दिल्ली दंगाः कोर्ट में खालिद सैफी ने कहा, गैरकानूनी हो तो सलाम कहना भी छोड़ दूंगा, पेपर बर्बाद करने के लिए पुलिस पर करूंगा केस

दिल्ली दंगा मामले में आरोपी खालिद सैफी ने कोर्ट में कहा कि अगर सलाम कहना भी गैरकानूनी है तो वह उसे भी छोड़ देंगे।

2020 में दिल्ली में हुए दंगे के दौरान की तस्वीर। फोटो- एक्सप्रेस By अमित मेहरा

दिल्ली दंगा मामले में आरोपी खालिद सैफी ने कोर्ट में कहा है कि अगर सलाम बोलना ही गैरकानूनी हो तो वह इसे भी छोड़ने को तैयार हैं। दरअसल पुलिस ने जेएनयू स्टूडेंट शरजील इमाम को लेकर कहा था कि उन्होंने अपने भाषण से पहले ‘अस्सलाम अलैकुम’ का इस्तेमाल किया जो कि एक समुदाय को संबोधित करने का तरीका है, न कि सभी को। अडिशनल सेशन जज अमिताभ रावत के सामने, उमर खालिद ने कहा कि दिल्ली पुलिस इस तरह की बातें कर रही है तो क्या हमें अब सलाम करना छोड़ देना चाहिए?

उन्होंने कहा कि झूठे आरोप लगाने में दिल्ली पुलिसन ने लाखों पेज बर्बाद गिए हैं इसलिए उसके खिलाफ एनजीटी में केस करूंगा। उन्होंने कहा कि षड्यंत्र के मामले में दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट फाइल करने में 20 लाख कागज बर्बाद किए हैं। जमानत मिलते ही मैं एनजीटी में पुलिस के खिलाफ केस करूंगा। बता दें कि सैफी समेत अन्य कई लोगों पर आतंक रोधी कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है। उनपर दिल्ली में हुई हिंसा में मुख्य भूमिका निभाने का आरोप है। पिछले साल फरवरी में हुई हिंसा में 53 से ज्यादा लोग मारे गए थे और सैकड़ों लोग घायल हो गए थे।

ASJ रावत ने उनकी बात पर कहा कि यह अभियोजन पक्ष का तर्क था, ऐसी कोई भी बात कोर्ट की तरफ से नहीं कही गई थी। बता दें कि दिल्ली दंगा मामले में साजिश के आरोप में जिनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया था उनमें उमर खालिद, नताशा नरवाल औऱ देवांगना कलीता भी शामिल हैं। आप पार्षद ताहिर हुसैन भी इस मामले में आरोपी थे।

एक और आरोपी बरी
उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में कोर्ट अब तक कई आरोपियों को बरी कर चुका है। गुरुवार को भी कोर्ट ने एक आरोपी को बरी करते हुए कहा कि यह विषय संवेदनशील है लेकिन व्यावहारिक बुद्धि का भी इस्तेमाल करना जरूरी है। सेशन जज विनोद यादव ने जावेद नाम के शख्स को बरी कर दिया है।

चार लोगों की शिकायत के आधार पर 22 साल के जावेद को गिरफ्तार किया गया था। उसपर आग लगाने का आरोप था। इस मामले में कोई सीसीटीवी फुटेज या चश्मदीद गवाह नहीं मिला था। हालांकि वह अभी एक ही आरोप से बरी हुआ है। दंगे के आरोप, चोरी और अन्य मामलों में अभी उसपर केस चलेगा।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।