ताज़ा खबर
 

इंजन की खराबी ठीक कराए बिना 11 विमान उड़ाए जा रही थीं गोएयर और इंडिगो, DGCA ने रोका

डीजीसीए का विमानों की उड़ान पर रोक लगाने का फैसला उस घटना के तुरंत बाद आया है, जिसमें अहमदाबाद से लखनऊ जा रहे इंडिगो एयरलाइन्स के एक विमान में टेक-ऑफ के तुरंत बाद तकनीकी खराबी आ गई थी, जिसके बाद विमान को वापस अहमदाबाद ले जाना पड़ा था।

Author March 13, 2018 12:36 PM
डीजीसीए के एक अधिकारी के मुताबिक इंडिगो और गोएयर के 11 एयरबस विमानों की उड़ान पर रोक लगायी गई है, जिनमें से 8 इंडिगो के और 3 विमान गोएयर कंपनी के हैं। (FILE PHOTO)

डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने बजट एयरलाइन्स गोएयर और इंडिगो के खास सीरियल नंबर वाले 11 एयरबस ए320 नियो एयरक्राफ्ट की उड़ान पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। यह रोक इन विमानों के इंजन में आ रही तकनीकी खराबी के बाद लगायी गई है। बता दें कि तकनीकी खराबी वाले सभी विमानों में अमेरिकी कंपनी प्रैट एंड व्हिटनी पीडब्ल्यू1100जी इंजन लगे हुए हैं। डीजीसीए का विमानों की उड़ान पर रोक लगाने का फैसला उस घटना के तुरंत बाद आया है, जिसमें अहमदाबाद से लखनऊ जा रहे इंडिगो एयरलाइन्स के एक विमान में टेक-ऑफ के तुरंत बाद तकनीकी खराबी आ गई थी, जिसके बाद विमान को वापस अहमदाबाद ले जाना पड़ा था। दरअसल, अमेरिकी कंपनी के इंजनों में आ रही खराबी पर कंपनी ने अभी तक कोई ठोस जवाब नहीं दिया है, जिसके बाद डीजीसीए ने कंपनी के विमानों की उड़ान पर रोक लगाने का फैसला किया है। प्रैट एंड व्हिटनी विमानन कंपनी के इंजनों में आ रही तकनीकी खराबी का पता सबसे पहले यूरोपियन एविएशन सेफ्टी एजेंसी (ईएएसए) ने लगाया था, जिसके बाद ईएएसए ने भी अमेरिकी कंपनी के इंजन वाले विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी थी।

डीजीसीए के एक अधिकारी के मुताबिक, इंडिगो और गोएयर के 11 एयरबस विमानों की उड़ान पर रोक लगायी गई है, जिनमें से 8 इंडिगो के और 3 विमान गोएयर कंपनी के हैं। हालांकि, इंडिगो का कहना है कि उसके 6 विमानों की उड़ान पर रोक लगायी गई है, कंपनी ने 3 विमानों पर पहले ही खुद रोक लगा दी थी। डीजीसीए के अनुसार, गोएयर के जिन विमानों की उड़ान पर रोक लगायी गई है, उनके दोनों इंजन में तकनीकी खराबी की शिकायत मिली है। वहीं, इंडिगो के जिन 8 विमानों पर रोक लगायी गई है, उनके एक-एक इंजन में तकनीकी खराबी का पता चला है।

वहीं, इंजन निर्माता कंपनी प्रैट एंड व्हिटनी ने एक बयान में कहा है कि उनकी कंपनी अपने ग्राहकों के साथ मिलकर तकनीकी खराबी को दूर करने के लिए काम कर रही है। कंपनी ने कहा कि इंजनों में आ रही खामी का पता लगा लिया गया है और अब उसे दूर कर जल्द ही प्रोडक्शन शुरू कर दिया जाएगा। विमानों पर लगायी गई रोक की पुष्टि करते हुए इंडिगो और गोएयर ने कहा है कि उन्हें डीजीसीए के निर्देश मिल गए हैं। कंपनियों ने कहा कि वह अपने प्रभावित ग्राहकों को दूसरे विमानों से सेवा देंगी। बता दें कि इंडिगो के बेड़े में कुल 32 और गोएयर के बेड़े में कुल 13 ए320नियो विमान हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App