ताज़ा खबर
 

दिल्ली पुलिस की क्लास लगाने के बाद ट्रांसफर क‍िए गए जज की सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्‍ट‍िस ने की तारीफ, कहा- तमिल होने के चलते न‍ियुक्‍त‍ि के वक्‍त भी हुआ था व‍िरोध

Delhi Violence: जजों के तबादले पर बढ़ती तकरार के बीच देश के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने 12 फरवरी को जस्टिस एस. मुरलीधर के तबादले की सिफारिश की थी।

SC, HC, Delhi Violence, Delhi News दिल्ली में हुई हिंसा पर सुनवाई कर रहे दिल्ली हाईकोर्ट के जज जस्टिस एस मुरलीधर का बुधवार को ट्रांसफर कर दिया गया।

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर दिल्ली में हुई हिंसा पर सुनवाई कर रहे दिल्ली हाईकोर्ट के जज जस्टिस एस मुरलीधर का बुधवार को ट्रांसफर कर दिया गया। वह अब हरियाणा और पंजाब हाईकोर्ट के जज होंगे। उनके ट्रांस्फर को लेकर कई दिग्गजों की प्रतिक्रियाएं सामने आई हैं। पूर्व मुख्य न्यायाधीश मार्कंडेय काटजू ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

उन्होंने जस्टिस मुरलीधर की तारीफ में एक ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है ”मुझे जस्टिस मुरलीधर को इस तरह काम करते हुए देखकर खुशी हो रही है। मैंने उन्हें दिल्ली हाईकोर्ट का का जज नियुक्त किया था (जब मैं वहां मुख्य न्यायाधीश था)। आप मेरी पहले की भी फेसबुक पोस्ट देख सकते हैं जहां मैंने बताया है कि कैसे उनके तमिल होने की वजह से उनकी नियुक्त को लेकर विरोध का सामना करना पड़ा था।”

बता दें कि दिल्ली में हुई हिंसा पर सुनवाई कर रहे जस्टिस एस मुरलीधर और जस्टिस तलवंत सिंह ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाई थी। इसके अलावा उन्होंने भाजपा के तीन नेताओं पर भड़काऊ भाषण देने पर मामला दर्ज करने में नाकामी को लेकर रोष जताया था। कोर्ट ने कहा था कि शहर में काफी हिंसा हो चुकी है और हम नहीं चाहते कि अदालत के रहते 1984 का दंगा एक बार फिर से दोहराया जाए।

दिल्ली हिंसा से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

वहीं, जजों के तबादले पर बढ़ती तकरार के बीच देश के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने 12 फरवरी को जस्टिस एस. मुरलीधर के तबादले की सिफारिश की थी। इसके बाद पूरी कानूनी प्रक्रिया के बाद ट्रांसफर के आदेश जारी किए गए हैं।उन्होंने आगे लिखा कि जज का ट्रांसफर करते समय जज की सहमति ली जाती है। तबादले के दौरान सभी प्रक्रियाओं का पालन किया गया है।

दिन भर अस्पताल आते रहे खून से लथपथ लोग, सड़कों पर रहा भीड़ का राज, पुलिस रही खामोश

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तीन दिन में नीतीश का दूसरा मास्टरस्ट्रोक, NRC पर ना के बाद विधानसभा से पारित कराया जातीय जनगणना का प्रस्ताव
2 कमलनाथ के मंत्री का दर्द- अपनी पसंद से किसी अफसर की पोस्टिंग भी नहीं कर सकते, ‘कुछ लोगों ने किचेन कैबिनेट पर कर रखा है कब्जा’
3 दिल्ली में हिंसा फैलाने यूपी से भी आए थे लोग, व्हाट्सअप ग्रुप से शेयर हो रहे थे नफ़रत वाले वीडियो, 18 FIR, 106 गिरफ्तार
ये पढ़ा क्या?
X