ताज़ा खबर
 

Delhi Violence, CAA Protest Updates: दंगाग्रस्त उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सामान्य हो रही स्थिति, सड़कों पर दिखी चहल-पहल

Delhi Violence over CAA Protest News Updates, Maujpur, Bhajanpura, Jaffrabad Updates: सीएए विरोध से शुरू हुई दिल्ली हिंसा में अभी तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है। हिंसाग्रस्त इलाकों में अभी भी तनाव बना हुआ है। हालांकि स्थिति धीरे-धीरे सामान्य हो रही है।

Author Edited By मोहित नई दिल्ली | Updated: Mar 01, 2020 9:09:41 am
पूर्वोत्तर दिल्ली में हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं। (Photo: ANI)

Delhi Violence Over CAA Protest Today Latest News Updates: नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में स्थिति सामान्य हो रही है। जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर और सीलमपुर इलाके में काफी दिनों बाद लोग सड़कों पर दिखे। कहीं अखबार वाले साइकिल पर अखबार बेचते नजर आए तो कुछ लोग ऑफिस जाने के लिए सड़कों पर गाड़ियों का इंतजार करते दिखे। सड़क पर पुलिस की जिप्सी भी दिखी। हालांकि लोग थोड़े सहमे-सहमें से जरूर दिखाई दे रहे हैं।

सुरक्षार्किमयों की व्यापक गश्त के बीच खुलीं कुछ दुकानों से किराने का सामान और दवाइयां खरीदने के लिए लोग अपने घरों से बाहर निकले। वहीं दूसरी ओर दक्षिण दिल्ली में साम्प्रदायिक दंगे के बारे में फर्जी कॉल करने वाले व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दिल्‍ली के नए पुलिस आयुक्‍त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि दंगाइयों के खिलाफ हत्‍या के मामले दर्ज होंगे। उन्होंने कहा कि ऐसा करने पर वह भविष्य में दोबारा दंगे करने की हिम्मत नहीं करेंगे। वहीं उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा के मद्देनजर स्कूल सात मार्च तक बंद रहेंगे। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। बता दें कि इससे पहले सीबीएसई ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा के चलते 10वें और 12वीं के एग्जाम को टाल दिया था।

दिल्ली हिंसा से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

Live Blog

Highlights

    08:17 (IST)01 Mar 2020
    सड़कों पर चहल-पहल

    नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में स्थिति सामान्य हो रही है। जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर और सीलमपुर इलाके में काफी दिनों बाद लोग सड़कों पर दिखे। कहीं अखबार वाले साइकिल पर अखबार बेचते नजर आए तो कुछ लोग ऑफिस जाने के लिए सड़कों पर गाड़ियों का इंतजार करते दिखे। सड़क पर पुलिस की जिप्सी भी दिखी। हालांकि लोग थोड़े सहमे-सहमें से जरूर दिखाई दे रहे हैं।

    07:08 (IST)01 Mar 2020
    एनएचआरसी ने उत्तरपूर्वी दिल्ली में हिंसा की जांच के लिए तथ्यान्वेषी दल नियुक्त किया

    राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा के मामलों की जांच करने के लिए तथ्यान्वेषी दल का गठन किया है। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी के अनुसार, ‘‘एनएचआरसी ने उत्तरपूर्वी दिल्ली में हिंसा की जांच के लिए तथ्यान्वेषी दल नियुक्त किया है।’’ बयान में कहा गया है, ‘‘राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने दिल्ली में और विशेष रूप से उत्तर-पूर्व जिले में हिंसा का संज्ञान लिया है, जैसा कि मीडिया में रिपोर्ट किया गया है, और अपने महानिदेशक (जांच) को निर्देश दिया था कि इन घटनाओं के कारण मानवाधिकारों के उल्लंघन के आरोपों की मौके पर जांच करने के लिए तथ्यान्वेषी दल को तैनात करें।’’

    06:53 (IST)01 Mar 2020
    दक्षिण दिल्ली में साम्प्रदायिक दंगे के बारे में फर्जी कॉल करने वाला व्यक्ति गिरफ्तार

    दक्षिण दिल्ली के नेब सराय इलाके में साम्प्रदायिक दंगे के बारे में फर्जी कॉल करने के आरोप में 19 वर्षीय एक युवक को शनिवार को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने बताया कि आरोपी राहुल कुमार सैनिक फार्म इलाके का रहने वाला है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात को पुलिस को नेब सराय इलाके में दो समुदायों के बीच झगड़ा होने की सूचना देने वाला एक कॉल आया। फोन करने वाले व्यक्ति ने दावा किया कि इसमें तीन लोग घायल हो गए हैं।

    22:01 (IST)29 Feb 2020
    कुल 167 एफआईआर दर्ज, 885 लोगों को हिरासत में लिया गया

    दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी है कि शनिवार को पीसीआर पर हिंसा से जुड़ी कोई कॉल नहीं आई। कुल 167 एफआईआर दर्ज की गईं हैं जिनमें 36 मामले आर्म्स एक्ट के तहत दर्ज किए गए हैं। 885 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

    21:37 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के कर्मियों ने लोगों को किया प्रोत्साहित

    दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के कर्मियों ने हिंसा प्रभावित इलाकों में लोगों को अपनी दुकानें खोलने के लिए प्रोत्साहित किया और शांति तथा सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने की अपील की। सुरक्षार्किमयों ने जाफराबाद में फ्लैग मार्च किया और मौजपुर तथा फिर नूर-ए-इलाही, यमुना विहार और भजनपुरा की संकरी गलियों में गए, जहाँ इस सप्ताह के शुरू में भीड़ ने दुकानों, मकानों और वाहनों में तोड़फोड़ की और उनमें आग लगा दी थी।

    21:22 (IST)29 Feb 2020
    जनजीवन धीरे-धीरे हो रहा सामान्य

    उत्तर-पूर्वी दिल्ली के दंगाग्रस्त इलाकों में शनिवार को स्थिति शांतिपूर्ण रही। इन क्षेत्रों में अब जनजीवन धीरे-धीरे पटरी पर लौटने लगा है। सुरक्षार्किमयों की व्यापक गश्त के बीच खुलीं कुछ दुकानों से किराने का सामान और दवाइयां खरीदने के लिए लोग अपने घरों से बाहर निकले। स्थानीय निवासी इस सप्ताह की शुरुआत में इलाके में हुए सांप्रदायिक दंगों में पहुंचे नुकसान से धीरे-धीरे उबरने की कोशिश कर रहे हैं।

    20:54 (IST)29 Feb 2020
    केजरीवाल अबतक दंगे में मारे गए अंकित शर्मा के घर नहीं गए: कपिल मिश्रा

    उत्तरपूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक दंगों से पहले कथित रूप से भड़काऊ भाषण देने के लिए आलोचना का सामना कर रहे भाजपा नेता कपिल मिश्रा और हिंसा के शिकार कुछ पीड़ितों के परिवारों ने शनिवार को कनॉट प्लेस में ‘‘जिहादी आतंकवाद’’ के खिलाफ शांति मार्च निकाला। शांति मार्च के दौरान मीडिया से बात करते हुए कपिल मिश्रा ने सीएम केजरीवाल पर निशाना साधा और कहा कि वह अभी तक दंगे में मारे गए अंकित शर्मा के घर नहीं गए हैं, जबकि वह दादरी में मोहम्मद अखलाक के घर गए थे। भाजपा नेता कपिल मिश्रा इस दौरान लोगों के बीच बैठे रहे। वहीं मंच पर दिल्ली दंगों में मारे गए अंकित शर्मा, दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल और विनोद की तस्वीरें लगी हुई थीं। बता दें कि दिल्ली में हिंसा भड़कने के बाद कपिल मिश्रा पर भड़काऊ बयान देने का आरोप लगा था।

    20:29 (IST)29 Feb 2020
    सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया मुआवजे का एलान

    सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दिल्ली हिंसा में अपनी जान गंवाने वाले पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले दलबीर सिंह के परिवार को 5 लाख रुपये का मुआवाज देने का एलान किया।

    19:51 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली में भड़की हिंसा में अबतक 42 लोगों की मौत

    सप्ताह की शुरुआत में उत्तरपूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा में 42 लोगों की मौत हुई और 200 से अधिक लोग घायल हो गये। उग्र भीड़ ने मकानों, दुकानों, वाहनों, एक पेट्रोल पम्प को फूंक दिया और स्थानीय लोगों तथा पुलिस र्किमयों पर पथराव किया। यह तीन दशक में सबसे भयानक दंगा था।

    19:22 (IST)29 Feb 2020
    एनएचआरसी ने जांच के लिए तथ्यान्वेषी दल नियुक्त किया

    एनएचआरसी ने उत्तरपूर्वी दिल्ली में हिंसा की जांच के लिए तथ्यान्वेषी दल नियुक्त किया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

    18:41 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा पर सीएम केजरीवाल ने दी ये बड़ी जानकारी

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि हमने सभी संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक की। आज दिल्ली के किसी भी हिस्से से हिंसा की कोई घटना सामने नहीं आई है। हमारी पहली प्राथमिकता जल्द से जल्द सामान्य स्थिति बहाल करना है।

    18:32 (IST)29 Feb 2020
    'परीक्षाएं आयोजित कराने के लिए स्थिति अनुकूल नहीं'

    उत्तरपूर्वी दिल्ली में हिंसा के मद्देनजर सात मार्च तक स्कूल बंद रहेंगे। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। अधिकारियों के अनुसार हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में परीक्षाएं आयोजित कराने के लिए स्थिति अनुकूल नहीं है इसलिए वार्षिक परीक्षाओं को भी स्थगित कर दिया गया है।

    17:21 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा में अबतक 160 एफआईआर दर्ज

    दिल्ली हिंसा में अबतक 160 एफआईआर दर्ज कर ली गई है। दंगा, आगजनी और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने की एफआईआर दर्ज की गई हैं। वहीं 7 मार्च तक उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा के मद्देनजर स्कूल बंद रहेंगे।

    17:03 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली की स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने जीटीबी अस्पताल का दौरा किया

    दिल्ली की स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने जीटीबी अस्पताल का दौरा किया। उन्होंने कहा 'मैं यहां घायलों से मिलने आया था। 45 मरीज अभी भी यहां भर्ती हैं। हर कोई अब स्थिर है। दिल्ली सरकार की ओर पीड़ितों को मुआवजा दिया जा रहा है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।'

    16:47 (IST)29 Feb 2020
    हिंसा में मारे गए पुलिस कॉन्स्टेबल, आईबी अधिकारी के परिवार को एक महीने का वेतन देंगे भाजपा सांसद

    घृणा भाषण देने के आरोपी भाजपा सांसद प्रवेश शर्मा ने शनिवार को कहा कि वह उत्तरपूर्वी दिल्ली में हुई सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए पुलिसकर्मी और खुफिया विभाग के कर्मी दोनों के परिवारों को अपना एक माह का वेतन देंगे। लोकसभा में पश्चिमी दिल्ली का प्रतिनिधित्व करने वाले वर्मा ने कहा, ‘‘मैं बतौर सांसद, दिल्ली में हुई दुर्भाग्यपूर्ण हिंसा में ड्यूटी के दौरार मारे गए दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल और आईबी अधिकारी अंकित शर्मा के परिवारों के लिए अपने एक माह का वेतन सर्मिपत करता हूं।’’

    16:15 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली पुलिस कर रही है एकतरफा कार्रवाई: कांग्रेस

    कांग्रेस ने दिल्ली में हिंसा के बाद पुलिस पर एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया और कहा कि उच्चतम न्यायालय को इन मामलों का संज्ञान लेना चाहिए तथा एक न्यायमित्र की नियुक्ति करनी चाहिए। पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने यह दावा भी किया कि हालात अभी सामान्य नहीं हुए हैं और लोगों में अब भी भय का माहौल है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, देश के अंदर और दिल्ली में हाल के घटनाक्रमों से कुछ बुनियादी सवाल उठते हैं। विरोध करना लोगों का अधिकार है। शासन-प्रशासन का रवैया चिंताजनक है।

    15:50 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली मेट्रो ट्रेन के भीतर लगे सीएए के समर्थन में नारे

    दिल्ली मेट्रो की ब्लू लाइन पर एक ट्रेन में और राजीव चौक स्टेशन पर शनिवार को कुछ युवाओं ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के समर्थन में नारे लगाए। उन्होंने ‘‘देश के गद्दारों को, गोली मारो...’’ जैसा नारा भी लगाया। भगवा रंग की टी-शर्ट और कुर्ते पहने पांच से छह व्यक्तियों ने उस समय नारे लगाने शुरू कर दिए जब ट्रेन स्टेशन पर रुकने ही वाली थी। ट्रेन से उतरने के बाद भी इन लोगों ने सीएए के समर्थन में और ‘‘देश के गद्दारों को, गोली मारो...’’ जैसे नारे लगाए। इस नारेबाजी से ये लोग यह संदेश देने की कोशिश कर रहे थे कि देश का युवा बाहर निकलकर सीएए का समर्थन कर रहा है।

    15:15 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली मेट्रो स्टेशन पर लगा 'देश के गद्दारों को...' नारा

    शनिवार दोपहर दिल्ली के राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर 6 युवकों द्वारा 'देश के गद्दारों को...' नारा लगाने का मामला सामने आया है। दिल्ली मेट्रो के सुरक्षा अधिकारियों ने आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। इसके बाद आरोपियों को राजीव चौक मेट्रो पुलिस स्टेशन ले जाया गया है। जहां लड़कों से पूछताछ की जा रही है।

    14:49 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा में पत्थर लगने से हुई 22 लोगों की मौत

    उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में जो आंकड़े सामने आए हैं, उनके मुताबिक 22 लोगों की मौत पत्थर लगने के कारण हुई। वहीं 13 लोग दंगों के दौरान हुई फायरिंग का शिकार हुए। दिल्ली हिंसा में 42 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से 35 की पहचान कर ली गई है।

    14:44 (IST)29 Feb 2020
    हिंसा भड़काने के आरोप में कांग्रेस की पूर्व निगम पार्षद इशरत जहां गिरफ्तार

    दिल्ली हिंसा भड़काने के आरोप में पुलिस ने पूर्व निगम पार्षद इशरत जहां को गिरफ्तार किया है। इशरत जहां जगतपुरी इलाके की पूर्व निगम पार्षद रही हैं। पुलिस के मुताबिक पूर्व पार्षद पर दिल्ली के खुरेंजी इलाके में हिंसा भड़काने का आरोप है।

    14:05 (IST)29 Feb 2020
    उत्तर प्रदेश पुलिस की तर्ज पर जुर्माना वसूलेगी दिल्ली पुलिस

    उत्तर प्रदेश पुलिस की तर्ज पर अब दिल्ली पुलिस भी दंगाइयों से सार्वजनिक और निजी संपत्ति को हुए नुकसान का हर्जाना वसूल सकती है। कुछ पुलिस अधिकारियों ने पहचान जाहिर ना करने की शर्त पर यह जानकारी दी है। बता दें कि सीएए को लेकर दिल्ली में बीते दिसंबर में हुई हिंसा के बाद भी उपद्रवियों से हर्जाना वसूले जाने की बात कही गई थी। अब दंगों में हुई हिंसा के बाद भी ऐसी ही कार्रवाई हो सकती है।

    पुलिस अधिकारी ने बताया कि क्राइम ब्रांच की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम और लोकल पुलिस को इस संबंध में निर्देश जारी किए जा चुके हैं। फिलहाल नुकसान का आकलन किया जा रहा है। इससे पहले उत्तर प्रदेश पुलिस ने भी दिसंबर में सीएए के विरोध में हुई हिंसा के दौरान ऐसी ही कार्रवाई की थी और दोषी पाए गए लोगों की संपत्ति कुर्क करने के आदेश जारी किए थे।

    13:36 (IST)29 Feb 2020
    रविशंकर प्रसाद ने विपक्षी पार्टियों पर साधा निशाना, बोले- हमें सेक्यूलरिज्म ना सिखाएं

    केन्द्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान विपक्षी पार्टियों पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि "मैं अपने लिबरल वामपंथी दोस्तों को कहना चाहता हूं कि हमें हराएं और अपनी सरकार बना लें। आप हमें सेक्यूलरिज्म, समावेश और मानवाधिकार नहीं सिखा सकते। क्या आपने कभी आतंकवाद के शिकार लोगों के मानवाधिकार की बात की या फिर कट्टरपंथी हिंसा के शिकार लोगों के मानवाधिकार की बात की? कभी नहीं।"

    13:08 (IST)29 Feb 2020
    कपिल मिश्रा ने साधा सीएम केजरीवाल पर निशाना

    भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने जंतर मंतर पर निकाले शांति मार्च के दौरान  मीडिया से बात करते हुए सीएम अरविंद केजीरवाल पर निशाना साधा है। मिश्रा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल दादरी में मोहम्मद अखलाक के घर गए थे, लेकिन वह अभी तक अंकित शर्मा के घर नहीं जा सके हैं। 

    12:29 (IST)29 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा में मृतकों की संख्या 42 हुई, शुक्रवार को एक बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या

    दिल्ली हिंसा में मरने वाले लोगों की संख्या 42 तक पहुंच गई है। अभी भी बड़ी संख्या में लोग घायल हैं। शुक्रवार को भी एक बुजुर्ग की अज्ञात लोगों द्वारा पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। 

    11:41 (IST)29 Feb 2020
    सीएए के मुद्दे पर मेघायल में भड़की हिंसा में एक की मौत

    नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में जारी विरोध प्रदर्शन अब देश के उत्तर पूर्वी इलाकों में भी पहुंच गए हैं। दरअसल उत्तर पूर्वी राज्य मेघायल में सीएए के मुद्दे पर खासी छात्र संघ के सदस्यों और गैर-आदिवासियों के बीच झड़प की खबर है। इस झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई है। जिसके बाद मेघालय पुलिस ने एहतियातन शिलांग एग्लोमरेशन और आसपास के इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया है और पूर्वी रेंज के 6 जिलों में इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं।

    11:36 (IST)29 Feb 2020
    भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने जंतर मंतर पर निकाला शांति मार्च

    दिल्ली हिंसा को लेकर भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने जंतर मंतर पर शांति मार्च निकाला है। इस दौरान दंगों में मारे गए लोगों अंकित शर्मा, रतनलाल आदि की तस्वीरें भी मार्च में दिखाई दी। बता दें कि कपिल मिश्रा पर भड़काऊ बयान देने का आरोप है, जिसके बाद जाफराबाद में हिंसा भड़की। 

    11:29 (IST)29 Feb 2020
    सोशल मीडिया की निगरानी करेगी दिल्ली सरकार, भड़काऊ पोस्ट पर हो सकती है कार्रवाई

    दिल्ली सरकार से जुड़े सूत्रों ने बताया है कि व्हाट्सएप पर भड़काऊ पोस्ट सर्कुलेट की जा रही हैं। यदि कोई व्यक्ति ऐसी पोस्ट को सर्कुलेट करता पाया जाता है तो उसके खिलाफ शिकायत मिलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऐसी शिकायतों के लिए सरकार ने एक अधिकारी को इन शिकायतों पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं और जरुरी कदम उठाने को कहा है।

    10:51 (IST)29 Feb 2020
    मेघायल के इन 6 जिलों में बंद हुआ इंटरनेट

    अधिकारियों ने बताया कि राज्य के छह जिलों पूर्वी जयंतिया हिल्स, पश्चिम जयंतिया हिल्स, पूर्वी खासी हिल्स, री भोई, पश्चिमी खासी हिल्स और दक्षिण पश्चिम खासी हिल्स में शुक्रवार रात से 48 घंटों के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई। एक आधिकारिक आदेश में बताया गया कि शिलॉन्ग और आसपास के इलाकों में 28 फरवरी को रात दस बजे से 29 फरवरी को सुबह आठ बजे तक कर्फ्यू लगाया गया।

    10:34 (IST)29 Feb 2020
    ये है मेघायल में हिंसा भड़कने की वजह

    खबर के अनुसार, खासी छात्र संघ के सदस्य सीएए का विरोध कर रहे हैं। वहीं स्थानीय गैर आदिवासी ग्रामीण पूर्वी खासी हिल्स के शेल्ला के इचामती गांव में पूरे राज्य के लिए इनर लाइन परमिट की मांग कर रहे हैं। दोनों गुटों के बीच बातचीत हो रही थी। इसी दौरान किसी बात पर झड़प शुरू हो गई और फिर इसने हिंसा का रूप ले लिया। खासी छात्र संघ के एक सदस्य और एक पुलिस अधिकारी इस झड़प के दौरान गंभीर रूप से घायल हो गए, बाद में केएसयू के सदस्य ने दम तोड़ दिया। इससे केएसयू के लोग भड़क गए और उन्होंने गैर आदिवासियों पर पथराव कर दिया। इसके बाद प्रशासन ने कर्फ्यू लगा दिया।

    Next Stories
    1 पीएम की तारीफ करने वाले जज ने सुप्रीम कोर्ट में चुटकी लेकर कसा आलोचकों पर तंज, कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी कर रहे थे बहस
    2 चार दिन में लोगों ने किए 13,200 कॉल, पर दिल्ली पुलिस ने समय पर नहीं लिया एक्शन, इंतजार करते रहे लोग, जलती रही दिल्ली
    3 CAA, NRC, NPR पर बोले तुषार गांधी- तब बापू को मारा, आज भारत मां को मार रहे तीन गोलियां
    Coronavirus LIVE:
    X