ताज़ा खबर
 

अभिनंदन से प्रेरित थे दिल्ली हिंसा में मारे गए कॉन्स्टेबल रतन लाल, युवाओं को देते थे पुलिस या फौज में भर्ती होने की सलाह

घटनास्थल पर मौजूद चश्मदीदों का कहना है कि वह भीड़ के बीच फंस गए थे और इस दौरान वह घायल हो गए जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां उनकी मौत हो गई। खबरों के मुताबिक जिस वक्त वह ड्यूटी पर तैनात थे। उस समय उनको बुखार था।

Ratan Lal, Delhi Voilence, Jansatta, News in hindi, Latest News,बुखार होने पर भी ड्यूटी कर रहे थे दिल्ली हिंसा में मारे गए हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल।(फोटो-सोशल मीडिया)

राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधित कानून के विरोधियों और समर्थकों के बीच हिंसा में सोमवार को हेड कॉनस्टेबल रतन लाल की मौत हो गई। रतन लाल ने बहादुरी से उपद्रवियों का सामना किया और लड़ते-लड़ते अपनी जान गंवा दी। शेखावाटी के रहने वाले रतनलाल विंग कमांडर अभिनंदन से प्रेरत थे। उनकी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमें उनका लुक विंग कमांडर अभिनंदन की तरह है। रतन लाल एक जांबाज और जिंदादिल पुलिसकर्मी थे। वह युवाओं को फौज या आर्मी में जाने के लिए प्रेरित किया करते थे।

घटनास्थल पर मौजूद चश्मदीदों का कहना है कि वह भीड़ के बीच फंस गए थे और इस दौरान वह घायल हो गए जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां उनकी मौत हो गई। खबरों के मुताबिक जिस वक्त वह ड्यूटी पर तैनात थे। उस समय उनको बुखार था लेकिन रतन लाल ने स्वास्थ्य की चिंता छोड़ दिल्लीवासियों की सुरक्षा में अपने प्राण न्यौछावर कर दिए।

रतन लाल की मौत की खबर उनके परिवार वालों को टीवी चनैल पर समाचार के जरिए मिली। राजस्थान के सीकर जिले के फतेहपुर तिहवाली गाँव के निवासी रतन लाल 1998 में दिल्ली पुलिस में शामिल हुए। उन्होंने 2004 में जयपुर की रहने वाली पूनम से शादी की। उनके परिवार में पत्नी पूनम, एक बारह साल की बेटी, एक दस साल की बेटी और सात साल का बेटा है।

रतन लाल को जानने वाले बताते हैं कि वह शांतिप्रिय व्यक्ति थे और हिंसा और विवादों  से काफी दूर रहते थे। रतन लाल के भाई बताते हैं कि वह काफी सरल स्वभाव के थे और कभी किसी के साथ बुरा बर्ताव नहीं करते थे।

बता दें कि  नागरिकता संशोधित कानूून के खिलाफ  प्रदर्शन कर रहे लोगों और इस कानून के समर्थकों के बीच हिंसा भड़कने से अबतक कुल सात लोगों की मौत हो गई हैं। 7 लोगों में एक पुलिसकर्मी समेत 6 अन्य लोग शामिल हैं। दिल्ली में कानून व्यवस्था बहाल करने के लिए मंगलवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और देश के गृहमंत्री अमित शाह के बीच बैठक हुई। इस घटना के बाद से पुलिस सक्रिय है और किसी भी अफवाह पर ऐतबार नहीं करने की हिदायत दी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मेलानिया ट्रम्प ने दिल्ली स्कूल का किया दौरा, ‘हैप्पीनेस क्लास’ को बताया प्रेरणादायक, जानिए क्या है इन कक्षाओं की खासियत, जिसकी मुरीद हुई अमेरिका की फर्स्ट लेडी
2 Kerala State Lottery Today Results announced: लॉटरी के रिजल्‍ट जारी, कहीं SY-533585 टिकट नंबर आपका तो नहीं
3 सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा स्वाइन फ्लू का कहर, 6 जज बीमार; चीफ जस्टिस ने जजों और वकीलों से संक्रमण के रोकथाम पर चर्चा की
ये पढ़ा क्या?
X