scorecardresearch

बिगड़ने लगी दिल्ली की हवा

दिल्ली-एनसीआर में बदले मौसम के बाद वायु गुणवत्ता स्तर बेहद खराब हालात में पहुंच गया है।

वायु प्रदूषण से लोग परेशान फाइल फोटो।

दिल्ली-एनसीआर में बदले मौसम के बाद वायु गुणवत्ता स्तर बेहद खराब हालात में पहुंच गया है। इसका असर मंगलवार को दिन की शुरु आत के साथ ही साफ नजर आया। सुबह के वक्त मार्गों पर एक धूल व धुएं जैसी चादर देखने को मिली। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (सफर) के मुताबिक मंगलवार को दिल्ली में वायु गुणवत्ता का स्तर 307 दर्ज किया गया, जो कि ‘बेहद खराब’ श्रेणी में आता है।

सफर ने चेतावनी दी है कि बुधवार का वायु गुणवत्ता स्तर और खराब हो सकता है। यह स्तर 317 तक दर्ज किया जा सकता है। सफर के मुताबिक दिल्ली में शून्य से 100 के बीच यह स्तर अच्छा व संतोषजनक, 100 से 200 के बीच मध्यम और 200 से 300 के बीच खराब श्रेणी का माना जाता है।
इसके बाद बेहद खराब श्रेणी शुरू होती है जो कि 400 तक रहती है। जैसे ही यह स्तर 400 के पार जाता है तो इसे गंभीर श्रेणी घोषित कर दिया जाता है। अब तक दिल्ली व आसपास में कई प्रकार की बंदिशे थी, जो प्रदूषण स्तर कम होने की प्रमुख वजह थी। अब तकरीबन सभी गतिविधियां खुल गई हैं।

सफर ने आम जनता को इस प्रदूषण से बचने के लिए मास्क का प्रयोग करने की सलाह दी है। मंगलवार को पूसा में वायु गुणवत्ता स्तर स्तर 303, लोदी रोड पर 293, दिल्ली विश्वविद्यालय में 313, हवाईअड्डा में 316, नोएडा में 239, मथुरा रोड पर 327, आया नगर में 242, आईआईटी दिल्ली में 305, गुरुग्राम में 274, और धीरपुर में 308 दर्ज किया गया।

बादल रहेंगे, पर चढ़ेगा पारा

मौसम विभाग के मुताबिक आने वाले दिनों में बादलों की आवाजाही दिल्ली में जारी रहेगी। इसी बीच दिल्ली का पारा धीरे धीरे बढ़ेगा और 14 मार्च के आसपास तापमान 34 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाएगा। मंगलवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान 30.8 डिग्री सेल्सियस रहा, जो कि सामान्य से दो डिग्री अधिक था, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 13.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने 10 व 11 मार्च को दिल्ली में तेज हवाएं चलने का अनुमान जाहिर किया है। इसके बाद दिल्ली में तापमान में बढ़ोतरी का दौर शुरू हो जाएगा।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट