूबा मुफ्ती
3 भाजपा की कमान फिर से अमित शाह के पास
ये पढ़ा क्या?
X