ताज़ा खबर
 

राजधानी एक्‍सप्रेस पटरी से उतरी, पीयूष गोयल के रेलमंत्री बनने के बाद एक दिन में दूसरा हादसा

ये हादसा करीब पौने बारह बजे हुआ है। हादसे में अबतक किसी के घायल होने की खबर नहीं है।
रांची-दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस का इंजन पटरी से उतर गया। फोटो-पीटीआई

देश की प्रीमियम ट्रेनों में शुमार राजधानी एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। झारखंड की राजधानी रांची से दिल्ली आ रही राजधानी एक्सप्रेस दिल्ली के शिवाजी ब्रिज के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। ट्रेन का इंजन और पावर कार पटरी से नीचे उतर गया। ये हादसा करीब पौने बारह बजे हुआ है।हादसे में अबतक किसी के घायल होने की खबर नहीं है। रेलवे से राहत और बचाव का काम शुरू कर दिया है। दिल्ली में ही होने की वजह से रेस्क्यू टीम तुरंत घटनास्थल पर पहुंच गई है। लेकिन मेन लाइन पर हादसा होने की वजह से इस रूट पर ट्रेनों का परिचालन बंद करना पड़ा है। हादसे की वजह से कई ट्रेनों के टाइम टेबल पर भी असर पड़ने की आशंका है। हादसे के बाद यात्री पैदल ही अपने-अपने घरों की ओर जा रहे हैं। हालांकि शिवाजी ब्रिज के बाहर ही ऑटो, टैक्सी और डीटीसी की बसें उपलब्ध हैं।

इससे पहले आज सुबह ही उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के पास गुरुवार को शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे पटरी से उतर गए थे। हादसे में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। रेल अधिकारियों के मुताबिक, यह दुर्घटना सुबह करीब छह बजे ओबरा के निकट हुई। रेलगाड़ी पश्चिम बंगाल के हावड़ा से मध्य प्रदेश के जबलपुर जा रही थी। पूर्वी मध्य रेलवे के प्रवक्ता राजेश कुमार ने आईएएनएस को बताया कि प्रभावित डिब्बों में फंसे सभी यात्रियों को रेलगाड़ी के अन्य डिब्बों में स्थानांतरित करके मध्यप्रदेश के सिंगरौली पहुंचाया गया है। कुमार ने कहा, “रेलगाड़ी यात्रियों के साथ सुबह करीब 7.30 बजे दुर्घटना स्थल से रवाना कर दी गई।” उन्होंने कहा, “महाप्रबंधक और अन्य शीर्ष अधिकारी दुर्घटनास्थल पर तत्काल पहुंच गए और रेल यातायात को बहाल करने का काम जारी है।” हादसे का कारण अभी स्पष्ट नहीं है। लेकिन घटनास्थल पर पटरियों के टुकड़े मिले हैं। कुमार ने कहा, “मामले की जांच जारी है। हम जांच पूरी होने के बाद ही इस पर कुछ कह सकते हैं।” यह एक महीने में चौथा और सोमवार को पीयूष गोयल के रेल मंत्री का पद संभालने के बाद पहला रेल हादसा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App