ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर में 31 अक्टूबर के बाद शुरू होगी परिसीमन की प्रक्रिया, आबादी के मुताबिक हो सकती हैं 114 सीटें

जम्मू और कश्मीर में आखिरी बार परिसीमन 1995-96 में हुआ था। मालूम हो कि साल 2011 की जनगणना के अनुसार जम्मू की आबादी 69.07 लाख जबकि कश्मीर की जनसंख्या 53.50 लाख थी।

Jammu and Kashmir, J&K, kashmir valley, delimitation, election commission, home ministry, Reorganisation Act, 2011 census, Article 170, POK, lok sabha seat, assambly seat, delimitation exercise, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindi (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनाने के निर्णय के बाद यहां के लोकसभा और विधानसभा क्षेत्रों के परिसीमन का कार्य शुरू होगा। सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि परिसीमन का यह कार्य इस साल 31 अक्तूबर को केंद्र शासित बनने के बाद ही शुरू होगा।

ईटी की खबर के अनुसार शीर्ष अधिकारी ने बताया कि यह प्रक्रिया 31 अक्तूबर के बाद शुरू होगी। यह काम भारतीय निर्वाचन आयोग के अंतर्गत किया जाएगा। रिऑर्गनाइजेशन एक्ट के अनुसार निर्वाचन आयोग 2011 की जनगणना के आधार पर परिसीमन की कार्रवाई को अंजाम देगा।

जम्मू-कश्मीर रिऑर्गनाइजेशन एक्ट के अनुसार जम्मू और कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में परिसीमन के बाद विधानसभा की सीटों की संख्या 107 से बढ़कर 114 हो जाएंगी। इनमें से 24 सीट पाक अधिकृत कश्मीर में होंगी। अधिकारियों ने बताया कि अन्य राज्यों की तरह जम्मू-कश्मीर में परिसीमन की कार्रवाई संविधान के अनुच्छेद 170 के अंतर्गत नहीं होगी।

जम्मू और कश्मीर में परिसीमन की पिछली कार्रवाई 1995-96 में की गई थी। मालूम हो कि साल 2011 की जनगणना के अनुसार जम्मू की आबादी 69.07 लाख जबकि कश्मीर की जनसंख्या 53.50 लाख थी।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि हिंसा की छिटपुट वारदातों को छोड़कर घाटी में शांति बनी हुई है। एक ट्वीट में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बृहस्पतिवार को कहा कि घाटी में आज शांतिपूर्ण दिन रहा। अभी तक किसी भी तरह की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। घाटी के अधिकतर इलाकों से प्रतिबंध हटा लिया गया है।

बैरिकेड्स भी हटा लिए गए हैं और लोगों व ट्रैफिक का आवागमन भी सामान्य हो गया है। लेकिन घाटी में बाजार बंद रहे और 18वें दिन भी मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं स्थगित रहीं। सरकारी स्कूलों शिक्षकों और सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति में सुधार हो रहा है। हालांकि, कई छात्र अभी स्कूल नहीं आ रहे हैं। जम्मू में आईजी मुकेश सिंह ने जनमाष्टमी और शोभा यात्रा से पहले सुरक्षा की स्थिति का जायजा लिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 NRC से हटा 79 वर्षीय वृद्ध का नाम, लेकिन स्वंत्रता दिवस पेंशनर लिस्ट में नाम शामिल
2 Weather Forecast: दिल्ली-एनसीआर में मौसम सुहाना, इन राज्यों में बारिश के आसार
3 रविदास मंदिर को लेकर सियासत तेज: AAP विधायक अजय दत्त ने विरोध में फाड़ डाली अपनी शर्ट
ये पढ़ा क्या?
X