ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल की खांसी गायब, मफलर भी हटा! प्रशांत किशोर को लाने से पहले ही इमेज चमकाने में लग गए थे दिल्ली के सीएम

विधानसभा चुनाव अभियान में प्रशांत किशोर की मदद लेने से पहले सीएम केजरीवाल खुद भी अपने छवि बदलने पर काम कर रहे थे।

kejriwalदिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी (AAP) पूरी तरह से सक्रिय हो गई है। पार्टी ने चुनावी रणनीतिकार के तौर पर चर्चित चेहरा प्रशांत किशोर को अपने साथ जोड़ा है। AAP प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल में ट्वीट कर खुद इसकी जानकारी दी है। हालांकि विधानसभा चुनाव अभियान में प्रशांत किशोर की मदद लेने से पहले सीएम केजरीवाल खुद भी अपने छवि बदलने पर काम कर रहे थे। इंडियन एक्सप्रेस में कूमी कपूर के इनसाइड ट्रैक में छपे एक कॉलम की खबर के मुताबिक चुनाव में केजरीवाल गरीब वर्ग के साथ मध्यम वर्ग के मतदाताओं को लुभाने लगे हैं। दिल्ली में खूब प्रदूषण के बावजूद उनकी खांसी लगभग गायब हो चुकी है। उनका ट्रेडमार्क बन चुका मफलर भी अब नजर नहीं आता। अब वो अधिक मधुर और परिपक्व दिखाई देते हैं।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को पार्टी सदस्यों से कहा कि आप को आगामी विधानसभा चुनावों में 2015 के चुनावों में जीती गई सीटों की अपेक्षा ज्यादा सीट जीतने का लक्ष्य तय करने की जरूरत है। गौरतलब है कि 2015 के विधानसभा चुनावों में आप ने 70 में से 67 सीटों पर जीत दर्ज की थी। उन्होंने कहा कि पार्टी सदस्यों को आगामी चुनाव पूरी ताकत से लड़नी चाहिए। उन्होंने आठवें राष्ट्रीय परिषद् की बैठक में पार्टी के सदस्यों से कहा, ‘‘विधानसभा चुनावों में महज एक महीने से थोड़ा अधिक वक्त बचा हुआ है और चूंकि दिल्ली पार्टी का गढ़ है, जहां से इसकी शुरुआत हुई, इसलिए हमें मजबूती से चुनाव लड़ना होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमारा लक्ष्य भी बहुत बड़ा है। पिछली बार हम 67 सीटों पर जीते और इस बार हमें उससे कम नहीं, बल्कि उससे ज्यादा हासिल करना चाहिए।’’ इस दौरान पार्टी के सदस्य ‘70 में से 70’ के नारे लगा रहे थे। आम आदमी पार्टी इस बार चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर की सलाहकार कंपनी ‘आई-पीएसी’ के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा, ‘‘मेरी सलाह है कि जो लोग (सदस्य या वालंटियर) बाहर से आए हैं, वे आगामी चुनावों में जो भी जिम्मेदारी लेना चाहें, उन्हें लेना चाहिए।’’

सूत्रों के मुताबिक अगले साल दिल्ली में होने वाले चुनावों के लिए आप ने अपने सभी सदस्यों एवं वालंटियर को तैयारी एवं प्रचार के लिए राष्ट्रीय राजधानी बुलाया है। केजरीवाल ने कहा कि उनकी पार्टी ने राजनीतिक विमर्श को बदल दिया है और भाजपा को दिल्ली में विकास के मुद्दों पर बात करने के लिए बाध्य किया है। आप ने शुक्रवार को नया नारा जारी किया — ‘अच्छे बीते पांच साल- लगे रहो केजरीवाल’ और 2020 के विधानसभा चुनावों के लिए अपने प्रचार अभियान की शुरुआत की। (भाषा)

Next Stories
1 CAA: यूपी में हिसंक प्रदर्शन में 16 की मौत, 10 हजार से ज्यादा लोगों पर FIR, बिहार में भी तोड़फोड़ व आगजनी; जानें देश का माहौल
2 इन दो चेहरों पर थी RS से CAB पास कराने की जिम्मेदारी, वोटिंग से ऐन पहले सदन से गायब हो गए दर्जनभर कांग्रेस, एनसीपी, सपा के सांसद
3 मुझे मुल्क से भगा देंगे- बुदबुदाते हुए दुनिया को अलविदा कह गए गियासुद्दीन मियां, परिवार का आरोप- CAA के खौफ ने ली जान
ये पढ़ा क्या?
X