ताज़ा खबर
 

पूरे देश में शराबबंदी लागू करने की मांग

लोकसभा में वाईएसआर कांग्रेस की एक सदस्य ने पूरे देश में शराबबंदी लागू करने की मांग की और जोर दिया कि इसके कारण अपराध बढ़ते हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: March 28, 2017 11:20 AM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है।

लोकसभा में वाईएसआर कांग्रेस की एक सदस्य ने पूरे देश में शराबबंदी लागू करने की मांग की और जोर दिया कि इसके कारण अपराध बढ़ते हैं। शून्यकाल के दौरान वाईएसआर कांग्रेस की के. गीता ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि शराब का उपभोग आज चिंता का विषय बन गया है और इसके कारण गरीब सबसे अधिक प्रभावित होते हैं। शराब के उपभोग के कारण अपराध में भी वृद्धि का चलन देखा गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को पूरे देश में शराबबंदी की नीति लानी चाहिए। इससे गरीब आदमी सबसे अधिक प्रभावित होते हैं। सांसदों के वेतन और पेंशन पर न्यायपालिका की टिप्पणी का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस के एमआई शानवास ने कहा कि सरकार को आगे आना चाहिए और सांसदों के वेतन-भत्ते के मुद्दे को देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को सांसदों के बारे में न्यायपालिका के प्रतिकूल रुख और मीडिया ट्रायल पर रोक लगानी चाहिए।

भाजपा की मीनाक्षी लेखी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री आरविंद केजरीवाल द्वारा एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी के जीतने पर दिल्ली में आवास कर समाप्त करने की घोषणा का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ऐसा कोई फैसला नहीं कर सकती है और इसका फैसला केवल संसद ही कर सकती है। आवास कर समाप्त करने का निर्णय दिल्ली सरकार के अधिकार क्षेत्र से बाहर है। तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय ने तीस्ता जल बंटवारे का मुद्दा उठाया और कहा कि केंद्र सरकार पश्चिम बंगाल को दरकिनार कर रही है और इस बारे में प्रदेश सरकार से क्यों विचार विमर्श नहीं किया गया।

भाजपा के डा. वीरेंद्र कुमार ने चंबल नदी में प्रदूषण का मुद्दा उठाते हुए कहा कि इसके चलते नदी के घड़ियाल और मगरमच्छों व अन्य जलीय जीवों के लिए खतरा पैदा हो गया है। भाजपा के ही विक्रम सेन ने छत्तीसगढ़ के धमतरी से कांकेर के बीच 70 किलोमीटर रेल लाइन को पूरा किए जाने की मांग की। जनता दल (एकी) के कौशलेंद्र कुमार ने फरक्का बैराज का संचालन बंद करने की मांग करते हुए कहा कि इससे गंगा नदी की गहराई कम हो रही है। भाजपा के सुशील कुमार ने बिहार कर्मचारी चयन आयोग में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया। तृणमूल कांग्रेस के सदस्य इदरिस अली और भाजपा के लक्ष्मी नारायण यादव ने भी अपने-अपने क्षेत्रों से जुड़े लोक महत्त्व के मुद्दे उठाए।

लालबत्‍ती: सुविधा या वीआईपी कल्‍चर? जानिए विभिन्न राज्यों में क्या हैं नियम

पद्म नामांकन: केंद्र सरकार ने एमएस धोनी, राम रहीम, नीरजा भनोट के नाम के प्रस्ताव को ठुकराया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 साहित्य अकादमी पुरस्कार पाने वाले इस सम्मान को लौटाने के हकदार नहीं हैं
2 MCD Elections 2017: मनोज तिवारी ने कहा- केजरीवाल के हाउस टैक्स माफी वाले एलान पर कार्रवाई करे चुनाव आयोग
3 हिंदु राष्ट्र बनाने में राष्ट्रपति पद के लिए अच्छी पसंद होंगे मोहन भागवत, जानिए कैसे