ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी को हिरासत में लिया जाना ‘शर्मनाक’: शिवसेना

कांग्रेस के समर्थन में उतरते हुए शिवसेना ने आज कहा कि दिल्ली पुलिस द्वारा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को हिरासत में लिया जाना ‘‘शर्मनाक’’ है ।
Author मुंबई | November 3, 2016 22:11 pm
शिवसेना प्रवक्ता अरविंद सावंत

कांग्रेस के समर्थन में उतरते हुए शिवसेना ने आज कहा कि दिल्ली पुलिस द्वारा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को हिरासत में लिया जाना ‘‘शर्मनाक’’ है । शिवसेना के प्रवक्ता अरविन्द सावंत ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘राहुल गांधी और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को एक रैंक एक पेंशन के मुद्दे पर कथित आत्महत्या करने वाले पूर्व सैनिक के परिवार से मिलने से नहीं रोका जाना चाहिए था ।’ दक्षिण मुंबई निर्वाचन क्षेत्र से सांसद सावंत ने कहा, ‘‘यह किस तरह का रवैया है ? दिल्ली पुलिस की कार्रवाई निंदनीय तथा शर्मनाक है ।’ उन्होंने कहा, ‘‘कथित आत्महत्या का राजनीतिकरण किया जाना ठीक नहीं था और परिवार से सही व्यवहार नहीं किया गया । राहुल गांधी और सिसोदिया को हिरासत में लिए जाने के बाद मुद्दे का राजनीतिकरण हो गया है ।’ सावंत ने कहा, ‘‘राहुल गांधी एक राष्ट्रीय दल के उपाध्यक्ष हैं, जबकि सिसोदिया एक निर्वाचित सरकार के उपमुख्यमंत्री हैं । दिल्ली पुलिस के गलती करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए ।’

 

गौरतलब है कि  राहुल गांधी पूर्व सैनिक की खुदकुशी पर कैंडल मार्च करने जंतर मंतर गए थे। वे अपने समर्थकों के साथ इंडिया गेट तक जाना चाहते थे। लेकिन पुलिस ने अनुमति नहीं दी और रोक दिया। इसके बाद उन्‍हें गाड़ी में बैठाकर ले गए। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी जिंदाबाद के नारे लगाए। राहुुल गांधी ने बताया कि उन्‍हें आधे घंटे से पुलिस ने गाड़ी में बैठा रखा है। वे बता नहीं रहे कि उन्‍हें कहां ले जाया जा रहा है। वे थाने भी नहीं ले जा रहे। बताया गया है कि धारा 144 लागू होने के कारण उन्‍हें हटाया गयाा। उन्‍होंने कहा, ”मैं तो यहां बैठा रहूंगा। मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता मैं खुश हूं। हमारी सेना बॉर्डर पर खड़ी है। उनके मोरल पर इसका असर पड़ता है। उनकी इज्‍जत करनी चाहिए। जिस तरह से पूर्व सैनिक के परिवार से बर्ताव किया गया उसके लिए सरकार को माफी मांगनी चाहिए।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.